Top

कोरानावायरस : आईईएलटीएस चाइना ने मार्च में अपनी सभी परीक्षाएं रद्द की

कोरानावायरस : आईईएलटीएस चाइना ने मार्च में अपनी सभी परीक्षाएं रद्द की

बीजिंग, 15 फरवरी (आईएएनएस)। इंटरनेशनल इंग्लिश लैंग्वेज टेस्टिंग सिस्टम(आईईएलटीएस) चाइना ने कोरोनावायरस की वजह से मार्च में आयोजित होने वाली अपनी सभी परीक्षाओं को रद्द करने और परीक्षार्थियों को फीस रिफंड करने की प्रक्रिया शुरू करने की घोषणा की है। आईईएलटीएस ने यह कदम कोरोनावायरस को ध्यान में रखते हुए परीक्षार्थियों की सुरक्षा और स्वास्थ्य के मद्देनजर उठाया है। एक बयान में शुक्रवार को इसकी जानकारी दी गई।

दूसरी ओर, बड़े विदेशी विश्वविद्यालयों में प्रवेश लेने के लिए लेंग्वेज टेस्ट-टीओईएफएल ने भी 28 जनवरी को फरवरी के अंत तक अपनी परीक्षाओं को रद्द करने की घोषणा की थी।

हालांकि मार्च में चीन में होने वाली टीओईएफएल परीक्षाओं के बारे में अभी घोषणा नहीं हुई है। इन परीक्षाओं के भी रद्द होने की संभावना है।

भाषा प्रशिक्षण और विदेशी अध्ययन कंसल्टेंसी न्यू चैनल इंटरनेशनल एजुकेशन ग्रुप लिमिटेड के मुख्य कार्यकारी अधिकारी(सीईओ) ली जुनजी ने चीनी समाचार अखबार ग्लोबल टाइम्स से कहा, लैंग्वेज टेस्ट के रद्द होने से उन चीनी छात्रों पर प्रभाव नहीं पड़ेगा जो विदेश में पढ़ना चाहते हैं।

चीनी छात्र मुख्यत: अमेरिका, ब्रिटेश और ऑस्ट्रेलिया पढ़ने के लिए जाते हैं।

ली के अनुसार, अमेरिका के अधिकतर विश्वविद्यालयों के प्रवेश आवेदन का समय जनवरी में समाप्त हो चुकी है। इसलिए अमेरिका में पढ़ने की चाह रखने वाले छात्रों पर लैंग्वेज टेस्ट रद्द होने का कोई प्रभाव नहीं पड़ेगा। ब्रिटेन में विश्वविद्यालय लैंग्वेज टेस्ट के नतीजों को जुलाई तक स्वीकार करते हैं और तबतक छात्र इंतजार कर सकते हैं। हालांकि जुलाई में ऑस्ट्रेलियाई विश्वविद्यालयों में प्रवेश लेने के इच्छुक छात्र इससे प्रभावित हो सकते हैं।

वहीं कुछ विदेशी विश्वविद्यालय चीनी छात्रों की मदद करने के लिए अपने दाखिले की समयसीमा में विस्तार करने पर विचार कर रहे हैं। चीनी छात्रों को संबोधित करते हुए एडनबर्ग विश्वविद्यालय ने अपने पत्र में कहा कि अगर टेस्ट सेंटर बंद रहते हैं तो विश्वविद्यालय दाखिले के लिए अपनी समयसीमा में विस्तार करने पर विचार कर सकता है।

--आईएएनएस

Next Story
Share it