Top

6 लाख की नौकरी छोड़कर ग्रामीणों को गरीबी से उबारने में मदद की

6 लाख की नौकरी छोड़कर ग्रामीणों को गरीबी से उबारने में मदद की

बीजिंग, 23 जुलाई (आईएएनएस)। पहले वांग चिनथाओ क्वांगतोंग प्रांत के च्यांगमन शहर में एक संचार कंपनी में कार्यरत थे, उसकी सालाना आय 6 लाख युआन से अधिक थी। लेकिन साल 2016 में 42 वर्षीय वांग इस नौकरी को छोड़कर अपनी जन्मभूमि दक्षिण पश्चिमी चीन के क्वेइचो प्रांत के ल्यूफानश्वेइ शहर के सोंगपा गांव में वापस लौटे और स्थानीय गांववासियों को गरीबी उबारने में मदद की।

शहरी जीवन को छोड़कर गांव में अपना कार्य पुन: शुरू किया। वे अपना सपना साकार करने के साथ-साथ गांववासियों का नेतृत्व कर उन्हें गरीबी से निकालने लगे।

वांग चिनथाओ ने जन्मभूमि में 106 हेक्टेयर से अधिक क्षेत्रफल वाले पहाड़ी इलाके में एक सूअर पालन फार्म स्थापित किया। स्थानीय सरकार के नीतिगत समर्थन से चार से अधिक साल में उनका सूअर पालन फार्म क्वेइचो प्रांत में सबसे बड़ा सूअर पालन फार्म बन गया। साल 2016 में फार्म में 20 सूअर से 2019 के अंत तक 10 हजार सूअर तक पहुंचे।

इस वर्ष महामारी के प्रकोप के बाद वांग ने फार्म में कार्यरत किसानों को कम नहीं किया, बल्कि और 86 गांववासियों को रोजगार दिया, जिनमें 17 लोग गरीब परिवारों से हैं। वह फार्म प्लस पशु-पालन क्षेत्र नमूना अपनाकर आसपास के गांववासियों का नेतृत्व कर समृद्ध रास्ते पर आगे बढ़ रहा है। अब तक इस प्रकार के नमूने में 14 पशु-पालन क्षेत्र स्थापित हो चुके हैं।

गांववासी चांग तान गरीब परिवार से है, अब वह वांग चिनथाओ के फार्म में काम कर रही हैं। उसने कहा कि एक महीने में वह 4200 युआन कमाती है, फार्म कर्मचारियों का खानपान और रहने की जगह मुहैया करवाता है। लोगों को हर वर्ष लाभांश मिलता है, गत वर्ष उसे 800 युआन मिला और साल 2018 में 650 युआन की आय प्राप्त हुई।

इस वर्ष की पहली छमाही में वांग चिनथाओ के सूअर पालन फार्म ने 27 हजार सूअर बेचे। योजनानुसार पूरे वर्ष में सूअर बेचने से फार्म में गरीब परिवारों से आए कर्मचारियों को 75 लाख युआन का लाभांश मिलेगा।

( साभार- चाइना मीडिया ग्रुप, पेइचिंग )

-- आईएएनएस

Next Story
Share it