भ्रष्ट नहीं हूं, इसलिए सेना से नहीं डरता : इमरान खान

Must read

राजस्थान के परिवहन विभाग में ACB कार्रवाई, सभी 15 आरोपियों से पूछताछ जारी

राजस्थान के RTO में मासिक बंधी का खेल जयपुर। प्रदेश में चल रहे भ्रष्ट्राचार के खेल में शामिल परिवहन विभाग के अधिकारी व दलालों पर...

भारतीय छात्रों ने कहा, चीन में हालात बेहद गंभीर

मानेसर, 18 फरवरी । भारतीय छात्रों ने मंगलवार को कहा कि कोरोनावायरस का केंद्र बन चुके चीन के वुहान प्रांत में स्थिति बेहद गंभीर...

रन लोला रन के देसी संस्करण में नजर आएंगे ताहिर, तापसी

मुंबई, 18 फरवरी । अभिनेत्री तापसी पन्नू और अभिनेता ताहिर राज भसीन जर्मन फिल्म रन लोला रन के हिंदी रूपांतरण में साथ नजर आएंगे।साल...

सीबीएसई सैंपल पेपर्स में गलती बताने वाली याचिका खारिज (लीड-1)

नई दिल्ली, 18 फरवरी । दिल्ली हाईकोर्ट ने मंगलवार को केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (सीबीएसई) के कक्षा 12वीं के अकाउंटेंसी के सैंपल प्रश्नपत्रों में...
- Advertisement -

इस्लामाबाद, 15 फरवरी । पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने शुक्रवार को कहा कि सेना अच्छी तरह से जानती है कि न तो वह पैसा कमा रहे हैं और न ही भ्रष्ट हैं। उन्होंने कहा कि वह दिन-रात मेहनत कर रहे हैं, इसलिए वह सेना से नहीं डरते हैं।

द न्यूज इंटरनेशनल की रिपोर्ट की अनुसार, प्रधानमंत्री खान ने अपनी सरकार की स्थिरता को स्पष्ट करते हुए कहा कि सरकार कहीं नहीं जा रही है। उन्होंने कहा कि एजेंसियों को पता है कि कौन क्या कर रहा है और यही कारण है कि भ्रष्टाचार में लिप्त लोगों को सेना का डर था। खान ने कहा कि वह न तो भ्रष्ट हैं और न ही राजनीति कर पैसा कमा रहे हैं और यही कारण है कि सेना मेरे साथ खड़ी है। उन्होंने कहा कि सरकार और सेना के बीच कोई तनाव नहीं है।

- Advertisement -

खान ने पीएम हाउस में मीडियाकर्मियों के साथ बातचीत के दौरान यह बात कही। सूचना और प्रसारण मामलों के लिए उनकी विशेष सहायक डॉ. फिरदौस आशिक अवान भी इस अवसर पर उपस्थित रहीं।

उन्होंने कहा कि खुफिया एजेंसियों को नवाज शरीफ और आसिफ जरदारी के भ्रष्टाचार के बारे में पूरी तरह पता था और वे यह भी जानते हैं कि वह (इमरान खान) पैसा नहीं कमा रहे हैं, बल्कि देश के लिए दिन-रात मेहनत कर रहे हैं।

उन्होंने कहा कि सरकार के खिलाफ साजिश रचने के लिए जेयूआई-एफ के प्रमुख मौलाना फजलुर रहमान के खिलाफ संविधान के अनुच्छेद-6 के तहत उच्च राजद्रोह का मामला दर्ज होना चाहिए। प्रधानमंत्री ने इस बात पर भी जोर दिया कि उनकी टिप्पणियों की जांच होनी चाहिए।

हाल के दिनों में आटे और चीनी संकट के मुद्दे पर उन्होंने कहा कि सरकार को उन तत्वों के खिलाफ सख्त कार्रवाई करनी होगी, जो वस्तुओं के कृत्रिम मूल्य वृद्धि के पीछे हैं।

- Advertisement -

विभिन्न खाद्य व अन्य पदार्थो की मूल्यवृद्धि पर विपक्ष के विरोध के संबंध में उन्होंने कहा कि विपक्ष एक राजनीतिक माफिया है, जिसका महंगाई से कोई लेना-देना नहीं है, बल्कि वे अपने भविष्य को लेकर चिंतित हैं।

प्रधानमंत्री ने कहा कि विपक्ष रोना रो रहा है और उम्मीद कर रहा है कि यह सरकार अपना कार्यकाल पूरा नहीं करेगी, लेकिन सरकार अपना कार्यकाल पूरा करेगी।

–आईएएनएस

- Advertisement -

Latest article

बवाली वीडियो का असर : एसआईटी पहुंची जामिया यूनिवर्सिटी

नई दिल्ली, 18 फरवरी । तीन चार दिन में एक साथ कई संदिग्ध वीडियो बाहर आने से दिल्ली पुलिस में भी खलबली मची हुई...

ऑनलाइन चाइल्ड पोर्नोग्राफी का खात्मा बड़ी चुनौती : कैलाश सत्यार्थी

नई दिल्ली, 18 फरवरी । बच्चों का बचपन बचाने के अभियान में लगे नोबेल पुरस्कार विजेता कैलाश सत्यार्थी ने यहां मंगलवार को कहा कि...

पाकिस्तान ने क्रूज मिसाइल का सफल परीक्षण किया : आईएसपीआर

इस्लामाबाद, 18 फरवरी । पाकिस्तान ने हवा से दागी जाने वाली क्रूज मिसाइल राड-2 का सफलतापूर्वक परीक्षण किया है। पाकिस्तान के इंटर-सर्विसिस पब्लिक रिलेशंस...

एशियाई कुश्ती चैंपियनशिप : सुनील ने ग्रीको रोमन में स्वर्ण जीतकर रचा इतिहास (राउंडअप)

नई दिल्ली, 18 फरवरी । भारत के सुनील कुमार ने मंगलवार से यहां शुरू हुई एशियाई कुश्ती चैंपियनशिप के पहले दिन ग्रीको रोमन के...

कोरोना वायरस (Corona Virus) की रोकथाम में अच्छे परिणाम मिले : चीनी स्वास्थ्य आयोग

बीजिंग, 18 फरवरी । चीनी राष्ट्रीय स्वास्थ्य आयोग की अधिकारी क्वो यानहोंग ने सोमवार को पेइचिंग में कहा कि नए कोरोना वायरस (Corona Virus) निमोनिया की...