ऋण पुनर्गठन के लिए केंद्र आरबीआई से बात कर रहा : सीतारमण

ऋण-पुनर्गठन-के-लिए-केंद्र-आरबीआई-से-बात-कर-रहा-:-सीतारमण

नई दिल्ली, 31 जुलाई (आईएएनएस)। अर्थव्यवस्था गंभीर सुस्ती से गुजर रही है, और इसका व्यापार पर और भी असर पड़ सकता है। ऐसे में वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण ने शुक्रवार को कहा कि सरकार का फोकस अब ऋण पुनर्गठन पर है और इस पर भारतीय रिजर्व बैंक के साथ बातचीत चल रही है।

सीतारमण ने फिक्की के एक वेबिनार में कहा, फोकस पुनर्गठन पर है। वित्त मंत्रालय इस पर आरबीआई के साथ सक्रियता के साथ बातचीत कर रहा है। सैद्धांतिक रूप में पुनर्गठन के विचार को अच्छी तरह लिया गया है।

कई औद्योगिक खिलाड़ियों और संस्थाओं ने कोविड-19 महामारी के कारण आई आर्थिक सुस्ती और कंपनियों के बकाये का भुगतान करने की स्थिति में न होने के मद्देनजर एक बार के ऋण पुनर्गठन की मांग की है।

वित्तमंत्री ने कहा कि मौजूदा स्थिति से निपटने के लिए सरकार द्वारा उठाया गया हर कदम हितधारकों और उद्योग विशेषज्ञों के साथ गहन परामर्श के बाद ही उठाया गया है।

उन्होंने हॉस्पिटलिटी सेक्टर के लिए मोरैटोरियम विस्तार या एक पुनर्गठन की जरूरत बताई और कहा कि सरकार इस मोर्चे पर आरबीआई के साथ काम कर रही है।

सीतारमण ने कहा, मैं हास्पिटलिटी सेक्टर के लिए मोरैटोरियम के विस्तार या पुनर्गठन की जरूरतों को पूरी तरह समझती हूं। हम इस पर आरबीआई के साथ काम कर रहे हैं।

–आईएएनएस