Top

त्रिपुरा : महिला डॉक्टर के साथ बदसलूकी मामले में 4 गिरफ्तार

त्रिपुरा : महिला डॉक्टर के साथ बदसलूकी मामले में 4 गिरफ्तार

अगरतला, 4 अगस्त (आईएएनएस)। त्रिपुरा में स्वास्थ्य सुविधा में महिला चिकित्सक से कथित रूप से दुर्व्यवहार करने और थूकने के आरोप में मंगलवार को चार लोगों को गिरफ्तार किया गया। पुलिस ने यह जानकारी दी।

इन चारों में एक अतिरिक्त सरकारी अधिवक्ता है जो पहले कोविड-19 पॉजिटिव पाया गया था। इन्हें सात दिनों की संस्थागत क्वांरटीन पूरा होने के बाद गिरफ्तार किया गया।

पीड़िता पश्चिम त्रिपुरा जिला स्वास्थ्य निगरानी अधिकारी संगीता चक्रवर्ती हैं। पुलिस अधिकारी ने कहा कि यहां इस घटना की रिपोर्ट सरकार द्वारा संचालित कोविड केयर सेंटर (सीसीसी) से की गई थी, जब वह 24 जुलाई को उन पांच महिलाओं को भर्ती कराने आई थीं, जिन्होंने एक दिन पहले ही बच्चों को जन्म दिया था।

चक्रवर्ती ने मीडिया को यह भी बताया, मरीजों में से एक ने कोविड केयर सेंटर की छत से मेरे सिर पर थूक डाला, मुझे सेंटर के भीतर भागने के लिए मजबूर किया।

उन्होंने कहा कि वे नए रोगियों को भर्ती कराने के लिए एक स्वास्थ्य विभाग की टीम और पुलिस कर्मियों के साथ सेंटर पहुंची थीं, जब लोगों, पुरुषों और महिलाओं के एक समूह ने उनके रास्ते में बाधा डाली और सेंटर में कोई बेड खाली नहीं होना का दावा किया था।

स्वास्थ्य अधिकारी ने कहा, जब अन्य डॉक्टरों और नर्सों द्वारा अपने बेड पर लौटने का अनुरोध किया गया, तो उनमें से कुछ ने गंदी भाषा का इस्तेमाल करते हुए मुझ पर थूक दिया और मुझे छूकर कोरोना से संक्रमित करने की धमकी देने लगे।

त्रिपुरा की स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग के निदेशक राधा देबबर्मा ने कहा कि प्राधिकरण आरोपियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई करेगा।

उन्होंने आईएएनएस से कहा कि हम स्वास्थ्य संस्थानों और कोविड देखभाल केंद्रों में किसी भी प्रकार की अभद्रता को बर्दाश्त नहीं करेंगे।

ऑल त्रिपुरा गवर्नमेंट डॉक्टर्स एसोसिएशन (एटीजीडीए) के महासचिव राजेश चौधरी ने सख्त सजा की मांग करते हुए कहा कि उन्होंने उच्च अधिकारियों के समक्ष इस मुद्दे को उठाया है।

त्रिपुरा के कानून एवं शिक्षा मंत्री रतन लाल नाथ ने उन सभी लोगों के खिलाफ कानूनी कार्रवाई का वादा किया है जिन्होंने महिला चिकित्सक के साथ दुर्व्यवहार किया है।

--आईएएनएस

Next Story
Share it