शिक्षकों को केजरीवाल के शपथग्रहण का निमंत्रण, भाजपा (BJP) ने इसे तुगलकी फरमान बताया

Must read

प्रधानमंत्री कृषि फसल बीमा को स्वैच्छिक बनाने को कैबिनेट की मंजूरी

नई दिल्ली, 19 फरवरी । केंद्रीय मंत्रिमंडल ने बुधवार को प्रधानमंत्री कृषि बीमा योजना (पीएमएफबीवाई) (Pradhan Mantri Fasal Bima Yojana) को किसानों के लिए स्वैच्छिक बनाने का फैसला...

बॉलीवुड सिंगर संतोख सिंह के ‘मोनालिसा’ व ‘दिल्ली की जाटणी’ ने मचाई धूम

-सपना चौधरी के साथ ‘मौजां...’ व ‘5 साल...’  बटोर रहे हैं सुर्खियां  @गुरजंट धालीवाल  जयपुर. म्युजिक डायरेक्टर, गीतकार व बॉलीवुड सिंगर संतोख सिंह इन दिनों हाल ही...

वापसी करने को लेकर प्रतिबद्ध था : चिंग्लेसाना

भुवनेश्वर, 19 फरवरी । भारतीय पुरुष हॉकी टीम का एफआईएच प्रो लीग में बीते चार मैचों में मिडफील्ड का प्रदर्शन शानदार रहा है। टीम...

दिल्ली महिला आयोग प्रमुख स्वाति ने पति नवीन से लिया तलाक

नई दिल्ली, 19 फरवरी । दिल्ली महिला आयोग (डीसीडब्ल्यू) (Delhi commission for women (dcw))की प्रमुख स्वाति मालीवाल (Swati Maliwal)ने बुधवार को कहा कि उन्होंने...
- Advertisement -

नई दिल्ली, 15 फरवरी । आम आदमी पार्टी (Aam Aadmi Party) (Aam Aadmi Party)(आप) ने शनिवार को कहा कि दिल्ली शिक्षा निदेशालय(डिओई) ने रामलीला मैदान में रविवार को होने वाले अरविंद केजरीवाल और उनकी कैबिनेट के शपथग्रहण समारोह में स्कूलों के शिक्षकों और प्रधानाध्यापकों को निमंत्रण दिया है। पार्टी ने कहा कि शिक्षक बीते पांच वर्षो में दिल्ली के कायाकल्प के ध्वजवाहक रहे हैं। भाजपा (BJP) (BJP) ने हालांकि इसकी तीखी आलोचना की है और इसे आप सरकार का तुगलकी फरमान करार दिया।

डीओई के सर्कुलर के अनुसार, स्कूलों के प्रधानाचार्यो को उप प्रधानाचार्यो, इंटरप्रेनरशिप माइंडसेट करिकुलम कोर्डिनेटर्स, हैप्पीनेस कोर्डिनेटर्स और शिक्षक विकास समन्वयक समेत 20 अन्य लोगों को लाने के लिए कहा गया है।

- Advertisement -

भाजपा (BJP) (BJP) नेता और नवनिर्वाचित विधायक विजेन्द्र गुप्ता ने इसे तुगलकी फरमान बताया और इस आदेश को वापस लेने के बाबत शनिवार को केजरीवाल को पत्र लिखा।

गुप्ता ने पत्र में केजरीवाल को शिक्षकों और अधिकारियों को जारी किए गए तुगलकी फरमान को वापस लेने के लिए कहा और इसके साथ ही उन्होंने कहा कि राजनीतिक लाभ प्राप्त करने के लिए यह सरकारी मशीनरी का दुरुपयोग है।

गुप्ता ने कहा, शिक्षा को किसी के राजनीतिक महत्वाकांक्षा के औजार के रूप में उपयोग नहीं किया जा सकता है। इसके अलावा, लोकतंत्र में इस तरह के आदेश को जारी करना लोगों के अधिकारों का उल्लंघन है।

इसपर प्रतिक्रिया देते हुए, आप नेता जस्मीन शाह ने ट्वीट किया, दिल्ली के शिक्षक और प्रधानाध्यापक बीते पांच वर्षो में दिल्ली का कायाकल्प करने के ध्वजवाहक रहे हैं। वे कल रामलीला मैदान में होने वाले शपथग्रहण समारोह में आमंत्रित किए जाने योग्य हैं। भाजपा (BJP) (BJP) ने केंद्र के अपने विकास मॉडल में कब शिक्षकों के बारे में अंतिम बार सोचा था। कभी नहीं।

- Advertisement -

आप ने प्रधानमंत्री और उनकी कैबिनेट, भाजपा (BJP) (BJP) विधायकों व सांसदों समेत दिल्ली में रहने वाले सभी लोगों को शपथग्रहण समारोह में आमंत्रित किया है।

–आईएएनएस

- Advertisement -

Latest article

बिहार : प्रधानमंत्री के लिट्टी-चोखा खाने को विपक्ष ने चुनाव से जोड़कर किया कटाक्ष

पटना, 20 फरवरी । प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) द्वारा बुधवार को दिल्ली में चल रहे हुनर हाट में बिहारी व्यंजन लिट्टी चोखा का स्वाद लिए...

जर्मनी : गोलीबारी में 11 लोगों की मौत, संदिग्ध का मिला शव (लीड-1)

बर्लिन, 20 फरवरी । जर्मनी के शहर हानाऊ में दो स्थानों में हुई गोलीबारी की अलग-अलग घटनाओं में कम से कम 11 लोगों की...

ईपीएल : मैनचेस्टर सिटी ने वेस्ट हैम को दी मात

मैनचेस्टर, 20 फरवरी । यूईएफए द्वारा लगाए गए दो साल के बैन का मैनचस्टर सिटी पर किसी तरह का असर नहीं दिखा और टीम...

राष्ट्रीय स्तर के हॉकी खिलाड़ी की गोली मारकर हत्या

चंडीगढ़, 20 फरवरी । राष्ट्रीय स्तर के हॉकी खिलाड़ी और उनके दोस्त की यहां बुधवार को पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह के गृहनगर पटियाला...

आईफा अवार्ड (International Indian Film Academy Awards) के नाम पर 1 करोड़ की धोखाधड़ी करने वाला व्यक्ति गिरफ्तार

इंदौर, 20 फरवरी । मध्य प्रदेश के इंदौर में इस वर्ष मार्च के महीने में होने वाले आईफा आवार्ड के नाम पर एक करोड़...