Thursday, July 2, 2020

लॉकडाउन में बेरोजगार हुए लोगों को मिले पूरा वेतन: युवा कांग्रेस

Must read

इंस्टाग्राम पर काजोल के 1 करोड़ फॉलोअर्स, अलग अंदाज में दिया प्रशंसकों को धन्यवाद

मुंबई, 11 अप्रैल (आईएएनएस)। अभिनेत्री काजोल इंस्टाग्राम पर एक करोड़ से अधिक फॉलोअर्स पाने से बेहद खुश हैं। शनिवार को उन्होंने अपने प्रशंसकों को...

चेल्सी की जीत के बाद कोच लाम्पार्ड ने पुलसिक की तारीफ की

लंदन, 22 जून (आईएएनएस)। इंग्लिश प्रीमियर लीग (ईपीएल) क्लब चेल्सी के कोच फ्रैंक लाम्पार्ड ने एस्टन विला पर 2-1 की जीत के बाद आपने...

दिल्ली से घर को पैदल चले लोगों के लिए उप्र सरकार ने सीमा पर भेजीं बसें

नई दिल्ली, 28 मार्च (आईएएनएस)। उत्तर प्रदेश सरकार की ओर से राजधानी दिल्ली छोड़कर मजबूरन पैदल अपने घर जाने वाले लोगों के लिए बसों...

पीएम मोदी ने जून में दिया दीवाली गिफ्ट, 80 करोड़ गरीबों को नवंबर तक मिलेगा मुफ्त राशन(लीड-2)

नई दिल्ली, 30 जून (आईएएनएस)। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जून में ही देश की 80 करोड़ जरूरतमंद जनता को दीवाली का गिफ्ट दे दिया।...
- Advertisement -

पटना। युवा कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष ललन कुमार ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से आग्रह किया कि उन्होंने राष्ट्र के नाम अपने संबोधन में अपील की थी कि कोई भी किसी को नौकरी से नहीं हटाये और वेतन मत रोके। परन्तु पिछले दो महीने में कई निजी संस्थाएं, कम्पनियों, एजेंसियों व अन्य ने अपने कर्मचारियों को हटा दिया। अप्रैल को कौन कहे मार्च महीने में जिसमे 20 दिनों तक कार्य भी किया उसका वेतन नहीं दिया गया। आज के नाम पर सैकड़ों नही लाखों लोग बेरोजगार हो गए है,उनके समक्ष अब जीवन गुजारने का संकट खड़ा हो गया है। केंद्र सरकार ने कोई ऐसा नम्बर या ऐप नहीं जारी किया है, जिस पर हटाये गए या जिन्हें वेतन नही मिला है वो शिकायत कर सके।

किसानों के लिए खुशखबरी ! देशभर में 31 जुलाई से पहले रजिस्ट्रेशन कराने वालों को इस स्कीम का मिलेगा लाभ

- Advertisement -

उन्हेाने कहा कि बिहार में पटना और अन्य जगहों पर इन सब के साथ काम कर रहे कर्मचारियों को मार्च अप्रैल महीने का वेतन तो दिया नहीं गया, काम से हटाने की सूचना दे दी। यहां काम कर रहे लोग अब इस लॉकडाउन में आखिर क्या करे इन्हें समझ नहीं आ रहा है। राज्य सरकार ने भी कोई नम्बर या ऐप जारी नहीं किया है जो शिकायत कर सके। इस सच्चाई से भी मुह नही मोड़ा जा सकता है कि कई निजी संस्थानों का लॉकडाउन में आर्थिक स्थिति खराब हो गई है।

सिर्फ स्वदेशी कंपनियों को मिले MSME का दर्जा

केंद्र सरकार व राज्य सरकार भी इस दिशा में कारगर कदम उठाए ताकि इन लोगो की नौकरी और व्यवसाय बच सके और इन्हें भी लॉकडाउन अवधि का वेतन मिल सके। प्रधानमंत्री व मुख्यमंत्री से इस सम्बंध में अविलंब कोई निर्णय लेने की मांग की है और सरकार के स्तर पर कोई नम्बर और ऐप जारी करने की मांग की है, ताकि पीड़ित जानकारी दे सके। जिससे उनकी समस्या सरकार के स्तर से समाधान हो सके और देश और राज्य में एक और बेरोजगारी के फौज खड़ी न हो सके।

एकांतवास केंद्र बना मिसाल, संगीत व योग के साथ लोगों को मिल रहा उनकी पसंद का खाना

- Advertisement -

झारखंड के बाद अब इस राज्य में Zomato घर तक पहुंचाएगी शराब

www.hellorajasthan.com की ख़बरें फेसबुकट्वीटर और सोशल मीडिया पर पाने के लिए हमें Follow करें.

- Advertisement -

Latest article

राजस्थान : पुलिस के रेस्पोंस टाइम में सुधार आएगा और अपराध नियंत्रण में मदद मिलेगी : मुख्यमंत्री

जयपुर। गश्त को बेहतर बनाने तथा क्विक रेस्पोंस के लिए जयपुर शहर पुलिस को तकनीकी रूप से लैस 194 नए वाहन मिल गए हैं।...

कैम्पस फिर से खुलने पर भी छात्र ऑनलाइन पढ़ाई कर सकेंगे : अहमदाबाद यूनिवर्सिटी

अहमदाबाद, 2 जुलाई (आईएएनएस)। कोविड-19 महामारी के बीच, अहमदाबाद यूनिवर्सिटी में दाखिला लेने वाले छात्र इस साल दिसंबर तक ऑनलाइन कक्षाओं में शामिल होने...

इंग्लैंड के आपसी मैच में दिखा जश्न मनाने का नया तरीका

लंदन, 2 जुलाई (आईएएनएस)। कोरोनावायरस के कारण क्रिकेट में कुछ बदलाव हुए हैं और इसी बीमारी के डर से विकेट लेने के बाद जश्न...

नई दुल्हन का घर का कामकाज ना करना क्रूरता नहीं : दिल्ली हाईकोर्ट

नई दिल्ली, 2 जुलाई (आईएएनएस)। दिल्ली हाईकोर्ट ने कहा है कि यह पति के परिवार की जिम्मेदारी है कि वह नई दुल्हन को घर...

बैंक समाधान फ्रेमवर्क में संशोधन क्रेडिट पॉजिटिव : मूडीज

नई दिल्ली, 2 जुलाई (आईएएनएस)। मूडीज इनवेस्टर्स सर्विस के अनुसार, भारत के बैंक समाधान फ्रेमवर्क में संशोधन क्रेडिट पॉजिटिव हैं। मूडीज ने क्रेडिट परिदृश्य...