बिहार : हिंदुस्तानी अवाम मोर्चा शराबबंदी को चुनावी मुद्दा बनाने में जुटा!

Must read

बीकानरे से सियालदाह दुरंतों एक्सप्रेस 24 फरवरी से

-श्याम मारू बीकानेर। बीकानेर से सियालदाह दुरंतो एक्सप्रेस (12259/12260 Sealdah – Bikaner - Sealdah Duronto Express) 24 फरवरी को रवाना होगी। इस ट्रेन के उद्घाटन...

बीकानेर : बॉलीवुड अभिनेत्री सोनाक्षी सिन्हा ने शूटिंग शुरु की

@नवरतन सोनी बीकानेर। बॉलीवुड अभिनेत्री सोनाक्षी सिन्हा ने बीकानेर जैसलमेर राष्ट्रीय राजमार्ग पर शूटिंग शुरु की। जिसमें वह ब्लैक कलर के कपड़े पहने बुलेट मेाटरसाइकिल...

भारतीयों के साथ होने को लेकर उत्सुक हूं : ट्रंप

न्यूयॉर्क, 24 फरवरी । अमेरिकी राष्ट्रपति (President of the United States) डोनाल्ड ट्रंप (Donald Trump) ने कहा है कि वह भारत के लोगों के साथ होने को लेकर उत्सुक हैं। वे...

सिद्धार्थ शुक्ला ने की बुजुर्ग प्रशंसक से मुलाकात

मुंबई, 23 फरवरी । बिग बॉस (Big Boss) 13 के विजेता सिद्धार्थ शुक्ला शो के फिनाले के बाद पहली बार रविवार को आम लोगों के बीच...
- Advertisement -

पटना, 15 फरवरी । बिहार महागठबंधन में शामिल हिंदुस्तान अवाम मोर्चा(हम) के प्रमुख और पूर्व मुख्यमंत्री जीतन राम मांझी राज्य में शराबबंदी को इस साल होने वाले चुनाव में मुद्दा बनाने की कोशिश में लगे हुए हैं। मांझी जहां एक ओर शराब को कभी-कभी दवा के रूप में पेश करने की बात करते हैं, वहीं बिहार में शराबबंदी को वह पूरी तरह असफल भी बताते हैं।

बिहार में शराबबंदी को लेकर भले ही कई लोग खुश हैं, परंतु इस कानून के लागू होने से कई लोग सरकार से नाराज भी हैं। ऐसे में मांझी इस शराबबंदी को लेकर चुनाव में उतरने की कोशिश में लगे हुए हैं।

- Advertisement -

मांझी ने कहा, शराब कभी-कभी दवा के रूप में भी पेश की जाती है। हमें इसका अनुभव है। बहुत पहले मैं हैजा से पीड़ित था तब एक नुस्खे ने मुझे बचा लिया।

उन्होंने पूर्णिया के एक कार्यक्रम में कहा, थोड़ा शराब पीना काम करने वाले श्रमिकों के लिए संजीवनी के बराबर होता है, जो दिन भर कमरतोड़ मेहनत कर अपने घर लौटते हैं। हमारी सरकार या हम समर्थित सरकार बनी तो शराबबंदी कानून बदलने का काम करेगी।

इस बयान के बाद बिहार में सियासी बयानबाजी तेज हो गई है। बिहार के भूमि सुधार मंत्री राम नारायण मंडल ने कहा कि शराब किसी के लिए भी नुकसानदेह है। उन्होंने दावा किया कि लोग शराब पर प्रतिबंध लगाने से खुश हैं और यह हमेशा के लिए रहने वाला है।

भाजपा (BJP) (BJP) के विधान पार्षद संजय मयूख ने कहा कि शराबबंदी राजनीतिक मुद्दा नहीं है, और इसे राजनीति में नहीं घसीटा नहीं जाना चाहिए।

- Advertisement -

उल्लेखनीय है कि बिहार में वर्ष 2016 से किसी भी प्रकार की शराब की बिक्री और सेवन पर प्रतिबंध है।

–आईएएनएस

- Advertisement -

Latest article

अमेरिका : टेक्सास मार्केट गोलीबारी, 7 घायल

ह्यूस्टन, 24 फरवरी । अमेरिका के टेक्सास स्थित कबाड़ी बाजार में गोलीबारी की घटना में सात लोग घायल हो गए।समाचार एजेंसी सिन्हुआ की रपटों...

2010 में मैं 15 साल की थी कहने के बाद ट्रोल हुईं स्वरा भास्कर

मुंबई, 24 फरवरी । एक कार्यक्रम के दौरान अपनी उम्र गलत बताने के बाद अभिनेत्री स्वरा भास्कर (Bollywood Actress Swara Bhaskar trolled) एक बार...

दक्षिण अफ्रीका में गिरफ्तार अंडरवर्ल्ड डॉन रवि पुजारी बेंगलुरू लाया गया

बेंगलुरू, 24 फरवरी । अंडरवर्ल्ड डॉन रवि पुजारी को दक्षिण अफ्रीका से बेंगलुरू के लिए लाया गया। डॉन को रविवार को दक्षिण अफ्रीका में...

ट्रंप के स्वागत के लिए पूरी तरह से तैयार है आगरा

आगरा, 24 फरवरी । अमेरिकी राष्ट्रपति (President of the United States) डोनाल्ड ट्रंप (Donald Trump) के स्वागत के लिए ऐतिहासिक शहर आगरा पूरी तरह से तैयार है। ट्रंप की यात्रा के...

पेट्रोल, डीजल के भाव स्थिर, 3 फीसदी टूटा कच्चा तेल

नई दिल्ली, 24 फरवरी । पेट्रोल और डीजल के दाम में सोमवार को कोई बदलाव नहीं हुआ, लेकिन कच्चे तेल में करीब तीन फीसदी...