स्थाई लोक अदालत द्वारा होती है जन उपयोगी सेवाओं से संबंधित विवादों एवं मामलों की सुनवाई

0

जिला कलक्टर एवं कार्यवाहक जिला एवं सेशन न्यायाधीश ने की विधिक सेवा सप्ताह की शुरूआत

बीकानेर। राजस्थान राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण के तत्वावधान् में जिला विधिक सेवा प्राधिकरण की ओर से विधिक सेवा सप्ताह का शुभारम्भ रविवार को हुआ। एडीआर भवन में आयोजित कार्यक्रम में जिला कलक्टर वेदप्रकाश एवं कार्यवाहक जिला एवं सेशन न्यायाधीश अमित कड़वासरा ने दीप प्रज्ज्वलन के साथ इसका विधिवत आगाज किया।  इस अवसर पर कार्यवाहक जिला एवं सेशन न्यायाधीश अमित कड़वासरा ने विधिक सेवा प्राधिकरण के प्रावधानों के बारे में बताया। उन्होंने कहा कि विधिक सेवा प्राधिकरण  अधिनियम 1987 की प्रस्तावना के अनुसार यह अधिनियम समाज के कमजोर वर्गों से संबंधित है। कोई भी नागरिक आर्थिक अथवा अन्य असमर्थताओं के कारण न्याय पाने से वंचित नहीं रहे, इस भावना के साथ यह अधिनियम कार्य कर रहा है। स्थाई लोक अदालत द्वारा जन उपयोगी सेवाओं से संबंधित विवादों और मामलों की सुनवाई की जाती है।  कड़वासरा ने कहा कि इन सेवाओं में यात्रियों एवं माल के वहन के लिए यातायात सेवा, डाक, कूरियर, टेलीफोन एवं टेलीगे्राफ सेवा, विद्युत तथा जलापूर्ति सेवा, सार्वजनिक स्वच्छता, राजकीय व प्राइवेट चिकित्सा सेवा, जीवन बीमा एवं अन्य सामान्य सेवाएं, बैंककारी व वित्तीय सेवाएं, आवासीय सहित विभिन्न सेवाएं सम्मिलित हैं। इसके लिए प्रार्थी द्वारा सादे कागज पर बिना कोर्ट फीस, प्रार्थना पत्र पेश किया जा सकता है। दोनों पक्षकरों के बीच राजीनामे का प्रयास किया जाता है। यदि किसी कारण से राजीनामा नहीं हो पाता, तब भी दोनों पक्षों को सुनकर अंतिम फैसला सुनाया जाता है।

जिला कलक्टर ने कहा कि आजादी के बाद प्रत्येक सरकार ने गरीब और पिछडे़ तबके के लोगों को समाज की मुख्यधारा से जोड़ने के लिए विभिन्न योजनाएं संचालित कीं। इनसे लोगों के जीवन स्तर में सुधार आया। वर्तमान सरकार भी जरूरतमंद लोगों को लाभ दिलाने के लिए कार्य कर रही है। सरकार आपके द्वार, डिस्कॉम आपके द्वार, न्याय आपके द्वार, आपकी सरकार आपका जिला तथा पंडित दीनदयाल उपाध्याय जन कल्याण पंचायत शिविरों जैसे कार्यक्रमों के माध्यम से आमजन की समस्याओं की सुनवाई की जा रही है। उन्होंने कहा कि राजस्थान संपर्क पोर्टल, भामाशाह योजना तथा पोस मशीनों से राशन वितरण जैसी पहल से सूचना प्रौद्योगिकी के माध्यम से आमजन को राहत पहुंचाने के कार्य हो रहे हैं। जिला कलक्टर ने भामाशाह स्वास्थ्य बीमा योजना, मुख्यमंत्री राजश्री योजना, श्रमिक पंजीयन सहित विभिन्न योजनाओं के बारे में बताया। उन्होंने कहा कि रात्रि चौपालों में भी विधिक सेवा से जुड़े न्यायिक अधिकारी इसके प्रावधानों के बारे में ग्रामीण जनता को अवगत करवाएं। इस अवसर पर स्पेशल जज एडीसी अरूण कुमार अग्रवाल, एडीजे नं. 3 धनश्याम शर्मा, विधिक सेवा प्राधिकरण के पूर्णकालिक सचिव रामअवतार सोनी, संयुक्त आयुक्त श्रम पी. पी. शर्मा, सहायक निदेशक सांख्यिकी जी. के. माथुर, सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता विभाग के उपनिदेशक एल. डी. पंवार सहित विभिन्न न्यायिक अधिकारी, प्रशिक्षु न्यायिक अधिकारी विभिन्न अधिकारी मौजूद थे।

रैली एवं वैन को दिखाई झंडी, फोल्ड का किया विमोचन

इस अवसर पर अतिथियों ने विभिन्न योजनाओं से संबंधित फोल्डर ‘जनकल्याणकारी योजनाएं’ का विमोचन किया। जिला कलक्टर एवं कार्यवाहक जिला एवं  सेशन न्यायाधीश ने विधिक सेवा से संबंधित वैन तथा स्कूली विद्यार्थियों की रैली को हरी झंडी दिखाकर रवाना किया। रैली में रमेश इंग्लिश सीनियर सैकण्डरी स्कूल, दयानंद पब्लिक स्कूल, राजकीय मेजर जेम्स थॉमस सीनियर सैकण्डरी स्कूल तथा मेलबॉर्न सैकण्डरी स्कूल सहित विभिन्न विद्यालयों के विद्यार्थियों ने भागीदारी निभाई। सप्ताह के तहत सोमवार को विभिन्न कार्यक्रम होंगे।