जब स्कूल टीचर ने जबरन उतरवाए लड़कियों के कपड़े . . .

Girls in school,National news : School teachers strips girls cloth to check sanitary pads ,

चंडीगढ। पंजाब के फाजिल्का जिले में एक सरकारी बालिका विद्यालय में शौचालय के अंदर एक फेंका हुआ सेनेटरी पैड मिलने के बाद शिक्षिकाओं ने यह देखने के लिये कुछ छात्राओं के कपड़े उतरवा दिये कि उनमें से किसने सेनेटरी पैड पहना है। इसकी शिकायत होने के बाद शिक्षा विभाग ने शिक्षिकाओं का तबादला कर दिया है।

सूत्र बतातें है कि सरकारी स्कूल की इस शर्मनाक घटना का विडियो सोशल मीडिया पर वायरल होने के बाद मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह के हस्तक्षेप के बाद दोनेां शिक्षिकाअेां का तुरंत तबादला करने और इस घटना की जांच के आदेश जारी किये।
ये है पूरा मामला
पंजाब के फाजिल्का इलाके में एक सरकारी स्कूल के शोचालय में सेनेटरी पैड के मिलने के बाद वंहा की शिक्षिकाअेां ने स्कूल में मौजूद छात्राओं के जबरदस्ती कपड़ों को उतराकर जांच की। इस मामले की सच्चाई एक विडियो के जरिये सामने आई है। सोशल मीडिया पर वायरल एक वीडियो क्लिप में कुछ लड़कियां रोते हुए यह शिकायत करती दिख रही हैं कि तीन दिन पहले कुंडल गांव में उनके विद्यालय परिसर में शिक्षिकाओं ने उन्हें निर्वस्त्र किया गया।

वंही अधिकारियों ने कहा कि शौचालय में एक सेनेटरी पैड मिलने के बाद शिक्षिकाएं यह पता लगाने का प्रयास कर रही थीं कि किस लड़की ने पैड पहना है। उन्होंने कहा कि इसके बजाए शिक्षिकाओं को छात्राओं को शिक्षित करना चाहिए था कि सेनेटरी पैड्स का सही तरीके से निस्तारण कैसे करें।

#MeTooकी तर्ज पर #MenToo: अब पुरुष भी करेंगे महिलाओं के हाथों अपने यौन शोषण का ‘खुलासा’

मुख्यमंत्री ने शिक्षा सचिव कृष्ण कुमार को निर्देश दिये हैं कि सोमवार तक व्यक्तिगत जांच पूरी कर आगे आवश्यक कार्रवाई कर अंतिम रुप देवें। जिला शिक्षा अधिकारी से विद्यालय का दौरा करने को कहा गया था और छात्राओं और उनके अभिभावकों से बात करने के बाद प्रथम दृष्टया दो शिक्षिकाओं की भूमिका के साक्ष्य मिले हैं।

इस पूरे मामले पर एसडीएम पूनम सिंह ने बताया कि स्कूल में छह छात्राओं ने बताया कि उन्हे क्लास टीचर और सीनियर छात्राअेां के सामने कपड़े उतारने को कहा गया ताकि यह पता चल सके कि उस दिन कौन सेनेटरी नैपकिन इस्तेमाल कर रहा था। इस मामले की शिकायत आई है। इस मामले की जांच के आदेश दे दिए गये है। प्रारंभिक जांच में ही दोनों शिक्षिकाअेां का स्थानांनतरण कर दिया गया है। छात्राअेां के भी इस मामले में बयान ले लिए गए है।

धर्मस्थल उपासना के नहीं, बल्कि राष्ट्रीय एकात्मकता के भी स्थल: मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ

राजस्थान विधानसभा चुनाव 2018 : फिर अपने वोटों की ताकत का अहसास कराएगा डेरा सच्चा सौदा

हर ताजा खबर जानने के लिए हमारी वेबसाइट www.hellorajasthan.com विजिट करें या हमारे फेसबुक पेजट्विटर हैंडल,गूगल प्लस से जुड़ें। हमें Contact करने के लिएhellorajasthannews@gmail.comपर मेल कर सकते है।

Leave a Reply