Top

दिल्ली के मंत्री बाजारों में लोगों को पहना रहे मास्क

दिल्ली के मंत्री बाजारों में लोगों को पहना रहे मास्क

नई दिल्ली, 22 नवंबर (आईएएनएस)। कोरोना संक्रमण से बचने के लिए मास्क पहनना अनिवार्य है। दिल्ली में मास्क न पहनने पर सरकार ने 2000 रुपये का जुर्माना तय किया है। अब लोगों को इस जुर्माने से बचाने और कोरोना के प्रति जागरूक बनाने के लिए स्वयं दिल्ली सरकार के मंत्री बाजारों में घूम- घूम कर लोगों को मास्क बांट रहे हैं।

रविवार को दिल्ली सरकार के तीन मंत्रियों व कई विधायकों ने बाजारों में मास्क बांटने का अभियान चलाया। रविवार को दिल्ली के पर्यावरण मंत्री गोपाल राय, परिवहन मंत्री कैलाश गहलोत, खाद्य एवं आपूर्ति मंत्री इमरान हुसैन, जल बोर्ड के उपाध्यक्ष राघव चड्ढा व कई अन्य विधायकों ने जरूरतमंदों को मास्क बांटे। इस अभियान में ऐसे लोगों को मास्क पहनाया गया जो बिना मास्क के बाजार में घूम रहे थे।

मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल द्वारा मास्क बांटने की अपील के बाद दिल्ली के सरकार के मंत्रियों ने दिल्ली के अलग-अलग क्षेत्रों में निशुल्क मास्क बांटे हैं।

इस बारे में जानकारी देते हुए दिल्ली के पर्यावरण मंत्री गोपाल राय ने कहा, ग्रेटर कैलाश विधानसभा क्षेत्र, तुगलकाबाद विधान सभा क्षेत्र, मंगोलपुरी और कुंडली इलाकों आदि इलाकों में मास्क वितरण करवाएं।

दिल्ली के परिवहन मंत्री कैलाश गहलोत ने कहा, दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के आह्वान पर रविवार को नजफगढ़ बाजार, विधानसभा क्षेत्र नजफगढ़ में मास्क बांटे। सभी से कहा कि केवल मास्क पहनने से कोरोना से बचा जा सकता है। मार्केट असोसीएशन से भी अपील की सभी कस्टमर को मास्क लगाने को बोलें।

इमरान हुसैन ने बल्लीमारान विधानसभा के सदर थाना चौक पर मास्क वितरण कर सभी को हमेशा मास्क पहनकर रखने की हिदायत दी।

इससे पहले शनिवार को दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने इस अभियान की शुरुआत करते हुए पटपड़गंज के शांति मार्ग वेस्ट विनोद नगर और नरवाना रोड में स्थानीय नागरिकों, फल विक्रेताओं और दुकानदारों इत्यादि के बीच मास्क वितरण एवं सोशल डिस्टेंसिंग जागरूकता अभियान चलाया।

इस दौरान सिसोदिया ने कहा, कोरोना से लड़ाई के लिए एक तरफ हम हाथ जोड़कर विनती कर रहे हैं कि सभी लोग मास्क लगाने और सोशल डिस्टेंसिंग के नियमों का पालन करें। लेकिन दूसरी ओर जो लोग इनकी अनदेखी या लापरवाही करते हैं, उन पर सख्ती भी जरूरी है।

उन्होंने कहा कि मास्क लगाने पर आप खुद भी सुरक्षित रहते हैं और आपसे दूसरों को भी कोई नुकसान पहुंचने खतरा नहीं होता। दिल्ली सरकार ने कोरोना के इलाज के लिए सभी जरूरी मेडिकल व्यवस्था कर रखी है। लेकिन जरूरी यह है कि किसी के इलाज की नौबत ही न आए। जब तक कोरोना का कोई भरोसेमंद वैक्सीन नहीं आता, तब तक मास्क लगाने और सोशल डिस्टेंसिंग के नियमों का पालन करना ही प्रमुख उपाय है।

--आईएएनएस

जीसीबी/एसजीके

Next Story
Share it