Top

दिल्ली में जिसे दो जून की रोटी जुटाना मुश्किल है, वह कैसे देगा दो हजार जुर्माना : बीजेपी

दिल्ली में जिसे दो जून की रोटी जुटाना मुश्किल है, वह कैसे देगा दो हजार जुर्माना : बीजेपी

नई दिल्ली, 21 नवंबर(आईएएनएस)। दिल्ली में मास्क न लगाने पर दो हजार रुपये जुर्माना लगाए जाने पर भाजपा ने केजरीवाल सरकार पर हमला बोला है। भाजपा की दिल्ली इकाई ने कहा है कि कोरोना काल में गरीब और जरूरतमंद लोगों के लिए दो जून की रोटी जुटाना मुश्किल है, वह मास्क के लिए दो हजार रुपये का जुर्माना कैसे देंगे?

भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष आदेश कुमार गुप्ता ने प्रेस कांफ्रेंस कर कहा कि, किसी भी समस्या के हल के लिए केजरीवाल सरकार की तैयारियां जमीन पर नहीं दिखतीं, लेकिन आम आदमी पार्टी इसके विपरीत जमीन पर कार्य करने की बजाए बयानबाजी में ज्यादा यकीन रखती है।

प्रदेश अध्यक्ष आदेश गुप्ता ने दिल्ली सरकार को नाकामी और अव्यवस्था को लेकर घेरते हुए कहा कि, दिल्ली सरकार की ओर से मास्क न पहनने पर 500 रुपये का जुर्माना बढ़ाकर दो हजार रुपये करने से समस्या का हल नहीं होगी बल्कि घूसखोरी को बढ़ावा मिलेगा। इस तुगलकी फरमान से उन लोगों को ज्यादा परेशानी होगी जो मास्क खरीदने में भी असमर्थ हैं।

आदेश कुमार गुप्ता ने कहा कि, एक तरफ केजरीवाल सरकार ने बसों, तिपहिया, ग्रामीण सेवा, ई-रिक्शा आदि में फुल सवारियों की छूट दे रखी है, दूसरी तरफ सड़क पर पैदल चलने वालों से सोशल डिस्टेंसिंग के नाम पर दो-दो हजार रुपये वसूली कर रही है। आखिर दिल्ली में क्या कोई गरीब, व्यापारी या मध्यमवर्ग के लोग नहीं रह सकते? दिल्ली में रहने के लिए केजरीवाल से रजिस्ट्रेशन करवाना पड़ेगा?

प्रदेश अध्यक्ष आदेश कुमार गुप्ता ने कहा कि, लोगों की मदद करना भाजपा के डीएनए में है। हमारे लिए सबसे पहले देश है, फिर पार्टी, सबसे आखिर में स्वयं। सिर्फ भाजपा ऐसी पार्टी है जो विचारधारा पर चलती है, बाकी पार्टियां वंशवाद व परिवारवाद पर चलती हैं। भाजपा में सबसे आखिर में बैठा कार्यकर्ता अपनी मेहनत से किसी भी पद पर पहुंच सकता है।

--आईएएनएस

एनएनएम/एएनएम

Next Story
Share it