सुशांत की बहन का प्रधानमंत्री को खुला पत्र, कहा-सबूतों से छेड़छाड़ की आशंका

सुशांत-की-बहन-का-प्रधानमंत्री-को-खुला-पत्र,-कहा-सबूतों-से-छेड़छाड़-की-आशंका

मुंबई(Entertainment News)। सुशांत सिंह राजपूत (Actor Sushant Singh Rajput) की बहन श्वेता सिंह कीर्ति (Shweta singh kirti) ने शनिवार सुबह प्रधानमंत्री (PM) नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) (Narendra Modi) को एक खुला पत्र लिखा है। पत्र में श्वेता ने मामले को लेकर की जा रही जांच में सबूतों के साथ छेड़छाड़ की आशंका जताते हुए मोदी से हस्तक्षेप करने का अनुरोध किया है।

अपने पत्र में उन्होंने यह भी दावा किया है कि सुशांत का बॉलीवुड (Bollywood) में कोई गॉडफादर नहीं था, ना ही उसके परिवार का अभी कोई है।

श्वेता ने पत्र को अपने सत्यापित फेसबुक अकाउंट पर पोस्ट किया है। उन्होंने लिखा, मैं सुशांत सिंह राजपूत की बहन हूं और मैं पूरे मामले की तत्काल जांच का अनुरोध करती हूं। हम भारत की न्याय व्यवस्था में विश्वास करते हैं और किसी भी कीमत पर न्याय की उम्मीद करते हैं।

प्रधानमंत्री (PM) को संबोधित करते हुए पत्र में आगे लिखा है, प्रिय महोदय, मेरा दिल कहता है कि आप सच्चाई के साथ खड़े हैं और हम एक बहुत ही साधारण परिवार से हैं। मेरे भाई का बॉलीवुड में कोई गॉडफादर नहीं था और ना ही अभी हमारे पास अभी कोई है। मेरा अनुरोध है कि आप तुरंत इस मामले को देखें और सुनिश्चित करें कि इस मामले में सारी चीजों को एक साफ तरीके से संभाला जाए और किसी भी सबूत के साथ छेड़छाड़ न की जाए। न्याय की जीत की उम्मीद है।

प्रधानमंत्री को ये खुला पत्र उनकी उस फेसबुक पोस्ट के एक दिन बाद आया है, जिसमें उन्होंने अपने दिवंगत भाई के हाथों से एक व्हाइटबोर्ड पर लिखी योजनाओं को साझा किया था। इनसे पता चलता है कि अभिनेता 29 जून से ही ऊंचे स्तर का मेडिटेशन शुरू करने की योजना बना रहे थे।

बिहार के पूर्णिया में सुशांत सिंह राजपूत के नाम पर सड़क व चौक

शुक्रवार शाम की गई इस फेसबुक पोस्ट से पता चलता है कि सुशांत वास्तव में अपने जीवन में आगे बढ़ने की योजना बना रहे थे। उन्होंने इस बोर्ड में हर दिन के कामों के लिए एक सूची भी बनाई थी। जिसमें समय पर सोने-जागने से लेकर पढ़ना, कंटेंट मूवीज / सीरीज देखना, गिटार सीखना और कसरत करना आदि शामिल है।

सुशांत सिंह राजपूत ने 14 जून को अपने मुंबई स्थित आवास पर कथित रूप ले आत्महत्या कर ली थी।

–आईएएनएस

www.hellorajasthan.com की ख़बरें फेसबुकट्वीटर और सोशल मीडिया पर पाने के लिए हमें Follow करें.