दिल्ली : कमिश्नर ने माना, लॉकडाउन में चैंकिग के दौरान कुछ पुलिसकर्मियों द्वारा दुर्व्यवहार की शिकायतें मिली हैं

Must read

लॉकडाउन से बोर होकर उर्वशी ने डाली अपनी एक नई तस्वीर

मुंबई, 4 अप्रैल (आईएएनएस)। अभिनेत्री उर्वशी रौतेला (Urvashi Rautela)आजकल कोविड-19 को फैलने से रोकने के चलते देशभर में बुलाए गए लॉकडाउन में घर पर...

आधी रात तबलीगियों को दौड़ा ग्रामीणों ने नहीं घुसने दिया क्वारंटाइन सेंटर

फरीदाबाद, 3 अप्रैल (आईएएनएस)। कोरोना के बहाने साथ-साथ मौत लेकर घूमने के आरोपी तबलीगी चारों ओर से घिरते जा रहे हैं। देश के तकरीबन...

वेब सीरीज के लिए अपनी डायट पर मेहनत कर रही हैं लिजा मलिक

मुंबई, 3 अप्रैल (आईएएनएस)। अभिनेत्री लिजा मलिक अपनी वेब सीरीज हू इज योर डैडी? में अपने किरदार के लिए भिन्न डायट चार्ट को फॉलो...

चूरू : कर्फ़्यू के दौरान डोर टू डोर सामान उपलब्ध करा रही मोबाइल वैन

चूरू। जिले के चूरू नगरीय क्षेत्र में धारा 144 अंतर्गत लगाए गए कर्फ़्यू के दौरान आमजन को चूरू सहकारी उपभोक्ता होलसेल भंडार की मोबाइल...
- Advertisement -

नई दिल्ली, 25 मार्च (आईएएनएस)। दिल्ली पुलिस कमिश्नर एस.एन. श्रीवास्तव ने बुधवार को कहा कि लॉकडाउन की पाबंदियों के दौरान पुलिस द्वारा दुर्व्यवहार की शिकायतें मिल रही हैं। ऐसा तुरंत बंद करें। पुलिसकर्मी संयम बरतें। कोरोना जैसी महामारी के बाद सामने आई कठिनाईयों से निपटने में पुलिस सहायक की भूमिका निभाये। इसके अलावा उन्होंने कहा कि मुसीबत की इस घड़ी में सड़क पर मौजूद दिल्ली पुलिस को इंसान के साथ-साथ बेजुबान जानवरों का भी ख्याल रखना होगा।

यह तमाम दिशा-निर्देश उन्होंने बुधवार शाम करीब 7 बजे मीडिया को जारी ऑडियो बयान के जरिये मातहतों को दिए हैं।

- Advertisement -

पुलिस आयुक्त ने बजरिये इस बयान के आगे कहा, लॉकडाउन की पाबंदियों के दौरान आम इंसान की जरुरतों को समझकर उन्हें सहूलियतपूर्ण तरीके से सुलझाना भी हमारा कर्तव्य होना चाहिए।

पुलिस कमिश्नर श्रीवास्तव के मुताबिक, इस मुसीबत में पूरा राष्ट्र में पूरा लॉकडाउन हो चुका है। इसमें हमसब और हमारे आपके सबके परिवार भी शामिल हैं। रोजमर्रा की सुविधाओं का ख्याल रखना सड़क पर मौजूद पुलिस का भी काम है। हमें ख्याल रखना चाहिए कि इस दौरान कहीं किसी बुजुर्ग को परेशानी न हो। रोजमर्रा की जरुरत की वस्तुएं आपूर्ति में पुलिस कहीं व्यवधान न बने। इंसान के साथ साथ बेजुबान जानवरों का भी हमें ख्याल रखना चाहिए। लिहाजा पशुओं का जानवर लाने- ले जाने वालों को किसी भी तरह की परेशानी राजधानी की सड़कों पर नहीं होनी चाहिए।

मीडिया को जारी बयान में पुलिस आयुक्त ने आगे कहा, होम डिलीवरी सेवाओं में सहयोग करने वालों की उनके गंतव्य तक पहुंचने में मदद की जाए। हवाईअड्डे पर जाने वालों को बेवजह परेशानी महसूस न हो। किसी भी आम नागरिक को न लगे कि लॉकडाउन के चलते किसी को परेशानी हो रही है।

पुलिस कमीश्नर के बयान के मुताबिक, अस्पताल सेवाओं से जुड़े लोगों को अनावश्यक न रोकें। हमें ऐसे लोगों की सहायता करनी है। अगर इन्हें कठिनाई होगी तो कुछ वक्त बाद लोगों को इससे परेशानी महसूस होने लगेगी।

- Advertisement -

ऑडियो संदेश के अंत में पुलिस आयुक्त ने साफ साफ माना है कि, चैकिंग के दौरान पुलिसकर्मियों द्वारा दुर्व्यवहार की कुछ शिकायतें मिली हैं। किसी प्रकार के उकसाने पर भी पुलिसकर्मी संयम न खोयें। प्रशिक्षित पुलिसकर्मी की मानिंद ड्यूटी निभायें। ज्यादा से ज्यादा मास्क और सेनेटाइजर का इस्तेमाल जरुर करें।

— आईएएनएस

- Advertisement -

Latest article

यह हैदराबाद, औरंगाबाद का अपमान है : ओवैसी

हैदराबाद, 5 अप्रैल (आईएएनएस)। ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन के प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी ने कहा कि कोरोनावायरस संक्रमण को लेकर राजनीतिक पार्टियों के नेताओं के...

नेटफ्लिक्स करेगा टाइगर किंग का अतिरिक्त एपिसोड रिलीज

लॉस एंजेलिस, 5 अप्रैल (आईएएनएस)। नेटफ्लिक्स अगले सप्ताह टाइगर किंग का एक अतिरिक्त एपिसोड जारी करेगा। इसकी जानकारी चिड़ियाघर के मालिक जेफ लोवे ने...

आईसीएमआर ने अस्पतालों में रैपिड एंटीबॉडी टेस्ट के लिए दिशानिर्देश जारी किए

नई दिल्ली, 5 अप्रैल (आईएएनएस)। इंडियन काउंसिल ऑफ मेडिकल रिसर्च (आईसीएमआर) ने देश के कोरोनोवायरस हॉटस्पॉटों में इस महामारी के लक्षण वाले व्यक्तियों के...

करण जौहर के बेटे ने उन्हें बोरिंग कहा

मुंबई, 5 अप्रैल (आईएएनएस)। ऐसा लगता है कि कोरोनोवायरस लॉकडाउन ने फिल्म निर्माता करण जौहर को एक पैपराजो में बदल दिया है, क्योंकि वह...

कोरोना : मुंबई में आठ की मौत, 103 नए मामले

5 अप्रैल (आईएएनएस)। मुंबई में रविवार को कोविड -19 के कारण आठ व्यक्तियों की मौत हो गई, जबकि शहर में 103 मामले आने के...