गुड़गांव का नाम अब गुरग्राम

ggचंडीगढ़। दुनियाभर के व्यवसायिक जगत में गुड़गांव के नाम से जाना जा रहा हाईटेक शहर अब गुरग्राम के नाम से ही जाना जाएगा। यह फैसला भारतीय जनता पार्टी की सरकार ने किया है। उसने दावा किया कि इलाके के लोग इस संबंध में मांग कर रहे थे। पूर्व मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा ने जहां फैसले का स्वागत किया, वहीं पार्टी प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने फैसले की आलोचना की।

एक आधिकारिक प्रवक्ता ने बताया कि नाम बदलने का फैसला कई मंचों से मिले ज्ञापन के आधार पर किया गया जिसमें कहा गया था कि गुड़गांव का नाम ‘गुरग्राम’ रखना उचित होगा। इस बारे में किंवदंती है कि गुड़गांव का नाम गुर द्रोणाचार्य के नाम पर रखा गया है। वह कौरवों और पांडवों के गुर थे। यह गांव उनके छात्रों–पांडवों ने उन्हें गुरदक्षिणा में दिया था और इसलिए इसका नाम गुरग्राम पड़ा जो बाद में विकृत होकर गुड़गांव हो गया।

प्रवक्ता ने कहा, ‘‘हरियाणा भागवत गीता की ऐतिहासिक भूमि है और गुड़गांव शिक्षा का केंद्र रहा है।’’ उन्होंने कहा, ‘‘यह गुर द्रोणाचार्य के समय से गुड़गांव के नाम से जाना जाता था। गुड़गांव शिक्षा का महान केंद्र था जहां राजकुमारों को शिक्षा दी जाती थी। इसलिए लंबे समय से लोग मांग कर रहे थे कि गुड़गांव का नाम बदलकर गुरग्राम कर दिया जाए।’’