निर्मोही अखाड़ा राम मंदिर (Ram Mandir) ट्रस्ट से संतुष्ट नहीं

Must read

बीकानेर : बॉलीवुड अभिनेत्री सोनाक्षी सिन्हा ने शूटिंग शुरु की

@नवरतन सोनी बीकानेर। बॉलीवुड अभिनेत्री सोनाक्षी सिन्हा ने बीकानेर जैसलमेर राष्ट्रीय राजमार्ग पर शूटिंग शुरु की। जिसमें वह ब्लैक कलर के कपड़े पहने बुलेट मेाटरसाइकिल...

भारतीयों के साथ होने को लेकर उत्सुक हूं : ट्रंप

न्यूयॉर्क, 24 फरवरी । अमेरिकी राष्ट्रपति (President of the United States) डोनाल्ड ट्रंप (Donald Trump) ने कहा है कि वह भारत के लोगों के साथ होने को लेकर उत्सुक हैं। वे...

अमेरिकी राष्ट्रपति (President of the United States) के खाने में होगा गुजरात का विशेष व्यजंन

अहमदाबाद, 24 फरवरी । अमेरिकी राष्ट्रपति (President of the United States) डोनाल्ड ट्रंप (Donald Trump) अपनी पत्नी मेलानिया के भारत आज पहुंच रहे हैं। राष्ट्रपति ट्रंप गुजरात के अहमदाबाद में लैंड...

अमेरिका भारत को सबसे आधुनिक हथियार देने को तैयार : ट्रंप

अहमदाबाद, 24 फरवरी । मोटेरा स्टेडियम (Motera Stadium) में अमेरिकी राष्ट्रपति (President of the United States) डोनाल्ड ट्रंप (Donald Trump) ने कहा कि अमेरिका भारत को सबसे परिष्कृत (आधुनिक) हथियारों की आपूर्ति करने...
- Advertisement -

अयोध्या, 14 फरवरी । भव्य राम मंदिर (Ram Mandir) (Ram Mandir) के निर्माण की देखरेख के लिए केंद्र द्वारा स्थापित श्री राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट को लेकर यहां निर्मोही अखाड़े से असंतोष के स्वर उभरने लगे हैं।

निमोर्ही अखाड़ा के सरपंच राजा रामचंद्राचार्य ने कहा है कि नए ट्रस्ट में कई दोष हैं।

- Advertisement -

उन्होंने कहा, सरकार ने ट्रस्ट के गठन से पहले निर्मोही अखाड़े से सलाह नहीं ली। निर्मोही अखाड़ा को दिया गया प्रतिनिधित्व निर्थक है, क्योंकि प्रतिनिधि के पास शक्तियां नहीं हैं। हम जल्द ही बैठक करेंगे और विकल्पों पर अमल करेंगे।

सूत्रों ने संकेत दिया कि निर्मोही अखाड़ा इस मुद्दे पर सुप्रीम कोर्ट (Supreme court) (Supreme court) भी जा सकता है।

बुधवार को संतों की एक बैठक हुई, जिसमें इस मुद्दे पर चर्चा की गई। इस मुद्दे पर अगले सप्ताह एक और औपचारिक बैठक होने वाली है।

केंद्र ने निर्मोही अखाड़े के महंत दीनेंद्र दास को ट्रस्ट का सदस्य नियुक्त किया है, लेकिन संत इससे संतुष्ट नहीं हैं।

- Advertisement -

निर्मोही अखाड़ा उस समय अयोध्या विवाद का पक्षकार बना, जब उसने 1985 में अयोध्या के उप-न्यायाधीश के यहां एक मुकदमा दायर किया, जिसमें विवादित ढांचे से सटे क्षेत्र राम चबूतरा में राम मंदिर (Ram Mandir) (Ram Mandir) बनाने की सहमति मांगी गई थी।

अदालत ने हालांकि अनुमति देने से इनकार कर दिया था। वहीं निर्मोही अखाड़ा ने भूमि को पुन: प्राप्त करने और मंदिर के निर्माण के लिए अपना प्रयास जारी रखा।

–आईएएनएस

- Advertisement -

Latest article

दिल्ली हिंसा : अब तक 10 की मौत, 2 आईपीएस सहित 186 लोग जख्मी

नई दिल्ली, 25 फरवरी । उत्तरी-पूर्वी दिल्ली जिले में सीएए विरोधी और समर्थकों के बीच झड़प के बाद तीन दिन से जारी हिंसक घटनाओं...

एशिया एकादश बनाम विश्व एकादश : कोहली और डु प्लेसिस की मिल सकती हैं कमान

ढाका, 25 फरवरी । बांग्लादेश क्रिकेट बोर्ड (बीसीबी) द्वारा आयोजित किए जा रहे एशियाई एकादश और विश्व एकादश के मैच में कप्तानी विराट कोहली...

दिल्ली के चार इलाकों में कर्फ्यू

नई दिल्ली, 25 फरवरी । नागरिकता कानून के समर्थकों और विरोधियों के बीच हुई झड़प और हिंसा को देखते हुए दिल्ली के चार इलाकों...

दिल्ली हिंसा : उत्तर पूर्वी दिल्ली के कई इलाकों में पुलिस और भीड़ आमने-सामने, फायरिंग, आगजनी, पथराव जारी

नई दिल्ली, 25 फरवरी उत्तर पूर्वी जिले के कई इलाकों में हालात बेकाबू हो गए हैं। मौजपुर और सीमापुरी इलाके (गाजियाबाद बार्डर पर...

अपने दुष्प्रचार की नुमाइश करेगा पाकिस्तान

इस्लामाबाद, 25 फरवरी । पाकिस्तान बीते साल 27 फरवरी को भारतीय और पाकिस्तानी वायुसेना के बीच की मुठभेड़ को तोड़ मरोड़कर पेश करने से...