श्रमिकों के साथ सामान्य लोगों को मिलेगी चिकित्सा सुविधा : श्रम एवं रोजगार राज्यमंत्री संतोष कुमार गंगवार

National News : Normal people will be with workers Medical Facilities - Minister of State for Labor and Employment Santosh Kumar Gangwar

ई.एस.आई.अस्पताल में 100 करोड़ की लागत के नए भवन का शिलान्यास

बीकानेर। श्रम एंव रोजगार मंत्री संतोष गंगवार ने कहा कि पूरे देश के मजदूरों की चिकित्सा सुविधा के लिए हम प्रयासरत है। इस इसएसआईसी हास्पिटल से स्थानीय मजदूरेां को चिकित्सा सुविधा मिलेगी जिससे उनको फायदा मिलेगा। गंगवार सेामवार को 150 करोड़ रुपये की लागत से बने एक सौ बैड के इसएसआईसी हास्पिटल की आधारशिला व भूमि पूजन अवसर पर पत्रकारेां से बातचीत कर रहे थे।

गडकरी ने कहा कि अब भारत बदल रहा , बीकानरे को मिलें तीन नए राष्ट्रीय राजमार्ग
उन्होने कहा कि बीकानेर संभाग में पहले इएसआईसी 100 बैड के अस्पाल की आधारशिला रखी है यहा पर अभी 30 बैड की सुविधा दी जा रही है इसके बाद यंहा पर एक सौ बैड की सुविधा मिलने लगेगी। यंहा पर औधोगिक कल कारखानों में काम करने वाले श्रमिकेां के साथ साथ स्थानीय नागरिकेां को भी यंहा पर चिकित्सा सुविधा मिलेगी।
उन्होने कहा कि केंद्र सरकार का प्रयास है कि सभी को रोजगार अच्छे स्तर का मिले इसके लिए सभी मिलकर प्रयास कर रहें है।

केंद्रीय मंत्री के प्रयासों से बीकानेर – इन्दौर के बीच सीधी ट्रेन महामना एक्सप्रेस शुरु
गजनेर रोड पर जवाहर पार्क पर स्थित ई.एस.आई. अस्पताल में सोमवार को केन्द्रीय श्रम और रोजगार राज्यमंत्री संतोष कुमार गंगवार, संसदीय मामले जल संसाधन,नदी विकास एवं गंगा संरक्षण राज्यमंत्री अर्जुन राम मेघवाल के मुख्य आतिथ्यि में तथा प्रदेश के श्रम विभाग,कारखाना और बायलर्स निरीक्षण विभाग सहकारिता एवं इंदिरा गांधी नहर परियोजना मंत्री टीकाराम जूली की अध्यक्षता में बनने वाले अस्पताल भवन का शिलान्यास किया।
मुख्य अतिथि केन्द्रीय श्रम और रोजगार राज्यमंत्री संतोष कुमार गंगवार ने शिलान्यास समारोह में कहा कि 2.44 एकड़ के क्षेत्रफल में 100 करोड़ की लागत से बनने वाले इस अस्पताल में प्रारंभ में 30 बिस्तरों का होगा। बाद में इसको 100 बिस्तारों तक विस्तारित किया जाएगा। निर्माण के बाद इस अस्पताल में बीमित व्यक्तियों को आपातकालीन, ओ.पी.डी. वार्ड, लैबोरेटरी, आपरेशन थियेटर, मातृत्व सेवाएं आदि चिकित्सा की आधारभूत सुविधाएं सुलभ होगी। इसमें पंजीकृत श्रमिकों के साथ सामान्य तबके के लोगों का भी ईलाज किया जाएगा।
केन्द्रीय मंत्री गंगवार ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी का संकल्प है कि देश के सभी नागरिकों विशेषकर श्रमिकों व गरीब तबके के लोगों को सामान्य खर्च पर बेहतर चिकित्सा सुविधा मिलें। केन्द्र सरकार के संकल्प में श्रीवृद्धि करने के लिए ही बीकानेर में ई.एस.आई. अस्पताल के विस्तार का कार्य शुरू किया गया है। उन्होंने बताया कि राजस्थान में कर्मचारी रारज्य बीमा निगम की ओर से सर्वप्रथम चार जिलों में केवल छः केन्द्रों जयपुर,जोधपुर,बीकानेर, पाली, भीलवाड़ा एवं लाखेरी में वर्ष 1956 में लागू की गई। कर्मचारी राज्य बीमा योजना प्रदेश के सभी 33 जिलों में लागू है। इस योजना में 13.98 लाख बीमाकृत व्यक्ति, परिवार ईकाइयों के 54.24 लाख लाभार्थी है।

उरी द सर्जिकल स्ट्राइक: देश के वीर बहादुर नौजवानेां के पराक्रम को दर्शाने वाली अच्छी फिल्म: केंद्रीय मंत्री मेघवाल
केन्द्रीय मंत्री ने बताया कि प्रदेश में जयपुर, भिवाड़ी एवं अलवर में कर्मचारी राज्य बीमा निगम की 3 अस्पतालों तथा जोधपुर, पाली, भीलवाड़ा एवं कोटा में योजना अस्पतालों, 74 औषधालयों 2 डी.सी.बी.के माध्यम से चिकितसा सुविधाएं सुलभ करवाई जा रही है। नव कार्यन्वित क्षेत्रों में भी 34 निजी अस्पतालों कर्मचारी राज्य बीमा निगम के माध्यम से चिकित्सा सुविधाएं उपलब्ध करवाई जा रही है। इसके अतिरिक्त बीमित व्यक्तियों उनके परिवारों को प्राथमिक, अति विशिष्ट चिकितसा उपचार के लिए 27 निजी अस्पतालों से टाई-अप किया गया है। भारत में 10.33 लाख कारखानों एवं प्रतिष्ठानों में कर्मचारी राज्य बीमा निगम की योजनाएं लागू है, जिसके माध्यम से 13.32 करोड़ लोगोें को लाभान्वित किया जा रहा है। सन 1952 में स्थापित निगम अब तक 154 अस्पतालों, 1500/148 औषधालयों/आई.एस.एम. को, 815 शाखा/भुगतान कार्यालयों एवं 64 क्षेत्रीय उप क्षेत्रीय कार्यालयों की स्थापना कर चुका है।
केन्द्रीय संसदीय मामले, जल संसाधन, नदी विकास एवं गंगा संरक्षण राज्य मंत्री और सांसद अर्जुन मेघवाल ने अतिथियों का स्वागत करते हुए कहा कि बीकानेर में इस अस्पताल के खुलजाने से श्रमिकों व उनके आश्रितों के साथ सामान्य वर्ग व तबके के लोगों को भी बेहतर चिकित्सा सुविधा सुलभ होगी।

भाजपा का मिशन 2019: केंद्रीय मंत्रियों को मिली अह्म जिम्मेदारी
प्रदेश के श्रम विभाग मंत्री टीकाराम जूली ने कहा कि अलवर में एक दसक पूर्व 800 करोड़ रुपए की बनवाई गई ई.एस.आई. की 300 बैड की अस्पताल व मेडिकल काॅलेज भवन का निर्माण करवाया गया था। अलवर के इस अस्पताल व भवन जिस उद्धेश्य से बनवाया गया था उसमें स्थिलता रहने से श्रमिकों व उनके परिजनों को वास्तविक लाभ नहीं मिल रहा है। उन्होंने अस्पताल के उद्धेश्यों की पूर्ति के लिए गति प्रदान करने, केन्द्र सरकार से संसाधन सुलभ करवाने, राज्य के सभी जिलों में ई.एस.आई. की अस्पताले खोलने की बात कही। उन्होंने कहा कि राजस्थान में जवाबदेही सरकार के रूप में लोगों को श्रेष्ठ स्वास्थ्य सेवाएं देने के लिए संकल्पबद्ध है।
समारोह में महापौर नारायण चैपड़ा, जिला उद्योग संघ के अध्यक्ष डी.पी.पच्चीसिया ने भी विचार व्यक्त किए। मंच पर पार्षद लक्ष्मण महाराज व्यास, उद्योगपति सुभाष मित्तल, बेटी बचाओं, बेटी पढ़ावों अभियान की डाॅ.मीना आसोपा, डाॅ.सत्य प्रकाश आचार्य, सहीराम दूसाद आदि मौजूद थे। कर्मचारी राज्य बीमा निगम के राष्ट्रीय और प्रदेश के अधिकारी डाॅ.आर.के.कटारिया, क्षेत्रीय निदेशक जी.सी.दर्जी, मुख्य अभियंता सुधीर दत्ता व मुकेश मीणा ने अभिनंदन किया।

बीकानेर: इंश्योरेंस के नाम पर 55 लाख रुपये की आनॅलाइन ठगी करने वाले गिरोह का भंडाभोड़

सावधान : अब आपके कंप्यूटर पर रहेगी सरकार की नजर

बीकानेर : गौतम के प्रयासों से पांच साल में पहली बार एक लाख के पार पहुंचे नरेगा श्रमिक

हर ताजा खबर जानने के लिए हमारी वेबसाइट www.hellorajasthan.com विजिट करें या हमारे फेसबुक पेजट्विटर हैंडल,गूगल प्लस से जुड़ें। हमें Contact करने के लिएhellorajasthannews@gmail.comपर मेल कर सकते है।

Leave a Reply