#Surgical strike 2 : जैश के ठिकानेां को वायुसेना ने किया तबाह: विदेश सचिव

0
Pulwama Terror Attack :Surgical strike 2 : जैश के ठिकानेां को वायुसेना ने किया तबाह: विदेश सचिव, Indian Airforce attack at Jaish e Mohammed base in Pakistan
Photo (साभार जी न्यूज)

नई दिल्ली। नई दिल्ली। पुलवामा में भारतीय जवानेां पर आंतकी संगठन जैश ए मोहम्मद ने आतंकी हमला करवाया। जिसका बहावलपुर में मुख्यालय है और पिछले 20 साल से पाकिस्तान में सक्रिय रुप से काम कर रहा है। बालाकोट में जैश का सबसे बड़ा मुख्यालय है। विदेश सचिव पुलवामा में हुए आतंकी हमले के बाद आज हुई वायुसेना की सर्जिकल स्ट्राइक 2(#Surgical strike 2) के बाद संवाददाताअेां से बातचीत कर रहे थे।

Pulwama Terror Attack : IAF ने पीओके में जैश के आंतकी ठिकाने को किया तबाह
Terror camps destroyed by IAF air strike in POK VIDEO, Airforce attack at Jaish e Mohammed base attack video News, Airforce attack at Jaish e Mohammed base attack video news break, Surgical strike 2, Terror camps destroyed by IAF air strike in POK, Surgical strike 2 video, Surgical strike 2 news, Surgical strike 2 iral video, Surgical strike 2 kya h, NEWS, पुलवामा आतंकी हमला, पीओके में भारतीय वायुसेना का हमला, जैश ए मोहम्मद के ठिकाने तबाह, Surgical strike 2 video, #Surgicalstrike2, #Surgicalstrike2video, #Surgicalstrike2 news, #Surgicalstrike2breakingnews, #Surgicalstrike2viralvideo,विदेश सचिव वी.के.गोखले ने कहा कि 14 फरवरी 2019 को पुलवामा आत्मघाती हमले के बाद जैश ए मोहम्मद दूसरी बड़ी घटना को अंजाम देने की फिराक में था। जिसके इंटेलिजेंस इनपुट के आधार पर जैश को रोकना बेहद जरुरी था। इसकेा देखते हुए भारतीय वायुसेना ने एयर स्ट्राइक कर जैश के आंतकी शिविरों व आंतकियेां को तबाह कर दिया। इसमें आंतक कमांडर, फिदायनी सहित अन्य विस्फोटक को नष्ट कर दिया। इस हमले में मसूद अहजर का रिश्तेदार यूसुफ अजहर को भी ढेर कर दिया गया।

Modi है तो मुमकिन है: आंतक की सभी फैक्ट्रियां होगी बंद : PM Modi
विदेश सचिव ने बताया कि वायुसेना ने जैश के आंतकी कैंप को नष्ट किया है जंहा पर आतंकियों को प्रशिक्षण दिया जाता था। इस कैंप को यूसुफ ही चलाता था और यह जैश का सबसे बड़ा कैंप है।

बालाकोट में जैश-ए-मेाहम्‍मद के प्रशिक्षण शिविरों पर हमले के बारे में विदेश सचिव का वक्‍तव्‍य 

इस संगठन को संयुक्‍त राष्‍ट्र ने प्रतिबंधित घोषित कर रखा है। संगठन दिसंबर, 2001 में भारतीय संसद और जनवरी, 2016 में पठानकोट वायुसैनिक अड्डे पर हमलों सहित अनेक आतंकवादी हमलों के लिए जिम्‍मेदार है।

चुरु में विजय संकल्प सभा : PM Modi ने कहा देश सुरक्षित हाथों में, मैं देश नही झूकने दूंगा

पाकिस्‍तान और पाक अधिकृत कश्‍मीर में इनके प्रशिक्षण शिविरों के स्‍थान की जानकारी समय-समय पर पाकिस्‍तान को प्रदान की जाती रही है, हालांकि पाकिस्‍तान इसके अस्तित्‍व का खंडन करता रहा है। हजारों जिहादियों को प्रशिक्षण देने योग्‍य इतनी विशाल प्रशिक्षण सुविधाएं पाकिस्‍तान के अधिकारियों की जानकारी के बिना काम नहीं कर सकती।

भारत बार-बार पाकिस्‍तान से आग्रह करता रहा है कि वह जेईएम के खिलाफ कार्रवाई करे, ताकि जिहादियों को पाकिस्‍तान के अंदर प्रशिक्षित करने और उन्‍हें हथियार देने से रोका जा सके। पाकिस्‍तान ने अपनी जमीन पर आतंकवादियों के आधारभूत ढांचे को खत्‍म करने के लिए कोई ठोस कदम नहीं उठाया।

PM KISAN SAMMAN NIDHI : मात्र 25 रुपये में पात्र कृषक का ई-मित्र पर ऑनलाईन रजिस्ट्रेशन

विश्‍वसनीय जानकारी मिली थी कि जेईएम देश के विभिन्‍न भागों में एक अन्‍य आत्‍मघाती आतंकी हमला करने का प्रायस कर रहा है और इसके लिए फिदायीन जिहादियों को प्रशिक्षण दिया जा रहा है। आसन्‍न खतरे को देखते हुए एहतियाती हमला करना अनिवार्य हो गया था। खुफिया जानकारी के आधार पर भारत ने आज तड़के बालाकोट में जेईएम के सबसे बड़े प्रशिक्षण शिविर पर हमला किया। इस हमले में बड़ी संख्‍या में जेईएम आतंकवादी, प्रशिक्षक, वरिष्‍ठ कमांडर और जिहादियों के ऐसे समूहों का सफाया कर दिया गया, जिन्‍हें फिदायीन कार्रवाई का प्रशिक्षण दिया जा रहा था। बालाकोट में इस ठिकाने का नेतृत्‍व मौलाना युसूफ अजहर (उर्फ उस्‍ताद घोरी), जेईएम के प्रमुख मसूद अजहर का साला।

सरकार आतंकवाद की बुराई से निपटने के लिए सभी आवश्‍यक उपाय करने के लिए प्रतिबद्ध है। अत: यह असैनिक कार्रवाई विशेष तौर पर जेईएम शिविरों को निशाना बनाते हुए की गई। इन ठिकानों का चयन करते समय इस बात को भी ध्‍यान में रखा गया कि नागरिकों को हताहत होने से बचाया जा सके। यह ठिकानें किसी भी नागरिक बस्‍ती से दूर एक पहाडी पर घने जंगलों में स्थित हैं। चूंकि हमला कुछ समय पूर्व ही किया गया है, हम विवरण की प्रतीक्षा कर रहे हैं।

पीएम मोदी ने Pulwama Terror Attack पर कहा ” पाकिस्तान आंतकवाद का पर्याय बन चुका है”

पाकिस्‍तान सरकार ने जनवरी 2004 में यह प्रतिबद्धता व्‍यक्‍त की थी कि वह उसके नियंत्रण वाली अपनी जमीन अथवा क्षेत्र का इस्‍तेमाल भारत के खिलाफ आतंकवाद के लिए नहीं होने देगा।  पाकिस्‍तान अपनी प्रतिबद्धता पर कायम रहेगा और जेईएम और अन्‍य शिविरों को नष्‍ट करने के लिए आगे कार्रवाई करेगा तथा कार्रवाइयों के लिए आतंकवादियों को जवाबदेह बनाएगा।

14 फरवरी को जम्मू कश्मीर के पुलवामा में आतंकी हमले में सीआरपीएफ के 40 जवान शहीद हो गए थे। इस हमले की जिम्मेदारी जैश ए मोहम्मद ने ली थी।

www.hellorajasthan.com की ख़बरें फेसबुकट्वीटर और सोशल मीडिया पर पाने के लिए हमें Follow करें.