कभी कभी कड़वा घूंट पीकर करनी पड़ती है समाज सेवा : विजयवर्गीय

कभी-कभी-कड़वा-घूंट-पीकर-करनी-पड़ती-है-समाज-सेवा-:-विजयवर्गीय

भोपाल/इंदौर 8 जुलाई (आईएएनएस)। भाजपा के राष्ट्रीय महासचिव कैलाश विजयवर्गीय ने कांग्रेस छोड़कर भाजपा में आए नेताओं के साथ काम करने का जिक्र करते हुए कहा कि कई बार कड़वा घूंट पीकर भी समाज सेवा करनी होती है, इसी को राजनीति कहते हैं।

भाजपा द्वारा मध्य प्रदेश में आगामी समय में होने वाले 24 विधानसभा क्षेत्रों के उप-चुनाव के लिए विधानसभा क्षेत्रवार वर्चुअल रैलियां आयोजित की जा रही है। इसी क्रम में बुधवार को इंदौर के सांवेर विधानसभा क्षेत्र की रैली हुई। इसमें मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने भोपाल से संबोधित किया वहीं राष्ट्रीय महासचिव कैलाश विजयवर्गीय ने इंदौर से शामिल हुए।

इस वर्चुअल रैली को संबोधित करते हुए विजयवर्गीय ने कहा, कई कार्यकर्ताओं और मेरे जैसे कार्यकर्ता के भी मन में कभी कभी यह विचार आता है कि जिन कांग्रेस के लोगों के साथ हम लड़ते रहे उनके लिए हम कैसे काम करेंगे। मित्रो, राजनीति इसी को कहते हैं। कभी कभी कड़वा घूंट पीकर भी समाज सेवा करनी होती है। मैं जानता हूं, सांवेर के कार्यकर्ताओं से मिला.. उन्होंने कहा कि हम कैसे कांग्रेस का काम करेंगे। यह कांग्रेस का काम नहीं है क्योंकि तुलसी राम सिलावट ने भाजपा की सदस्यता ग्रहण कर ली है।

अपनी बात को आगे बढ़ाते हुए विजयवर्गीय ने कहा, भाजपा में सिलावट सिर्फ अकेले नहीं आए हैं अपने साथ विधायकों की फौज लेकर आए हैं। उस फौज के कारण शिवराज सिंह चौहान आज मुख्यमंत्री हैं। शिवराज सिंह लगातार मुख्यमंत्री बने रहें इसके लिए बहुत जरूरी है कि यह सीट हम जीते।

ज्ञात हो कि पूर्व केंद्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया के साथ तत्कालीन 22 विधायकों ने कांग्रेस छोड़ने के साथ विधानसभा की सदस्यता से इस्तीफा दे दिया था। उसी के कारण इन क्षेत्रों में उपचुनाव हो रहे हैं। इनमें से एक है इंदौर की सांवेर सीट, जहां से सिलावट उम्मीदवार हैं। सिलावट की गिनती सिंधिया के करीबियों में होती है।

–आईएएनएस