गौतमबुद्धनगर : स्वास्थ्य कर्मियों को कोरोना से बचाव के लिए प्रशिक्षण

Must read

एसबीआई ने एमसीएलआर में की कटौती, आवास ऋण होगा सस्ता

मुंबई, 7 फरवरी (आईएएनएस)। देश का सबसे बड़ा सरकारी बैंक, भारतीय स्टेट बैंक (एसबीआई) ने फंड आधारित ब्याज दर की सीमांत लागत यानी एमसीएलआर...

मप्र : कबाड़ से बनाए गए उपकरणों से होती है पढ़ाई

भोपाल, 4 फरवरी (आईएएनएस)। समाज में बदलाव लाने और जीवन को बेहतर बनाने के उद्देश्य से अक्सर लोग नवाचार कर नए-नए उपकरण सामने लेकर...

सरकार की योजना को सफल बनाने के लिए जनता की भागीदारी जरूरी : गुईटे

जयपुर। मणिपाल विरूविद्यालय जयपुर के ऑडिटोरियम में डवलपमेंट डॉयलोग इनीशिएटिव पर एक इंटरएक्शन कार्यक्रम का आयोजन किया गया। कार्यक्रम के मुख्य अतिथि आईएएस एवं...

पाकिस्तान को मिलेगा कड़ा जवाब – मुख्यमंत्री

जयपुर। देशभक्ति से लबरेज हजारों युवाओं ने मुख्यमंत्री श्रीमती वसुन्धरा राजे की मौजूदगी में बुधवार को अमरूदों के बाग में राष्ट्र गीत वन्देमातरम् का...
- Advertisement -

गौतमबुद्धनगर, 29 अप्रैल (आईएएनएस)। उत्तर प्रदेश के गौतमबुद्धनगर जिले में सभी चिकित्सालयों के डॉक्टर, नर्स, पैरामेडिकल स्टाफ और इलाज कराने वालों को कोरोनावायरस के संक्रमण से सुरक्षित रखने के मद्देनजर प्रशासन ने एक प्रशिक्षण कार्यक्रम शुरू किया है।

इस कार्यक्रम को पूर्ण रूप से सफल बनाने के उद्देश्य से जिम्स के सभागार में कोविड-19 के लिए नोडल अधिकारी नरेंद्र भूषण की अध्यक्षता में बुधवार को एक बैठक आहूत की गई। इस बैठक में जिला अधिकारी सुभास एल.वाई., मुख्य विकास अधिकारी अनिल कुमार सिंह, जिम्स के निदेशक राकेश गुप्ता तथा अन्य वरिष्ठ अधिकारी तथा 100 डॉक्टरों ने भाग लिया।

- Advertisement -

बैठक में नरेंद्र भूषण ने कहा, देखने में आ रहा है कि चिकित्सालय में कार्य करने वाले डॉक्टर पैरामेडिकल स्टाफ और वहां चिकित्सा प्राप्त कर रहे परिवार भी कोरोनावायरस के संक्रमण से ग्रसित हो रहे हैं। इस पर अंकुश लगाने के लिए आवश्यक है कि सभी चिकित्सालय स्टाफ को अपनी ड्यूटी के दौरान कोरोनावायरस से सुरक्षित करने के उद्देश्य से व्यापक स्तर पर प्रशिक्षण कार्यक्रम आयोजित किया जाए, ताकि सभी को कोरोनावायरस के संक्रमण से बचाया जा सके।

प्रशिक्षण कार्यक्रम को सफल बनाने के लिए मुख्य विकास अधिकारी को नोडल अधिकारी बनाया गया है। सभी को तकनीकी जानकारी देने के उद्देश्य से जिम्स के निदेशक के द्वारा प्रशिक्षण दिया जाएगा। नोडल अधिकारी ने कहा, कोविड-19 को लेकर जिम्स अस्पताल के निदेशक के सानिध्य में सभी चिकित्सकों और अन्य स्टाफ के द्वारा सराहनीय कार्य किया जा रहा है, जिसके फलस्वरूप यहां पर सभी कोरोना संक्रमित मरीज ठीक होकर अपने घर जा रहे हैं। इसी प्रकार अन्य चिकित्सालय में भी कार्यवाही सुनिश्चित की जाए। इस उद्देश्य की पूर्ति के लिए प्रशिक्षण दिया जाना अत्यंत आवश्यक है।

डीएम सुहास एल. वाई. ने कहा, चिकित्सालय स्टाफ के प्रशिक्षण में कोरोनावायरस के संक्रमण से ड्यूटी के दौरान किस प्रकार से चिकित्सालय में बचा जा सकता है, सभी को तकनीकी जानकारी उपलब्ध कराई जाएगी।

–आईएएनएस

- Advertisement -

Latest article

बीकानेर से मेड़ता रोड स्पेेशल ट्रेन, जोधपुर-हावड़ा स्पेशल रेल सेवा शुरू

बीकानेर(Bikaner News)। बीकानेर से हावड़ा (Bikaner to Howrah Train) जाने के लिए अब मेड़ता रोड़ से सीधी रेल सेवा मिल (Merta Road to Bikaner...

आवासन मण्डल का बडा तोहफा : कर्मचारियों के लिए लॉंच होगी मुख्यमंत्री राज्य कर्मचारी आवासीय योजना

जयपुर के प्रताप नगर में बनेंगे 2 व 3 बीएचके साइज के 624 फलैट्स जयपुर(Jaipur News)। आवासन (Rajasthan Housing Board scheme) आयुक्त पवन अरोड़ा ने...

अब इस योजना में बैंकों से 90 प्रतिशत तक मिलेगी ऋण सुविधा, ऋण चुकाने पर 30 प्रतिशत सब्सिडी

देशी नस्ल के गौवंश की डेयरी स्थापना के लिए मिलेगा ऋण जयपुर। जिला कलक्टर एवं जिला गौपालन समिति के अध्यक्ष डॉ.जोगाराम ने बताया कि ‘‘कामधेनू...

बीकानेर : राजीव गांधी पंचायती राज संगठन का ‘काम मांगो’अभियान प्रारम्भ

पहले दिन 71 ग्रामीणों ने किया आवेदन तथा 37 ने मांगा काम बीकानेर। राजीव गांधी पंचायती राज संगठन (Rajiv Gandhi Panchyatraj Organization) का ‘काम मांगो’...

Rajasthan Weather Alert : राजस्थान में निसर्ग का असर, 20 जिलों में भारी बारिश की चेतावनी

जयपुर। महाराष्ट्र (Maharashtra)और गुजरात (Gujarat) की और आ रहे हाई स्पीड साईक्लोन निसर्ग (Cyclone Nisarga) का असर अब राजस्थान (Rajasthan) में भी देखने को...