Tuesday, July 7, 2020

डिजिटल अभिलेखागार बना दुनियां की पहली पसंद

Must read

लोकसभा चुनाव से पहले प्रियंका गांधी को मिली बड़ी जिम्मेदारी, बनी कांग्रेस महासचिव

नई दिल्ली। कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी ने लोकसभा चुनाव 2019 (Loksabha Election) से पहले प्रियंका गांधी वाड्रा( Priyanka Gandhi Vadra) को पूर्वी उतर प्रदेश...

भारत में 1 जुलाई तक 6 लाख हो जाएंगे कोरोना मामले, मेगा सीरो सर्वे की जरूरत

नई दिल्ली, 21 जून (आईएएनएस)। भारत में फिलहाल कोविड-19 के मामले चार लाख से अधिक हो चुके हैं। देश में एक जुलाई तक कोविड-19...

भारत के तेज गेंदबाजी आक्रमण में अच्छा संतुलन : पोलक

मुंबई, 14 जून (आईएएनएस)। दक्षिण अफ्रीका के पूर्व क्रिकेट कप्तान शॉन पोलक ने रविवार को कहा कि भारतीय टीम इस समय बहुत मजबूत स्थिति...

मोदी ने भाजपा सांसदों, विधायकों से बैंकिंग लेनदेन का ब्यौरा मांगा

नई दिल्ली। नोटबंदी को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मंगलवार को एक बड़ा फैसला किया है। पीएम ने भारतीय जनता पार्टी के सभी सांसदों...
- Advertisement -
शिकागो, कोलंबेा में शीघ्र होगा कार्य शुरु
हरीसबर्ग/पेनिसिलवेनिया । साऊथ एशियन स्टडीज विभाग, पेनिसिलवेनिया विश्विद्यालय, अमेरिका दारा  डिजीटल तकनीक पर अंर्तराष्ट्रीय डिजिटल अभिलेखागार बना दुनियां की पहली पसंद 1कांफे्रस में भारत के राजस्थान राज्य अभिलेखागार के डायरेक्टर डा.महेंद्र खड़गावत ने अभिलेखेां के डिजिटल तकनीक पर जानकारी दी। भारत की इस डिजिटल तकनीक की मदद से अभिलेखों को संरक्षित और सुरक्षित रखने के काम को दुनिंया के कई देश करना चाह रहे है, खासतौर पर यूएसए, शिकागों और काबूल के प्रतिनिधियेां ने अपने अपने देश में इस कार्य को करने के लिए अभिलेखागार डायरेक्टर से बातचीत भी की है।
कान्फ्रेंस मे ड़िजिटल अभिलेखागार पर ड़ा महेन्द्र खडगावत ने बताया कि सरकारी स्तर पर किस तरह से अभिलेखों को संकलित किया जाता है और उनको कई वर्षों तक  सरंक्षित रखने की आधुनिक डिजिटल तकनीक बताई और इसके साथ उन दस्तावेजों की माइक्रोफिल्म बनाने की जानकारी दी।
डा.खड़गावत ने बताया कि रियासतकालीन दस्तावेजेां को संकलित कर उनका डिजिटेलाइजेशन कर उसकी माईक्रोफिल्म बनाई गई है। इसके साथ ही करीब एक करोड़ दस्तावेजों के आनलाइन करने का काम भी राजस्थान राज्य अभिलेखागार के द्वारा किया गया है। देश के प्रधानमंत्री और प्रदेश की मुख्यमंत्री के द्वारा इस अभिलेखागार के द्वारा किये जा रहे कार्यों की सराहना भी की गई। डा.महेद्र खड़गावत ने बताया कि राजस्थान राज्य अभिलेखागार ने 75 लाख से अधिक राजपूताना की भूतपूर्व रियासतो के एतिहासिक एवं प्रशासनिक अभिलेखो को आनलाईन कर चुका है। उन्होने बताया कि ड़िजिटल अभिलेखागार बनाने के दोरान आई चुनोतियो, निराकरण, उपयोग, लाभ तकनीक के बारे मे भी बताया। रियासतकालीन दस्तावेज जो कि राजा महाराजाअेां के पास और सरकार के अलग अलग विभागों में रखे गए थे उनको संकलित करने में आई तकनीकी परेशानियेां को भी अभिलेखागार ने दूर किया।
काफं्रेस में इस तकनीक और सरकार स्तर पर किये गए प्रयासों की सराहना भी की गई और इस तकनीक के आधार पर दुनियंा के अन्य देशों में भी इस तरह के काम करने की इच्छा यंहा कई देशों के प्रतिनिधियेां ने जताई। कांफ्रेस के पहले दिन ड़ा खडगावत के अलावा, बिटिश लाईब्रेरी की ड़ा सोबस खान , शिकागो सेन्टर फोर रिसर्च लाईबेरी के उपाध्यक्ष जेम्स सिमन , के प्रजेंटेशन भी हुए ।
पाइए हर खबर अपने फेसबुक पर।   likeकीजिए  hellorajasthan का Facebook पेज।
- Advertisement -

Latest article

कश्मीर सांस्कृतिक केंद्र स्थापित करने के लिए अमेरिका में चर्च खरीद रहे कश्मीरी दंपति

श्रीनगर, 7 जुलाई (आईएएनएस)। एक कश्मीरी दंपति अमेरिका में 97 साल पुराने खाली चर्च को खरीदने की तैयारी में है और वह इसे एक...

विंडीज के खिलाफ पहले टेस्ट के लिए एंडरसन को ब्रॉड पर तरजीह देंगे वॉन

लंदन, 7 जुलाई (आईएएनएस)। इंग्लैंड के पूर्व कप्तान माइकल वॉन ने कहा है कि वह बुधवार से वेस्टंडीज के खिलाफ शुरू हो रहे पहले...

धोनी के जन्मदिन पर ब्रावो ने गिफ्ट किया हेलीकॉप्टर-7 गाना

नई दिल्ली, 7 जुलाई (आईएएनएस)। वेस्टइंडीज के ऑलराउंडर ड्वैन ब्रावो ने आईपीएल फ्रेंचाइजी चेन्नई सुपर किंग्स के अपने टीम साथी महेंद्र सिंह धोनी के...

श्रीदेवी अभिनीत मॉम की रिलीज को 3 साल पूरे

मुंबई, 7 जुलाई (आईएएनएस)। दिवंगत बॉलीवुड सुपरस्टार श्रीदेवी की आखिरी फिल्म मॉम की रिलीज को मंगलवार को तीन साल पूरे हो गए। यह 7...

उत्तराखंड के मंत्री सतपाल महाराज ने चीनी राष्ट्रपति को रामायण भेज कर किया आगाह (संशोधित)

देहरादून, 7 जुलाई (आईएएनएस)। उत्तराखंड के पर्यटन मंत्री सतपाल महाराज ने मंगलवार को चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग को प्राचीन ग्रन्थ रामायण भेजकर उन्हें...