Top

नोएडा : नियम उल्लंघन में अब तक 85 हजार से ज्यादा वाहनों का चालान, 1350 लोग गिरफ्तार

नोएडा : नियम उल्लंघन में अब तक 85 हजार से ज्यादा वाहनों का चालान, 1350 लोग गिरफ्तार

गौतमबुद्धनगर, 2 अगस्त (आईएएनएस)। उत्तर प्रदेश के गौतमबुद्धनगर(नोएडा) में कोरोना संक्रमण का खतरा बरकरार है, वहीं जिले में कोरोनावायरस के संक्रमण की चेन तोड़ने के लिए लागू लॉकडाउन का उल्लंघन करने वाले व्यक्तियों के खिलाफ कार्रवाई की गई।

पुलिस के मुताबिक, भारतीय दंड संहिता की धारा 144 का उल्लंघन करने पर धारा 188 के तहत अप्रैल से जुलाई तक करीब 1350 व्यक्ति गिरफ्तार किए गए हैं। वहीं करीब 88,400 वाहनों का चालान हुआ और करीब 800 वाहनों को जब्त भी किया गया।

25 मार्च से 31 मई तक करीब 380 से अधिक लोग गिरफ्तार किए गए। साथ ही वाहनों के चालान की बात करें तो करीब 16735 वाहनों का चालान किया गया।

वहीं अनलॉक-1 की बात करें तो 1 से 30 जून तक करीब 116 लोग नियमों का उल्लंघन करने पर गिरफ्तार किए गए। वहीं 20,836 वाहनों का चालान किया गया। साथ ही 1 से 31 जुलाई तक करीब 44887 वाहनों का चालान किया गया।

नियमों के उल्लंघन पर जहां एक तरफ पुलिस विभाग द्वारा कार्रवाई की गई तो जिले में इन सब के बीच यातायात पुलिस द्वारा भी चालान किया गया। दुपहिया वाहन चालकों के पास हेलमेट न होना, वाहन चलाते वक्त फोन पर बात करना, सील बेल्ट न पहनना जैसे मामलों में भी कार्रवाई की गई।

कोरोनाकाल में अनलॉक-1 की अवधि में यानी पहली जून से 30 जून तक यातायात नियमों का उल्लंघन भी बढ़ा। सड़कों पर छूट मिलते ही कुल करीब 56,434 वाहन चालकों ने नियमों की धज्जियां उड़ाईं।

दरअसल, 25 मार्च से 31 मई के बीच यातायात पुलिस ने बिना वजह सड़कों पर निकलने वाले वाहन चालकों का चालान किया था, लेकिन अनलॉक-1 में कंटेनमेंट जोन छोड़कर कहीं कोई प्रतिबंध नहीं लगाया गया। मई में जहां 19,402 वाहनों चालकों ने यातायात नियमों का उल्लंघन किया था तो वहीं जून में 56,434 वाहन चालकों ने नियमों का उल्लंघन किया।

हालांकि यातायात पुलिस ने जनवरी में 55,424 वाहनों के चालान किए तो वहीं फरवरी के महीने में 27245 चालान किए, लेकिन मार्च में 19,823 और अप्रैल के महीने में 11581 चालान किए गए, जो पिछले महीने के मुकाबले कम रहे। अगर जनवरी से जुलाई तक के महीने में कुल चालानों की बात करें तो यातायात नियमों का उल्लंघन करने पर कुल 2,08,548 चालान हुए हैं।

--आईएएनएस

Next Story
Share it