चीन में बिना संपर्क व्यक्ति का तापमान जानना व पहचान संभव

Must read

प्रधानमंत्री कृषि फसल बीमा को स्वैच्छिक बनाने को कैबिनेट की मंजूरी

नई दिल्ली, 19 फरवरी । केंद्रीय मंत्रिमंडल ने बुधवार को प्रधानमंत्री कृषि बीमा योजना (पीएमएफबीवाई) (Pradhan Mantri Fasal Bima Yojana) को किसानों के लिए स्वैच्छिक बनाने का फैसला...

वापसी करने को लेकर प्रतिबद्ध था : चिंग्लेसाना

भुवनेश्वर, 19 फरवरी । भारतीय पुरुष हॉकी टीम का एफआईएच प्रो लीग में बीते चार मैचों में मिडफील्ड का प्रदर्शन शानदार रहा है। टीम...

बॉलीवुड सिंगर संतोख सिंह के ‘मोनालिसा’ व ‘दिल्ली की जाटणी’ ने मचाई धूम

-सपना चौधरी के साथ ‘मौजां...’ व ‘5 साल...’  बटोर रहे हैं सुर्खियां  @गुरजंट धालीवाल  जयपुर. म्युजिक डायरेक्टर, गीतकार व बॉलीवुड सिंगर संतोख सिंह इन दिनों हाल ही...

दिल्ली महिला आयोग प्रमुख स्वाति ने पति नवीन से लिया तलाक

नई दिल्ली, 19 फरवरी । दिल्ली महिला आयोग (डीसीडब्ल्यू) (Delhi commission for women (dcw))की प्रमुख स्वाति मालीवाल (Swati Maliwal)ने बुधवार को कहा कि उन्होंने...
- Advertisement -

नई दिल्ली/बीजिंग, 14 फरवरी । चीनी शोधकर्ताओं ने किसी भी व्यक्ति से संपर्क किए बिना ही उसके शरीर के तापमान की जांच और उसकी पहचान करने के लिए एक व्यापक प्रणाली विकसित की है। इस प्रणाली को विकसित करने वाले शोधकर्ताओं के अनुसार, यह तकनीक नोवेल कोरोनावायरस (कोविड-19) की रोकथाम और नियंत्रण कार्यो को सुविधाजनक बनाने के लिए तैयार की गई है।

चाइना डेली की रिपोर्ट के अनुसार, चीन राष्ट्रीय परमाणु निगम (सीएनएनसी) ने बताया कि एक्स एच-टी आई पहचान तंत्र शरीर का तापमान बताने के साथ ही चेतावनी प्रणाली एक साथ व्यक्ति की पहचान व उसके आईडी कार्ड की जानकारी की पुष्टि भी कर सकता है। इस तकनीक की मदद से किसी भी व्यक्ति से संपर्क किए बिना ही उसके चेहरे की पहचान और शरीर के तापमान की जांच की जा सकती है।

- Advertisement -

प्रत्येक व्यक्ति के लिए पूरी प्रक्रिया 0.3 डिग्री सेल्सियस से कम तापमान में भी पूरी सटीकता से महज कुछ सेकंड में ही पूरी हो जाती है। इसके बाद सिस्टम व्यक्ति की पहचान और शरीर के तापमान के बारे में संयुक्त जानकारी उत्पन्न करता है और इसे उसके डेटाबेस में जोड़ देता है।

इस प्रणाली को नॉर्थवेस्ट चीन के शानक्सी प्रांत के शीआन में एक स्थानीय सूचना कंपनी व जिडियन यूनिवर्सिटी के साथ सीएनएनसी की एक संयुक्त टीम द्वारा विकसित किया गया है।

इस प्रणाली से उन लोगों को खोजने में तेजी आएगी जो बुखार से पीड़ित हैं और इसके प्रभावी तकनीकी सहायता के रूप में काम करने की उम्मीद है। यह प्रणाली विशेष रूप से कोविड-19 को नियंत्रित करने में भी अपनी विशेष भूमिका निभा सकती है।

इसका उपयोग सार्वजनिक परिवहन स्टेशनों, हवाईअड्डों, नौका टर्मिनलों और अन्य भीड़ भरे सार्वजनिक स्थानों में किया जा सकता है। यह आवासीय समुदायों, कार्यालय भवनों और कारखानों जैसे स्थानों पर लोगों की स्क्रीनिंग के लिए महत्वपूर्ण साबित हो सकता है।

- Advertisement -

–आईएएनएस

- Advertisement -

Latest article

न्यूजीलैंड अपने घर में प्रबल दावेदार : रहाणे

वेलिंग्टन, 20 फरवरी । भारतीय टेस्ट टीम के उप-कप्तान अजिंक्य रहाणे का मानना है कि न्यूजीलैंड शुक्रवार से शुरू हो रही दो मैचों की...

2020 ब्रिट अवॉर्ड में रो पड़ी बिली ईलिश

लंदन, 20 फरवरी । मशहूर गायिका बिली ईलिश 2020 ब्रिट अवॉर्ड में सोशल मीडिया ट्रोल्स के बारे में बात करते हुए खुद को संभाल...

नीरजा का किरदार निभाना बनना चुनौतीपूर्ण था : सोनम कपूर

मुंबई, 20 फरवरी । बॉलीवुड अभिनेत्री सोनम के. आहूजा का कहना है कि साल 2016 में आई फिल्म नीरजा में फ्लाइट अटेडेंट नीरजा भनोट...

उप्र : भाजपा (BJP) विधायक के बेटे पर दलित कर्मचारी को पीटने का आरोप

बलिया (उत्तरप्रदेश), 20 फरवरी । उत्तर प्रदेश के भारतीय जनता पार्टी (Bharatiya Janata Party) (भाजपा (BJP)) के विधायक सुरेंद्र सिंह के बेटे हजारी सिंह पर एक दलित कर्मचारी...

वार्ताकार आज फिर करेंगे प्रदर्शनकारियों से मुलाकात

नई दिल्ली, 20 फरवरी । शाहीन बाग में प्रदर्शनकारियों से वरिष्ठ वकील संजय हेगड़े और वकील साधना रामचंद्रन आज फिर से मुलाकात करने वाले...