एसबीबीजे द्वारा एनईएफएमएस ई-प्लेटफार्म का शुभारंभ

एसबीबीजे द्वारा एनईएफएमएस ई-प्लेटफार्म का शुभारंभ 1जयपुर। स्टेट बैंक ऑफ बीकानेर एण्ड जयपुर ने अपने प्रधान कार्यालय में आयोजित एक समारोह में मनरेगा हेतु राष्ट्रीय इलेक्ट्रॉनिक कोष प्रबंधन प्रणाली (एनईएफएमएस) ई-प्लेटफार्म की  शुरुआत की है। इसका शुभारंभ बैंक के प्रबन्ध निदेशक ज्योति घोष ने किया। कोष निर्गमन की प्रणाली को सुदृढ़ करने व त्वरित निपटान के क्रम में ग्रामीण विकास मंत्रालय ने मनरेगा में राष्ट्रीय इलेक्ट्रानिक कोष प्रबंधन प्रणाली की शुरुआत की गई। इस प्रणाली के ई-प्लेटफार्म से सरकार द्वारा कोष अंतरण आदेश जारी होने के 48 घंटों के भीतर कामगारों के खातों में मजदूरी जमा हो जायेगी। जैसा कि समस्त कामगारों ने पूर्व में प्रधानमंत्री जन धन योजना के माध्यम से बैंक में अपने खाते खोल रखे हैं। इससे आम आदमी को लाभ होगा तथा धन का रिसाव और भ्रष्टाचार से छुटकारा पाया जा सकेगा। एसबीबीजे राष्ट्रीय स्तर पर ग्रामीण विकास मंत्रालय द्वारा अधिकृत बैंक है जो अखिल भारतीय स्तर पर अन्य बैंकों के सहयोग से भुगतान का कार्य कर रहा है। राजस्थान राज्य में, जो इस प्रणाली को अपनाने वाले अग्रणी राज्यों में से एक है, एसबीबीजे सीधे भुगतान भी कर रहा है। घोष ने बताया कि ग्रामीण विकास मंत्रालय भारत सरकार द्वारा अधिकृत बैंकर तथा मनरेगा लाभार्थियों हेतु राजस्थान व बिहार राज्य में प्रायोजक बैंक का दर्जा देने पर एसबीबीजे को अतिरिक्त लाभ हुआ है। राजस्थान व बिहार राज्यों के प्रायोजक बैंक के रूप में एसबीबीजे द्वारा लगभग 5 करोड़ लेनदेन किये जाएंगे। इस अवसर पर बैंक के मंडल के निदेशक, मुख्य महाप्रबन्धक रिटेल बैंकिंग एस. वेकटरमण, मुख्य महाप्रबन्धक वाणिज्यिक बैंकिंग वी. श्रीनिवासन उपस्थित थे।