बीकानेर के पीबीएम अस्पताल में बनेंगी 5 हेल्प डेस्क-गौतम

5 Help Desk built in PBM Bikaner, PBM Bikaner, PBM Hospital Bikaner, Bikaner Latest News, Health News,

Bikaner News @ Hello Rajasthan। सरदार पटेल मेडिकल काॅलेज से सम्बद्ध पीबीएम अस्पताल (PBM Hospital) में आने वाले मरीजों की सहायता के लिए पांच स्थानों पर हेल्पडेस्क (Help Desk) बनाए जाएंगे। कलेक्ट्रेट सभागार में बुधवार को आयोजित बैठक में जिला कलक्टर कुमार पाल गौतम ने इसके लिए नगर निगम आयुक्त प्रदीप के गवांडे को निर्देश देते हुए कहा कि मेडिकल काॅलेज प्राचार्य तथा पीबीएम अस्पताल अधीक्षक के साथ मिलकर हेल्पडेस्क लगाने के स्थानों का चिन्हीकरण करेंगे। इन हेल्पडेस्क पर चिकित्सक, वार्ड, दवा उपलब्धता सेंटर सहित विभिन्न सूचनाएं उपलब्ध रहेंगी। उन्होंने कहा कि यह सुनिश्चित किया जाए कि मरीज अस्पताल में चिकित्सक के नाम, दवा केन्द्र, वार्ड आदि की सूचना के लिए भटकते ना रहें।


परिवादी को दें रसीद
जिला कलेक्टर कुमार पाल गौतम ने कहा कि सभी विभागों के अधिकारी यह सुनिश्चित करें कि उनके यहां आने वाले परिवादियों के प्रकरण तुरंत दर्ज किए जाएं तथा दर्ज किए प्रकरण के बाद रसीद दी जाए, जिससे परिवादी ऑनलाइन अपने प्रकरण की स्थिति के बारे में जानकारी ले सकें। संपर्क पोर्टल पर कई प्रकरण 6 माह से अधिक अवधि से लंबित हंैं, इस तरह की लापरवाही अस्वीकार्य होगी। उन्होंने ऐसे प्रकरणों में त्वरित और पारदर्शी कार्यवाही करने के निर्देश देते हुए कहा कि अधिकारी इन्हें प्राथमिकता से लेकर निस्तारित करवाते हुए प्रार्थी को निस्तारण की सूचना दें।

निराश्रित पशुओं को पकड़ने में लें पुलिस का सहयोग
  गौतम ने कहा कि नगर निगम शहर में घूम रहे निराश्रित पशुओं को पकड़ने की कार्रवाई में तेजी लाएं। उन्होंने कहा कि पुलिस निगम को इस कार्य को संपादित करवाने में सहयोग करें। शहर में कुछ विशेष स्थान ऐसे हैं जहां अधिक संख्या में निराश्रित और असहाय पशु घूमते हुए मिलते हैं ऐसे स्थानों का चिन्हीकरण करते हुए विशेष अभियान चलाकर इन पशुओं को गौशालाओं तक पहुंचाने का कार्य किया जाए।

टैक्सी स्टेण्ड पर ही खड़े हों आॅटो
गौतम ने कहा कि यह भी सुनिश्चित किया जाए कि शहर में टैक्सियां उन्हीं स्थानों पर रुके जो स्थान टैक्सी स्टैंड के रूप में चिन्हित किए गए हैं। उन्होंने इस कार्य के लिए नगर निगम आयुक्त को टीम बनाकर टैक्सी स्टैंड की जांच करवाने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि रैंडम आधार पर टीम विभिन्न टैक्सी स्टैंड की जांच करें और निर्धारित स्थान पर ऑटो या टैक्सी या नहीं रोके जाने की स्थिति में संबंधित के खिलाफ कार्रवाई करें। जिला कलेक्टर ने कहा कि चिकित्सा और स्वास्थ्य विभाग डेंगू और मलेरिया की रोकथाम के लिए आईईसी गतिविधियों में बढ़ोतरी करें तथा दवा छिड़काव आदि के पुख्ता इंतजाम करते हुए यह सुनिश्चित करें ऐसी बीमारियां ना फैले। साथ ही आमजन में इन बीमारियों की रोकथाम के लिए जागरूकता बढ़ाने के उद्देश्य से घर-घर कचरा संग्रहण के लिए जाने वाले आॅटो टिप्पर के माध्यम से पब्लिक एड्रेस सिस्टम लगाकर लोगों को इस संबंध में जागरूक किया जाए। उन्होंने टेमीफ्लू की दवा का समय पर वितरण सुनिश्चित करने के निर्देश दिए।

अच्छी किस्मों की दें किसानों को सूचना
जिला कलेक्टर ने कहा कि कृषि विभाग बुवाई के सीजन को देखते हुए विभिन्न प्रकार की किस्मों के बारे में किसानों को सूचनाएं देने के लिए विशेष अभियान चलाएं ताकि किसान अच्छी किस्म के बीज का उपयोग कर फसल उत्पादकता को बढ़ा सकें और अधिक लाभ प्राप्त कर सके।

बैठक में नगर निगम आयुक्त प्रदीप के गवांडे, जिला रसद अधिकारी यशवंत भाकर, कोषाधिकारी पवन कस्वां, मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डाॅ बी एल मीना सहित पानी, बिजली विभिन्न विभागों के अधिकारी उपस्थित थे।

अमेजन इंडिया पर आज का शानदार ऑफर देखें , घर बैठे सामान मंगवाए  : Click Here

www.hellorajasthan.com की ख़बरें फेसबुकट्वीटर और सोशल मीडिया पर पाने के लिए हमें Follow करें.