बिहार : चीन से लौटे 28 कोरोना संदिग्धों को आइसोलेशन में रखा गया

Must read

राजस्थान के परिवहन विभाग में ACB कार्रवाई, सभी 15 आरोपियों से पूछताछ जारी

राजस्थान के RTO में मासिक बंधी का खेल जयपुर। प्रदेश में चल रहे भ्रष्ट्राचार के खेल में शामिल परिवहन विभाग के अधिकारी व दलालों पर...

भारतीय छात्रों ने कहा, चीन में हालात बेहद गंभीर

मानेसर, 18 फरवरी । भारतीय छात्रों ने मंगलवार को कहा कि कोरोनावायरस का केंद्र बन चुके चीन के वुहान प्रांत में स्थिति बेहद गंभीर...

रन लोला रन के देसी संस्करण में नजर आएंगे ताहिर, तापसी

मुंबई, 18 फरवरी । अभिनेत्री तापसी पन्नू और अभिनेता ताहिर राज भसीन जर्मन फिल्म रन लोला रन के हिंदी रूपांतरण में साथ नजर आएंगे।साल...

सीबीएसई सैंपल पेपर्स में गलती बताने वाली याचिका खारिज (लीड-1)

नई दिल्ली, 18 फरवरी । दिल्ली हाईकोर्ट ने मंगलवार को केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (सीबीएसई) के कक्षा 12वीं के अकाउंटेंसी के सैंपल प्रश्नपत्रों में...
- Advertisement -

पटना, 14 फरवरी । बिहार में अब तक कोरोनावायरस के संदिग्ध 28 लोगों को आइसोलेशन में रखा गया है। सभी की प्रतिदिन जांच की जा रही है।

इंटीग्रेड डिजीज सर्विलांस प्रोजेक्ट (आईडीएसपी) के स्टेट सर्विलांस अधिकारी डॉ. रागिनी मिश्रा ने शुक्रवार को आईएएनएस को बताया कि राज्य में अभी तक चीन से आए 28 लोगों को आइसोलेशन में रखा गया है, जिनकी प्रतिदिन जांच कराई जा रही है।

- Advertisement -

उन्होंने कहा कि आज (शुक्रवार को) कोलकाता से मिली जानकारी के मुताबिक, गया में चार, पूर्वी चंपारण में एक और वैशाली में एक यात्री के पहुंचने की सूचना आई है, जिसकी जांच की जा रही है।

उन्होंने कहा, अभी तक आशंका वाले छह मरीजों के रक्त नमूने जांच के लिए भेजे गए हैं, जिसमें से चार की जांच रिपोर्ट निगेटिव आई है, जबकि दो की जांच रिपोर्ट की प्रतीक्षा की जा रही है। सभी संदिग्ध मरीजों को 28 दिनों तक सर्विलांस पर रखा जा रहा है।

डॉ. मिश्रा ने बताया कि फिलहाल बिहार में कोरोना को लेकर अब तक कहीं से कोई पॉजिटिव केस नहीं मिला है। उन्होंने बताया कि गया और पटना हवाईअड्डे पर जांच कैंप बनाए गए हैं।

नेपाल से लगती बिहार सीमा के सात जिलों में 98 कैंप लगाए गए हैं, जहां आने वाले यात्रियों की स्क्रीनिंग की जा रही है। इन जिलों में सीतामढ़ी, पश्चिमी चंपारण, पूर्वी चंपारण, किशनगंज, अररिया, सुपौल व मधुबनी शामिल हैं।

- Advertisement -

इस बीच संदिग्ध मरीज को स्वास्थ्य विभाग होम आइसोलेशन की सुविधा दे रही है। विभाग द्वारा विषम परिस्थिति में ही संदिग्ध मरीजों को अस्पतालों में रखकर इलाज करने का निर्देश दिया गया है।

स्वास्थ्य विभाग कोरोनावायरस को लेकर लगातार संदिग्ध मरीजों पर नजर रख रहा है। राज्य में सभी जिलों के स्वास्थ्य अधिकारियों को इसके लिए अलर्ट किया जा चुका है। सभी मेडिकल कॉलेज (Medical College) (Medical College) अस्पतालों में आइसोलेशन वार्ड बनाए गए हैं, जहां कोरोनावायरस के संदिग्ध मरीजों को रखने व इलाज की सुविधा उपलब्ध कराने का निर्देश दिया गया है।

–आईएएनएस

- Advertisement -

Latest article

बवाली वीडियो का असर : एसआईटी पहुंची जामिया यूनिवर्सिटी

नई दिल्ली, 18 फरवरी । तीन चार दिन में एक साथ कई संदिग्ध वीडियो बाहर आने से दिल्ली पुलिस में भी खलबली मची हुई...

ऑनलाइन चाइल्ड पोर्नोग्राफी का खात्मा बड़ी चुनौती : कैलाश सत्यार्थी

नई दिल्ली, 18 फरवरी । बच्चों का बचपन बचाने के अभियान में लगे नोबेल पुरस्कार विजेता कैलाश सत्यार्थी ने यहां मंगलवार को कहा कि...

पाकिस्तान ने क्रूज मिसाइल का सफल परीक्षण किया : आईएसपीआर

इस्लामाबाद, 18 फरवरी । पाकिस्तान ने हवा से दागी जाने वाली क्रूज मिसाइल राड-2 का सफलतापूर्वक परीक्षण किया है। पाकिस्तान के इंटर-सर्विसिस पब्लिक रिलेशंस...

एशियाई कुश्ती चैंपियनशिप : सुनील ने ग्रीको रोमन में स्वर्ण जीतकर रचा इतिहास (राउंडअप)

नई दिल्ली, 18 फरवरी । भारत के सुनील कुमार ने मंगलवार से यहां शुरू हुई एशियाई कुश्ती चैंपियनशिप के पहले दिन ग्रीको रोमन के...

कोरोना वायरस (Corona Virus) की रोकथाम में अच्छे परिणाम मिले : चीनी स्वास्थ्य आयोग

बीजिंग, 18 फरवरी । चीनी राष्ट्रीय स्वास्थ्य आयोग की अधिकारी क्वो यानहोंग ने सोमवार को पेइचिंग में कहा कि नए कोरोना वायरस (Corona Virus) निमोनिया की...