दीया मिर्जा ने कोरोना महामारी पर चिंता जाहिर की

Must read

ईरान किसी भी स्तर पर कर सकता है यूरेनियम संवर्धन

तेहरान, 26 जनवरी (आईएएनएस)। ईरान के परमाणु संगठन (एईओआई) के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा है कि देश शुद्धता के किसी भी स्तर तक...

राजपथ पर राष्ट्रपति ने ली राष्ट्रीय सलामी

नई दिल्ली, 26 जनवरी (आईएएनएस)। राष्ट्रपति राम नाथ कोविंद ने रविवार को 71वें गणतंत्र दिवस के अवसर पर राजपथ पर राष्ट्रीय सलामी ली। लेफ्टिनेंट...

युद्वाभ्यास गगनशक्ति 2018: रेतीले धोरों में गरजा स्वदेशी तेजस

पोकरण(जैसलमेर)। भारत - पाकिस्तान अंर्तराष्ट्रीय सीमा के पास रेतीले धोरों के बीच स्वदेशी तेजस ने जंहा अपनी ताकत दिखाई वंही भारतीय सेना के जांबाज...

कोरोनावायरस : अमित साध ने न्यूयॉर्क दौरा रद्द किया

मुंबई, 14 मार्च (आईएएनएस)। दुनियाभर में कोरोनावायरस का कहर जारी है। चारों ओर लोग यथासंभव सावधानी बरतने की कोशिश कर रहे हैं। ऐसे में...
- Advertisement -

मुंबई, 4 अप्रैल (आईएएनएस)। अभिनेत्री-निर्माता दीया मिर्जा ने कई अन्य हस्तियों और उद्यमियों के साथ कोविड-19 के प्रकोप पर चिंता व्यक्त की है, जो संयुक्त राष्ट्र (यूएन) महासचिव के सतत विकास लक्ष्यों (एसडीजी) के पैरोकार और अलमनाई हैं। अभिनेत्री ने सहायता के दुनिया के दूरदराज में पहुंचने की उम्मीद जताई है।

दिया और एसडीजी के अन्य पैरोकार जैसे जैक मा (अलीबाबा समूह के संस्थापक) ने 3 अप्रैल को जारी एक बयान में कहा है कि वे प्रभावित लोगों के साथ एकजुटता से खड़े हैं।

- Advertisement -

बयान में अफ्रीका, मध्य पूर्व, दक्षिण एशिया, लैटिन अमेरिका और छोटे द्वीपों में कमजोर देशों की रक्षा और सहायता के लिए वैश्कि रूप से तत्काल कदम उठाने का आह्वान किया गया है। बयान में आग्रह किया गया है कि नेता, नीति निर्धारक और अंतर्राष्ट्रीय समुदाय, विशेष रूप से जी20 और जी7, को इन क्षेत्रों में कोविड-19 के प्रसार को रोकने के लिए आवश्यक संसाधनों को जुटाने के लिए जल्दी और निर्णायक रूप से कार्य करना चाहिए।

दीया ने कहा कि कोविड-19 के लिए खड़े होने के लिए वित्तीय और अन्य सहायता के संबंध में एक ग्लोबल मूवमेंट की आवश्यकता है।

अभिनेत्री ने कहा, कोविड -19 वायरस भौगोलिक सीमाओं से परे है। यह प्रकृति का एक संदेश है। पारिस्थितिक संतुलन की रक्षा, सुरक्षा, पुनस्र्थापना के लिए जागरूक होकर सभी को एक साथ काम करने का यह आह्वान है क्योंकि हमारा स्वास्थ्य पर्यावरण के स्वास्थ्य से निर्धारित होता है। यह एकजुटता, एकता, मानवता के लिए एक वायरस के खिलाफ लड़ाई के कारण होने वाले नुकसान और असमानताओं से निपटने और उबरने के लिए एक साथ काम करने का समय है।

उन्होंने कहा कि लोगों के लिए सामूहिक रूप से यह स्वीकार करने का समय भी है कि सतत विकास लक्ष्यों को प्राप्त करने के लिए हमें प्राकृतिक आवासों को नष्ट करना बंद करना चाहिए और सभी अवैध वन्यजीव व्यापार को रोकना चाहिए। और सबसे महत्वपूर्ण बात यह है कि वैश्विक संघर्ष विराम होना चाहिए क्योंकि हम इस लड़ाई एक वायरस के खिलाफ लड़ रहे हैं।

- Advertisement -

–आईएएनएस

- Advertisement -

Latest article

बीकानेर: सेरूणा पुलिसथानाधिकारी गुलाम नबी की हार्ट अटैक से मौत

बीकानेर(Bikaner News)। जिले के सेरुणा पुलिसथानाधिकारी (Seruna  Police Station SHO) की सेामवार सुबह हार्ट अटैक (Heart Attack) से मौत हेा गई। जिला पुलिस अधीक्षक...

वैश्विक सहयोग से ही कोविड-19 महामारी का खात्मा होगा

बीजिंग, 31 मई (आईएएनएस)। पिछले कुछ महीनों में दुनिया की तस्वीर बदल गयी है। क्योंकि अधिकांश देश कोविड-19 महामारी से जूझ रहे हैं और...

जम्मू-कश्मीर में एलओसी पर पाकिस्तान की तरफ से फिर गोलाबारी

जम्मू, 31 मई (आईएएनएस)। जम्मू एवं कश्मीर में शनिवार की शाम नियंत्रण रेखा (एलओसी) पर पाकिस्तानी सेना ने संघर्ष विराम का उल्लंघन करते हुए...

कोविड-19 : भारत में 1.82 लाख से अधिक मामले, 5164 मौतें

नई दिल्ली, 31 मई (आईएएनएस)। भारत में कोरोनावायरस महामारी से संक्रमति लोगों का आंकड़ा रविवार को बढ़कर 1.82 लाख से अधिक हो गया है,...

विश्व तंबाकू निषध दिवस पर विशेष : मध्यप्रदेश में तंबाकू बनता है हर साल 90 हजार लोगों की मौत का कारण

भोपाल। मध्यप्रदेश में तंबाकू (Madhyapradesh Tobacco) की बढ़ती लत कई गंभीर बीमारियों का कारण बनती जा रही है। राज्य में हर साल लगभग एक...