काउंटर टेररिज्म पर केंद्रित इंडो -फ्रेंच युद्वाभ्यास शक्ति 31 से

बीकानेर। भारत -पाकिस्तान अंर्तराष्ट्रीय सीमा के पास महाजन फील्ड फायरिंग रेंज में भारत -फ्रांस सेना का संयुक्त इंडो फ्रेंच युद्वाभ्यास शक्ति 2019 ( Indo -French Joint Military Training Drill Exercise Shakti 2019) का आगाज 31 अक्टूबर 2019 से शुरु हेागा। इस युद्वाभ्यास के लिए फ्रांसीसी सेना के 38 जवान व अधिकारी महाजन फील्ड फायरिंग रेंज पहुंच चुके है। इस युद्वाभ्यास का समापन 13 नंवबर 2019 को होगा, जिसमें दोनेां देशों की सेना के उच्चाधिकारी भाग लेंगे।

Indo -French Joint Military Training Drill Exercise Shakti 2019

सेना के प्रवक्ता कर्नल संवित घोष ने बताया कि इंडो फे्रंच युद्वाभ्यास शक्ति 2019 के लिए फ्रांस के 6 वीं बख्तरबंद ब्रिगेड की 21 वीं समुद्री पैदल सेना रेजिमेंट के जवान व अधिकारी यंहा पहुंच चुके है। महाजन फील्ड फायरिंग रेंज अभ्यास क्षेत्र में पहुंचने पर, भारतीय सेना ने फ्रांसीसी सेना की टुकड़ी के लिए गर्मजोशी और पारंपरिक तरीके से स्वागत किया, जिसके बाद दोनों देशों के सैनिकों के बीच सदभाव पूर्ण आदान-प्रदान हुआ।

उन्होने बताया कि युद्धाभ्यास शक्ति-2019 के बैनर के तहत द्विपक्षीय अभ्यास की श्रृंखला में पांचवा संस्करण है। संयुक्त युद्धाभ्यास संयुक्त राष्ट्र जनादेश के तहत अर्ध-रेगिस्तानी इलाके की पृष्ठभूमि में काउंटर टेररिज्म पर केंद्रित होगा। संयुक्त प्रशिक्षण में उच्च स्तर की शारीरिक क्षमता, सामरिक अभ्यास, तकनीक और प्रक्रिया पर ध्यान दिया जाएगा। अभ्यास के दौरान, संयुक्त योजना, कॉर्डन एंड सर्च ऑपरेशन्स, सर्च एंड रेस्क्यू , संयुक्त सामरिक अभ्यास और विशेष हथियार कौशल का प्रशिक्षण किया जायेगा।

फ्रांस की सेना पहुंची बीकानेर
फ्रेंच आर्मी के जवान पांचवीं अभ्यास श्रंखला के लिए बीकानेर पहुंच गए हैं। महाजन फील्ड फायरिंग रेंज स्थित अभ्यास क्षेत्र में भारतीय सेना के अधिकारियों ने फ्रांस की सेना ने तिलक लगाकर और फूलों की माला पहनाकर पारम्परिक स्वागत किया। महाजन फील्ड फायरिंग रेंज अभ्यास क्षेत्र में पहुंचने पर, भारतीय सेना ने फ्रांसीसी सेना की टुकड़ी के लिए गर्मजोशी और पारंपरिक तरीके से स्वागत किया, जिसके बाद दोनों देशों के सैनिकों के बीच सद्भाव पूर्ण आदान-प्रदन हुआ।

Indo -French Joint Military Training Drill Exercise Shakti 2019

तकनीक और प्रक्रिया पर जोर
संयुक्त युद्धाभ्यास संयुक्त राष्ट्र जनादेश के तहत अर्ध-रेगिस्तानी इलाके की पृष्ठभूमि में काउंटर टेररिज्म पर केंद्रित होगा। संयुक्त प्रशिक्षण में उच्च स्तर की शारीरिक क्षमता, सामरिक अभ्यास, तकनीक और प्रक्रिया पर ध्यान दिया जाएगा। अभ्यास के दौरान, संयुक्त योजना, कॉर्डन एंड सर्च ऑपरेशन्स, सर्च एंड रेस्क्यू , संयुक्त सामरिक अभ्यास और विशेष हथियार कौशल का प्रशिक्षण किया जायेगा।
पांचवां संस्करण
एक्सरसाइज शक्ति-2019 के बैनर के तहत द्विपक्षीय अभ्यास की श्रृंखला में ये पांचवा संस्करण है। इससे पहले इंडो-फ्रेंच संयुक्त सैन्य अभ्यास शक्ति-2018 फ्रांस में 20 जनवरी से 4 फरवरी, 2018 तक पूर्वी फ्रांस में मेल्ली-ले-कैंप, औबे के युद्ध प्रशिक्षण केंद्र में आयोजित किया गया था।
ये टुकड़ियां लेंगी भाग
इस संयुक्त द्विपक्षीय अभ्यास में भारत की ओर से सप्त शक्ति कमान की सिख रेजिमेंट के जवान भाग लेंगे। फ्रांसीसी सेना का प्रतिनिधित्व 6 वीं बख्तरबंद ब्रिगेड की 21 वीं समुद्री पैदल सेना रेजिमेंट के सैनिकों द्वारा किया जाएगा।

अमेजन इंडिया पर आज का शानदार ऑफर देखें , घर बैठे सामान मंगवाए  : Click Here

www.hellorajasthan.com की ख़बरें फेसबुकट्वीटर और सोशल मीडिया पर पाने के लिए हमें Follow करें.