मौलाना फजल पर संगीन देशद्रोह का मुकदमा चलना चाहिए : इमरान

Must read

प्रधानमंत्री कृषि फसल बीमा को स्वैच्छिक बनाने को कैबिनेट की मंजूरी

नई दिल्ली, 19 फरवरी । केंद्रीय मंत्रिमंडल ने बुधवार को प्रधानमंत्री कृषि बीमा योजना (पीएमएफबीवाई) (Pradhan Mantri Fasal Bima Yojana) को किसानों के लिए स्वैच्छिक बनाने का फैसला...

वापसी करने को लेकर प्रतिबद्ध था : चिंग्लेसाना

भुवनेश्वर, 19 फरवरी । भारतीय पुरुष हॉकी टीम का एफआईएच प्रो लीग में बीते चार मैचों में मिडफील्ड का प्रदर्शन शानदार रहा है। टीम...

बॉलीवुड सिंगर संतोख सिंह के ‘मोनालिसा’ व ‘दिल्ली की जाटणी’ ने मचाई धूम

-सपना चौधरी के साथ ‘मौजां...’ व ‘5 साल...’  बटोर रहे हैं सुर्खियां  @गुरजंट धालीवाल  जयपुर. म्युजिक डायरेक्टर, गीतकार व बॉलीवुड सिंगर संतोख सिंह इन दिनों हाल ही...

दिल्ली महिला आयोग प्रमुख स्वाति ने पति नवीन से लिया तलाक

नई दिल्ली, 19 फरवरी । दिल्ली महिला आयोग (डीसीडब्ल्यू) (Delhi commission for women (dcw))की प्रमुख स्वाति मालीवाल (Swati Maliwal)ने बुधवार को कहा कि उन्होंने...
- Advertisement -

इस्लामाबाद, 14 फरवरी । पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने शुक्रवार को कहा कि जमीयते उलेमाए इस्लाम प्रमुख मौलाना फजलुररहमान पर संगीन देशद्रोह के आरोप में मुकदमा चलना चाहिए।

इमरान ने मीडियाकर्मियों से अनौपचारिक मुलाकात में कहा कि मौलाना फजल पर संविधान के अनुच्छेद छह के तहत संगीत देशद्रोह का मुकदमा चलना चाहिए क्योंकि उन्होंने (फजलुररहमान ने) खुद ही हाल में इस बात को स्वीकार किया है कि उन्होंने सरकार को गिराने की साजिश रची थी।

- Advertisement -

मौलान फजल ने बीते साल अक्टूबर में इमरान सरकार को सत्ता से हटाने की मांग के साथ देश में आजादी मार्च निकाला था और इस्लामाबाद में लंबा धरना दिया था। हाल ही में उन्होंने इस बात का खुलासा किया कि उन्होंने अपना आंदोलन इस आश्वासन पर वापस लिया था कि इमरान सरकार को हटाया जाएगा और देश में नए सिरे से निष्पक्ष चुनाव होंगे। मौलाना ने यह नहीं बताया कि उन्हें यह आश्वासन किसने दिया था।

इमरान ने कहा, मौलाना फजल के खिलाफ संविधान के अनुच्छेद छह के तहत मुकदमा चलना चाहिए। उन्होंने जो बयान दिया है, उसकी जांच की जानी चाहिए। उनसे यह पूछा जाना चाहिए कि उन्हें (सरकार को हटाने का) आश्वासन किसने दिया था।

इमरान ने राजनेताओं पर निशाना साधते हुए कहा, मैं न तो भ्रष्ट हूं और न राजनीति में पैसे बनाने आया हूं। जिन लोगों ने देश को लूटा है, वे सेना से डरते हैं। सैन्य एजेंसियां अच्छे से जानती हैं कि कौन क्या कर रहा है।

इमरान ने देश में बेतहाशा महंगाई, खाने-पीने की चीजों की कमी और भ्रष्टाचार का उल्लेख करते हुए कहा कि देश में एक कार्टेल है जो चीजों के दाम तय कर रहा है।

- Advertisement -

इमरान की पार्टी के कुछ नजदीकियों पर भी जमाखोरी के आरोप लगे हैं। इस संदर्भ में यह पूछे जाने पर कि इन कार्टेल को चला कौन रहा है और क्या इसमें उनके कुछ करीबी भी शामिल हैं, इमरान ने कहा कि गेंहूं की कमी की जांच रिपोर्ट में जहांगीर तरीन और खुसरो बख्तियार (इमरान के करीबी) का नाम नहीं आया है।

–आईएएनएस

- Advertisement -

Latest article

न्यूजीलैंड अपने घर में प्रबल दावेदार : रहाणे

वेलिंग्टन, 20 फरवरी । भारतीय टेस्ट टीम के उप-कप्तान अजिंक्य रहाणे का मानना है कि न्यूजीलैंड शुक्रवार से शुरू हो रही दो मैचों की...

2020 ब्रिट अवॉर्ड में रो पड़ी बिली ईलिश

लंदन, 20 फरवरी । मशहूर गायिका बिली ईलिश 2020 ब्रिट अवॉर्ड में सोशल मीडिया ट्रोल्स के बारे में बात करते हुए खुद को संभाल...

नीरजा का किरदार निभाना बनना चुनौतीपूर्ण था : सोनम कपूर

मुंबई, 20 फरवरी । बॉलीवुड अभिनेत्री सोनम के. आहूजा का कहना है कि साल 2016 में आई फिल्म नीरजा में फ्लाइट अटेडेंट नीरजा भनोट...

उप्र : भाजपा (BJP) विधायक के बेटे पर दलित कर्मचारी को पीटने का आरोप

बलिया (उत्तरप्रदेश), 20 फरवरी । उत्तर प्रदेश के भारतीय जनता पार्टी (Bharatiya Janata Party) (भाजपा (BJP)) के विधायक सुरेंद्र सिंह के बेटे हजारी सिंह पर एक दलित कर्मचारी...

वार्ताकार आज फिर करेंगे प्रदर्शनकारियों से मुलाकात

नई दिल्ली, 20 फरवरी । शाहीन बाग में प्रदर्शनकारियों से वरिष्ठ वकील संजय हेगड़े और वकील साधना रामचंद्रन आज फिर से मुलाकात करने वाले...