झारखण्ड में डोर-टू-डोर डिलेवरी करने वाली दुकानों की सूची जारी

Must read

कोरोना वायरस (Corona Virus): केंद्रीय राज्यमंत्री ने एक माह का वेतन और सांसद निधि से दिए एक करोड़

बीकानेर। कोरोना वायरस (Corona Virus) के बढ़ते संक्रमण की रोकथाम के लिए लाॅकडाउन के दौरान बीकानेर सांसद एंव भारी उधेाग एंव लोक उधम और संसदीय कार्य...

राजस्थान: प्रदेश में जिला स्तर पर कोरोना महामारी सहायता कंट्रेाल रुम, देखे सूची

जयपुर। केारोना वायरस के संक्रमण की रोकथाम के लिए चल रहे लाॅकलाडन के दौरान प्रदेश की आमजनता को किसी तरह की परेशान ना हो...

रिलायंस Jio का नया सरप्राइज पैक, हर रोज 2 जीबी डेटा फ्री

नई दिल्ली। रिलायंस जियो (Reliance Jio) ने एक बार फिर कोरोना वायरस (Corona Virus) के संक्रमण के चलते लाॅकडाउन #Lockdown के दौरान अपने ग्राहकेां को डाटा पैक (Reliance...

राजस्थान CM अशोक गहलोत ने की कलेक्टर कुमारपाल गौतम की सराहना, प्रदेश भर में लागू होगा बीकानेर का मॉडल

मुख्यमंत्री ने जिला कलक्टर (District Collector) गौतम के प्रयासों की सराहना की बीकानेर। कोरोना वायरस (Corona Virus) संक्रमण की रोकथाम के लिए प्रदेशभर में किए गए लॉक डाउन के...
- Advertisement -

रांची, 26 मार्च । कोरोनावायरस संक्रमण रोकने के लिए किए गए लॉकडाउन का झारखंड में गुरुवार को दूसरा दिन है। पहले दिन पीएम मोदी की अपील का खासा असर देखा गया। लोग सड़कों पर नहीं आये और जो आये उन पर प्रशासन ने सख्ती दिखाई। पहले दिन लोग रोजमर्रा की चीजों को लेकर परेशान नजर आए लेकिन अब झारखंड सरकार ने खुद लोगों तक जरुरी चीजों को पहुचाने का बीड़ा उठाया है।

इसके अलावा खुद सीएम हेमन्त सोरेन आपने ऑफिसियल ट्विटर हैंडल से उन दुकानों और मेगा स्टोर की लिस्ट साझा कर रहे हैं जो इस समय डोर-टू-डोर खाद्य सामग्री भेजने की सुविधा दे रहे हैं। सीएम के ट्विटर हैंडल पर उन दुकानों का पता और मोबाइल नंबर भी है। ताकि उपभोक्ता उनसे संपर्क कर सकें।

- Advertisement -

इस बीच लॉकडाउन के पहले दिन ही लोगों को समझ में आ गया है कि जरूरी चीजों के लिए उन्हें परेशान नहीं होना पड़ेगा। राशन, सब्जी, दवा आदि की दुकानें और पेट्रोल जैसी जरूरत की चीजों की दुकानें खुली हुईं हैं। रांची के डोरंडा इलाके में रह रहे रजनीश सिंह बताते हैं कि सीएम के इस मुहिम से शहरी लोगों को मालूम हो गया है कि चीजें कहां मिलेंगी। लिहाजा अब घबराहट का माहौल नहीं है।

उधर राज्य में मेडिकल, किराना व सब्जी दुकानों के बाहर सोशल डिस्टेंसिंग की जा रही है। दुकानों के बाहर एक-एक मीटर की दूरी पर गोले बनवाए गए हैं। लोग समझदारी से काम ले रहे हैं। लेकिन ग्रामीण इलाकों में अब भी परंपरागत तरीके से ही बाजार लगने की खबर आ रही है। इन इलाकों में लोग जरूरत के सामान खरीदने के लिए सुबह-सुबह ही निकल जाते हैं।

–आईएएनएस

- Advertisement -

Latest article

देश में कोरोना के 1071 मामले, 29 की मौत : स्वास्थ्य मंत्रालय

नई दिल्ली, 30 मार्च । भारत में कोरोनावायरस के संक्रमण के 1071 मामले आ चुके हैं जिनमें से 29 लोगों की मौत हो चुकी...

सेंसेक्स 1100 अंक टूटा, निफ्टी में 300 अंकों की गिरावट

मुंबई, 30 मार्च । कोरोना के कहर का असर बाजार में सोमवार को भी बना रहा। आरंभिक कारोबार के दौरान सेंसेक्स पिछले सत्र से...

कोरोना नाम बना कलंक, गांव का नाम बदलना चाहते हैं ग्रामीण

सीतापुर (उत्तर प्रदेश), 30 मार्च । लखनऊ से लगभग 90 किलोमीटर की दूरी पर स्थित, एक छोटा-सा गांव इस समय संकट में है।रातों-रात यह...

करण के बेटे को लगता है बिग बी खत्म कर सकते हैं कोरोनावायरस

मुंबई, 30 मार्च । फिल्मकार करण जौहर ने अपने बेटे यश के साथ कोविड-19 पर एक नया वीडियो पोस्ट किया है, जो कहीं न...

हिमाचल : मुख्यमंत्री ने कोविड-19 राहत कोष में दान दिया

चंडीगढ़, 30 मार्च । हिमाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने राज्य के कोविड-19 सॉलिडैरिटी रिस्पॉन्स फंड में एक लाख रुपये दान किए हैं।यह...