गृह मंत्रालय ने फंसे प्रवासी मजदूरों, छात्रों को शर्तों के साथ अपने राज्य जाने की दी छूट

Must read

शाहीनबाग में देर रात प्रदर्शनकरियों के दो गुटों में हुई झड़प

नई दिल्ली, 22 मार्च (आईएएनएस)। दिल्ली के शाहीनबाग में नागरिकता संशोधन कानून के खिलाफ चल रहे प्रदर्शन को बंद करवाने को लेकर दो गुट...

झारखंड : मरांडी को नेता प्रतिपक्ष बनाकर सोरेन सरकार को घेरेगी भाजपा

नई दिल्ली, 24 फरवरी (आईएएनएस)। झारखंड में सरकार चला रहे आदिवासी चेहरे हेमंत सोरेन की घेराबंदी के लिए भाजपा ने भी बड़े आदिवासी चेहरे...

दूरसंचार उद्योग (COAI)ने सरकार को जीएसटी में ऐतिहासिक सुधार के लिए दी बधाई

नई दिल्ली। देश में दूरसंचार सेवा प्रदाताओं तथा सम्बद्ध इंटरनेट एवं टेकनोलोजी कम्पनियों का प्रतिनिधित्व करने वाली उद्योग जगत की सर्वोच्च संस्था COAI ने जीएसटी...

प्रधानमंत्री मोदी ने लोगों से कहा, डरे नहीं, सतर्क रहें

नई दिल्ली, 12 मार्च (आईएएनएस)। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने गुरुवार को भारतीयों से अपील की कि वे डरें नहीं बल्कि कोरोनावायरस को लेकर सतर्क...
- Advertisement -

नई दिल्ली, 29 अप्रैल(आईएएनएस)। केंद्र सरकार (Government of India)ने लॉकडाउन (Lockdown) में फंसे प्रवासी मजदूरों, छात्रों, तीर्थयात्रियों, पर्यटकों आदि को उनके गृह राज्य (MHA)में जाने की अनुमति कुछ शर्तों के साथ दी है। गृहमंत्रालय ने लॉकडाउन के दौरान अंतरराज्यीय परिवहन की छूट के संबंध में बुधवार को आदेश जारी किया है। यह आदेश गृह सचिव ने आपदा प्रबंधन एक्ट के अधिकारों का प्रयोग करते हुए जारी किया है। राज्यों से बाहर से आने वालों लोगों के स्वास्थ्य परीक्षण से लेकर क्वारंटीन आदि को लेकर सख्त निर्देश जारी किए गए हैं।

Irfan Khan Dies: राष्ट्रपति, प्रधानमंत्री ने इरफान के निधन को विश्व सिनेमा की बड़ी क्षति बताया

- Advertisement -

Irfan Khan Dies: बॉलीवुड एक्टर इरफान खान का 54 साल की उम्र में निधन

नेशनल एक्जिक्यूटिव कमेटी के चेयरमैन के तौर पर गृह सचिव अजय कुमार भल्ला की ओर से जारी निदेशरें में कहा गया है कि लॉकडाउन के कारण प्रवासी मजदूर, तीर्थयात्री, पर्यटक, छात्र और अन्य व्यक्ति अलग-अलग जगहों पर फंसे हैं। ऐसे में उन्हें शर्तों के साथ जाने की अनुमति होगी।

अगर मुझे जीने का मौका मिलेगा, तो अपनी पत्नी के लिए जीना चाहूंगा: अभिनेता इरफान

लॉकडाउन में फंसे लोगों के अंतरराज्यीय परिवहन के लिए सभी राज्य नोडल अधिकारियों की नियुक्ति करेंगे। राज्यों को अपने लोगों को लाने और दूसरे राज्यों के लोगों को भेजने के लिए उचित प्रोटोकॉल का पालन करना होगा। एक दूसरे के राज्यों में समूह में फंसे लोगों को लाने और ले जाने के लिए राज्य आपस में चर्चा कर उचित व्यवस्था बनाएंगे।

- Advertisement -

गृहमंत्रालय ने बाहर से आने वाले सभी व्यक्तियों की स्क्रीनिंग को अनिवार्य बताया है। कहा है कि जांच में असिम्पटोमैटिक होने पर ही उन्हें प्रक्रिया में भाग लेने का मौका मिलेगा।

Irfan Khan Dies: क्रिकेटर युवराज बोले “इस सफर और दर्द को जानता हूं”

गृह मंत्रालय ने लोगों को लाने और भेजने में इस्तेमाल बसों को सैनिटाइज करने का निर्देश दिया है। कहा है कि बस के अंदर भी सोशल डिस्टैंसिंग का पालन कराना होगा। अपने गंतव्य तक पहुंचने के बाद स्थानीय स्वास्थ्य विभाग के अधिकारी स्क्रीनिंग करेंगे। जिसके बाद उनके होम क्वारंटीन या फिर इंस्टीट्यूशनल(संस्थागत) क्वारंटीन की व्यवस्था होगी। बाहर से आने वाले लोगों की लगातार निगरानी भी होगी।

गृहमंत्रालय ने ऐसे लोगों को आरोग्य सेतु ऐप डाउनलोड करने के लिए प्रोत्साहित करने का निर्देश दिया है। लॉकडाउन के दौरान बाहर से आने वाले लोगों के क्वारंटीन के संबंध में स्वास्थ्य मंत्रालय से बीते 11 मार्च 2020 को जारी गाइडलाइंस का सभी राज्यों को पालन करना होगा।

- Advertisement -

जल संकट पर गंभीरता से काम करना होगा : केंद्रीय जल शक्ति मंत्री शेखावत

–आईएएनएस

इरफान की अन्य खबरों के लिए यंहा देखें

www.hellorajasthan.com की ख़बरें फेसबुकट्वीटर और सोशल मीडिया पर पाने के लिए हमें Follow करें.

- Advertisement -

Latest article

वैश्विक सहयोग से ही कोविड-19 महामारी का खात्मा होगा

बीजिंग, 31 मई (आईएएनएस)। पिछले कुछ महीनों में दुनिया की तस्वीर बदल गयी है। क्योंकि अधिकांश देश कोविड-19 महामारी से जूझ रहे हैं और...

जम्मू-कश्मीर में एलओसी पर पाकिस्तान की तरफ से फिर गोलाबारी

जम्मू, 31 मई (आईएएनएस)। जम्मू एवं कश्मीर में शनिवार की शाम नियंत्रण रेखा (एलओसी) पर पाकिस्तानी सेना ने संघर्ष विराम का उल्लंघन करते हुए...

कोविड-19 : भारत में 1.82 लाख से अधिक मामले, 5164 मौतें

नई दिल्ली, 31 मई (आईएएनएस)। भारत में कोरोनावायरस महामारी से संक्रमति लोगों का आंकड़ा रविवार को बढ़कर 1.82 लाख से अधिक हो गया है,...

विश्व तंबाकू निषध दिवस पर विशेष : मध्यप्रदेश में तंबाकू बनता है हर साल 90 हजार लोगों की मौत का कारण

भोपाल। मध्यप्रदेश में तंबाकू (Madhyapradesh Tobacco) की बढ़ती लत कई गंभीर बीमारियों का कारण बनती जा रही है। राज्य में हर साल लगभग एक...

फिर से खबरों में आया बरेली का कपल, पति को भेजा गया जेल

बरेली (उप्र), 31 मई (आईएएनएस)। बरेली के दंपति ने पिछले साल जुलाई में तब सुर्खियां बटोरी थीं, जब उन्होंने उप्र में लड़की के पिता...