नोट बंदी के खिलाफ कांग्रेस ने जनाक्रोश मार्च निकाला, जिला कलेक्टर को दिया ज्ञापन

जनता की आर्थिक समस्याओं का सामाधान करें केन्द्र सरकार – गहलोत

नोट बंदी के खिलाफ कांग्रेस ने जनाक्रोश मार्च निकाला, जिला कलेक्टर को दिया ज्ञापन 1बीकानेर। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी द्वारा 8 नवंबर को लिये गये 500 व 1000 रुपये के नोटो को विमुद्रित करने के निर्णय से देश की जनता को हो रही परेशानियों के संबधं में राजस्थान प्रदेश कांग्रेस के उपाध्यक्ष व प्रभारी पूर्व सांसद भरतराम मेघवाल, सहप्रभारी पवन गोदारा, देहात कांग्रेस जिलाध्यक्ष महेन्द्र गहलोत, कोलायत विधायक भंवर सिंह भाटी, जिलाप्रमुख सुशीला सिंवर, एवं कांग्रेस के प्रधान, जिला परिषद सदस्य, पं.स. सदस्य, सरपंच, सहित देहात कांग्रेस के कार्यकर्ता भारी संख्या में जिला देहात कांग्रेस कार्यालय से जनाक्रोश मार्च निकालते हुवे जिला कलेक्टर कार्यालय पहंचे और जिला कलेक्टर को ज्ञापन देकर जनता को नोटबंदी से हो रही समस्याओं के सामाधान की मांग की।
जिला देहात कांग्रेस के अध्यक्ष महेन्द्र गहलोत ने जिला कलेक्टर को ज्ञापन के माध्यम से जनता की समस्याओं से अवगत कराते हुवे कहा कि भाजपा सरकार ने नोटबंदी का निर्णय लेकर देश में आर्थिक आपातकाल जैसी परिस्थितियां बना दी हैं, जिसका परिणाम सीधे तौर पर देश की गरीब जनता पर पड़ा हैं, जिससे गांव का गरीब श्रमिक जो दिनभर पर मेहनत मजदुरी करके शाम को खाने का इतंजाम करता था, आज उस गरीब को भूखा सोने पर विवश होना पड़ रहा हैं। और किसानो की मेहनत से उगाई गई फसल आज ज्यों की त्यों पड़ी है, जिससे किसानों के पास फसल होने के बावजूद उनकी अकाल जैसी स्थिति हो रही हैं और वो रबी की फसल के लिए खाद्य-बीज तक खरीद नही पा रहें, जिससे रबी की फसल पर प्रभावनोट बंदी के खिलाफ कांग्रेस ने जनाक्रोश मार्च निकाला, जिला कलेक्टर को दिया ज्ञापन 2 पड़ रहा हैं।

गहलोत ने कहा कि जनता की जनता के समस्याओं के सामाधान के लिए सरकार (1) सभी ।ATM में पर्याप्त राशि की उपलब्ध करवायें (2) बैंकांे में नये नोटों की उपलब्धता में वृद्धि करें (3) ग्रामीण व जिला सहकारी बैकों को मुद्रा के आदान-प्रदान व राशि विड्रॉ करने की स्वीकृति देवें (4) किसान क्रेडिट कार्ड के माध्यम से 75,000 रुपये तक निकालने की स्वीकृति देवें (5) शादी समारोह हेतु 2,50,000 रुपये की सीमा को बढाकर दुगना करने के साथ ही इसकी उपलब्धता सुनिश्चित की करें (6) पैट्रोल पम्पों, अस्पतालों सहित आवश्यक सेवाओं पर पुराने नोटो से लेन-देन जारी रखने तारीख को 24 नवम्बर से बढाकर हालात सामान्य होने तक जारी रखें (7) किसानांे के ऋणांे की वसूली को स्थगित की जाए (8) किसानों को सरकारी केन्द्रों के साथ ही अन्य केन्द्रो से भी बीज खरीदने की स्वीकृति दी जायें (9) गरीब, श्रमिकों, कच्ची बस्तियों में रहने वाले अल्प आय वर्ग के लोगों हेतु मुफ्त राशन उपलब्ध करवाया जायें (10) मनरेगा के तहत् विशेष कार्य दिवसों का निर्माण कर बेरोजगार हुए श्रमिकों को रोजगार उपलब्ध करवायें ताकि देश की जनता को इस आर्थिक आपातकाल की स्थिति से राहत मिल सके।

जिला देहात कांग्रेस के प्रभारी भरतराम मेघवाल और सहप्रभारी पवन गोदारा ने कहा इतनी विकट परिस्थितियां होने के बावजूद प्रदेश की भाजपा सरकार ने जनता की परेशानियों को संज्ञान में लेना तक उचित नहीं समझा तथा एक पखवाड़ा बीतने के बाद भी आमजन को राहत देने के लिए कोई कदम नहीं उठायें। यहां तक कि राज्य सरकार द्वारा इस सम्बन्ध मेें कोई समीक्षा बैठक तक नहीं की गई हैं।

कोलायत विधायक भाटी व जिला प्रमुख सिंवर ने कहा कि सरकार द्वारा निर्मित आर्थिक ठहराव के कारण सदमें से लगभग 80 से ज्यादा लोग मर चुके हैं। भारतीय अर्थव्यवस्था की सम्पूर्ण वास्तविकताओं को दरकिनार कर भाजपा सरकार ने अपरिपक्व व अदूरदर्शी सोच का परिचय दिया हैं।
ये रहे उपस्थित
जिला देहात कांग्रेस प्रवक्ता ओमप्रकाश सैन ने बताया कि इस अवसर पर पांचू प्रधान प्रतिनिधी भंवरलाल गोरछीया, प्रदेश उपाध्यक्ष महिला कांग्रेस सुषमा बारुपाल, देहात कांग्रेस उपाध्यक्ष पूर्व प्रधान भागूराम साहू, नारायण सिंह चारण, हनुमान चौधरी, केप्टन मोहनलाल गोदारा, तुलछीराम गोदारा, ओमप्रकाश मेघवाल, रामेश्वरलाल जाखड़, कौषाध्यक्ष कौशल दुगड़, महासचिव बज्जू ब्लॉक अध्यक्ष, पदमसिंह सोढा, विमल भाटी, अब्दुल मुस्तफाह, शीवलाल मेघवाल, मनोज सहारण, रामनिवास तर्ड, नन्दराम जाखड़, सुरजाराम गोदारा, गणेशदान चारण, राधेश्याम उपाध्याय, कानाराम कंस्वा, नोपाराम जाखड़, मेघराज मेघवाल, राधेश्याम तर्ड, सलीम बहेलिया, देवीलाल तावणीया, युनूस खांन, जिला देहात मुख्य संगठक प्रहलाद सिंह मार्शल, देहात महिला अध्यक्ष शशिकला राठौड़, रैनू भोबिया देहात अल्प संख्यक अध्यक्ष अकरम सम्मा, किसान कांग्रेस अध्यक्ष जगदीश खिचड़, यूथ कांग्रेस के विधानसभा अध्यक्ष श्रीकिंशन सिंवर, पैशन प्रकोष्ट के प्रदेश संयोजक किशनलाल ईणखिया सचिव रामनारायण ज्याणी, ओमप्रकाश सियाग, पूनमचन्द भाम्भू, कानाराम कुंकणा, लक्ष्मीनारायण खिलेरी, दानाराम भादू, सरेन्द्र सिंह कंस्वा, राजकुमार शर्मा, बंजरग सायच, साबुदीन, डॉ. प्रेमप्रकाश सारण, चेतनराम सियाग, कन्हैयालाल सोमानी, मूलसिंह भाटी, पांचू सरपंच जेठाराम गोदारा, बज्जू सरपंच मांगीलाल, अक्कासर सरपंच प्रभूदयाल गोदारा, माणकासर गणपतराम बिश्नोई, पूर्व सरपंच खियेरा विजय गोदारा, श्रवणकुमार गाट, मनोज बागड़वा पूर्व पं.स.सदस्य गणेशाराम नाई, धनराज सांेलकी, कार्यकारणी सदस्य बनवारी लाल बिश्नोई, रायसिंह गोदारा, सहीराम सिंगड़, सुरेन्द्र बेरड़, यूथ कांग्रेस लुणकरणसर प्रवक्ता सीताराम डूडी, ओपी खिचड़, पुरखाराम चन्देल, पूर्व पार्षद हसनअली गौरी, धनराज गोदारा, एनएसयूआई छात्र नेता श्रीकिशन गोदारा, नथ्थू महाराज, यूथ कांग्रेस प्रदेश सचिव हेतराम गोदारा, महासचिव एडवोकेट मनोज नायक सहित बड़ी संख्या में कार्यकर्तागण मोजूद थे।

पाइए हर खबर अपने फेसबुक पर।   likeकीजिए  hellorajasthan का Facebook पेज।