Top

17वें चीन-आसियान एक्सपो उद्घाटित, शी चिनफिंग ने दिया भाषण

17वें चीन-आसियान एक्सपो उद्घाटित, शी चिनफिंग ने दिया भाषण

बीजिंग, 27 नवंबर (आईएएनएस)। चीनी राष्ट्रपति शी चिनफिंग ने 27 नवम्बर को आयोजित 17वें चीन-आसियान एक्सपो और चीन-आसियान वाणिज्य व निवेश शिखर सम्मेलन के उद्घाटन समारोह में भाग लिया और भाषण दिया।

शी चिनफिंग ने कहा, साल 2013 में मैंने आसियान देशों के साथ 21वीं सदी समुद्री रेशम मार्ग के सह-निर्माण वाला प्रस्ताव पेश किया, ताकि ज्यादा घनिष्ठ चीन-आसियान साझे भाग्य वाले समुदाय की स्थापना की जा सके। पिछले 7 सात सालों में चीन-आसियान संबंध एशिया-प्रशांत क्षेत्रीय सहयोग में सबसे सफल और सबसे ज्यादा जीवन शक्ति से ओतप्रोत आदर्श मिसाल बन चुका है, और साथ ही मानव जाति के साझे भाग्य समुदाय की स्थापना वाला जीवंत उदाहरण भी बन गया।

उन्होंने कहा, कोविड-19 महामारी के खिलाफ लड़ाई में दोनों पक्ष एक दूसरे के समर्थक हैं। वर्तमान दुनिया बड़े परिवर्तन का सामना कर रही है, विभिन्न देशों की जनता का भाग्य इतने घनिष्ठ रूप से जोड़ा जाता है, जो अभूतपूर्व है। चीन आसियान को अपनी पड़ोसी कूटनीति में प्राथमिकता देता है और बेल्ट एंड रोड के सह-निर्माण वाला प्रमुख क्षेत्र मानता है। चीन आसियान के साथ विभिन्न क्षेत्रों में सहयोग को बढ़ावा देना चाहता है, ताकि क्षेत्रीय समृद्धि और विकास के बेहतरीन रुझान को बरकरार रखा जा सके और ज्यादा घनिष्ठ साझे भाग्य समुदाय की स्थापना की जा सके।

पहला, रणनीतिक आपसी विश्वास को उन्नत किया जाए, विकास परियोजनाओं को गहरे रूप से जोड़ा जाए। अगले वर्ष चीन और आसियान के बीच संवाद संबंधों की स्थापना की 30वीं वर्षगांठ होगी, चीन आसियान के साथ मिलकर और उच्च स्तरीय रणनीतिक साझेदारी संबंध की स्थापना करना चाहता है।

दूसरा, आर्थिक व्यापारिक सहयोग को उन्नत किया जाए, क्षेत्रीय व्यापक आर्थिक पुनरुत्थान में गति दी जाए। चीन-आसियान मुक्त व्यापार संधि का और अच्छी तरह कार्यान्वयन किया जाए। चीन को आशा है कि क्षेत्रीय व्यापक आर्थिक भागीदारी समझौता (आरसीईपी) शीघ्र ही प्रभावी होगा।

तीसरा, वैज्ञानिक तकनीकी नवाचार को उन्नत किया जाए, डिजिटल आर्थिक सहयोग को मजबूत किया जाए। स्मार्ट शहर, 5 जी, कृत्रिम बुद्धि, ई-कॉमर्स, बड़ा डेटा, ब्लॉकचैन, टेलीमेडिसीन आदि क्षेत्रों में ज्यादा नया सहयोग किया जाए। डेटा सुरक्षा की रक्षा और नीतिगत संपर्क व समन्वय को मजबूत किया जाए। चीन-आसियान सूचना पोर्ट तथा डिजिटल रेशम मार्ग का निर्माण किया जाए।

चौथा, महामारी-रोधी सहयोग को उन्नत किया जाए, सार्वजनिक स्वास्थ्य क्षमता के निर्माण को मजबूत किया जाए। नीतिगत संवाद, सूचना के साझाकरण और टीका सहयोग को मजबूत किया जाए। टीका लगाने के बाद चीन आसियान देशों की जरूरतों पर सक्रिय रूप से विचार करेगा और आसियान महामारी-रोधी कोष के लिए राशि समर्थन करेगा।

शी चिनफिंग ने बल देते हुए कहा कि अगले वर्ष चीन व्यापक रूप से समाजवादी आधुनिकीकरण देश का निर्माण आरंभ करेगा। चीन अविचल रूप से खुलेपन का विस्तार करता रहेगा। चीन और आसियान के बीच सहयोग और व्यापक होगा।

अपने भाषण में शी चिनफिंग ने आशा जतायी कि मौजूदा एकस्पो के जरिए ज्यादा व्यापारिक मौके प्राप्त किये जाएंगे, अधिक उपलब्धियां प्राप्त की जाएंगी, दोनों पक्ष हाथ मिलाकर ज्यादा समृद्ध और सुनहरे भविष्य का निर्माण करेंगे।

(साभार---चाइना मीडिया ग्रुप, पेइचिंग)

-- आईएएनएस

Next Story
Share it