Top

आजादी-पर्व पर स्वतंत्रता सेनानी का सम्मान ‘‘सुने आजादी के संघर्ष के संस्मरण’’

आजादी-पर्व पर स्वतंत्रता सेनानी का सम्मान ‘‘सुने आजादी के संघर्ष के संस्मरण’’

बीकानेर। स्वतंत्रता के 69 वीं वर्षगांठ के उपलक्ष में राष्ट्रव्यापी आजादी-पर्व पखवाडे के अन्तर्गत केन्द्रीय वित्त एवं कंपनी मामलात राज्य मंत्री अर्जुन राम मेघवाल ने स्वतंत्रता सेनानी हीरालाल शर्मा (बीदासर) के बीकानेर पवनपुरी स्थित आवास पर भाजपा कार्यकर्ताओं सहित पहंुंचकर श्री शर्मा का माल्यार्पण कर, साफा पहनाकर एवं श्रीफल भेंट कर सम्मान किया। मेघवाल के साथ उपस्थित भाजपा कार्यकर्ता रामेश्वर पारीक, अशोक भाटी, पंकज पंवार ने हीरालाल शर्मा का माल्यार्पण कर स्वागत किया एवं आजादी के संघर्ष के संस्मरण सुने।

स्वतंत्रता सेनानी हीरालाल शर्मा ने अपने संस्मरणों में बताया कि स्वतंत्रता आंदोलन में भाग लेने वाले सेनानियों को तत्कालीक ब्रिटिश शासन द्वारा जेलों में गंभीर यातनाऐं दी जाती थी, उनके परिजनों के सामने कोडे एवं बैंतों से पिटाई की जाती थी। अनूपगढ की जैल काला पानी मानी जाती थी। वर्तमान की लाईन पुलिस बिल्डिंग तब निर्माण के आरम्भिक चरण में थी। आजादी की पीढियों ने बडी कीमत चुकाई है। युवा आजादी के महत्व को समझे।

श्री शर्मा ने तत्कालीक महाराजा सार्दुल सिंह महाराज के साथ हुए अपनी वार्ता के संस्मरण सुनाते हुए बताया कि मेरे साथ चौधरी कुम्भाराम आर्य एवं प्रोफेसर केदार ने महाराजा सार्दुल सिंह के समक्ष एडलर फ्रैंचाईज (व्यस्क मताधिकार ) का प्रस्ताव रखा।

केन्द्रीय मंत्री अर्जुन राम मेघवाल के साथ भाजपा जिलाध्यक्ष डॉ सत्यप्रकाश आचार्य, पूर्व चैयरमैन रामेश्वर पारीक, जिला उपाध्यक्ष अशोक भाटी, पंकज पंवार सहित भाजपा पदाधिकारी एवं कार्यकर्ता उपस्थित रहे।

पाइए हर खबर अपने फेसबुक पर। कीजिए THARSAVERANEWS का FACEBOOK पेज।

Next Story
Share it