Thursday, July 9, 2020

महाराष्ट्र में 5 रुपये की शिव भोजन थाली की बिक्री करोड़ के पार

Must read

बिहार : लॉकडाउन के कारण मांगलिक कार्य बंद, टल रहीं शादियां

पटना, 14 अप्रैल (आईएएनएस)। सनातन धर्म में करीब एक महीने लंबे खरमास के बाद मांगलिक कार्यो की शुरुआत की परंपरा रही है। मंगलवार को...

ऑकलैंड वनडे : न्यूजीलैंड ने भारत को दिया 274 रनों का लक्ष्य

ऑकलैंड, 8 फरवरी (आईएएनएस)। न्यूजीलैंड ने शनिवार को यहां ईडन पार्क मैदान पर जारी दूसरे वनडे मैच में भारत के सामने जीत के लिए...

क्या सरकार गलवान घाटी में भारत के दावे को कमजोर कर रही : कांग्रेस

नई दिल्ली, 9 जुलाई (आईएएनएस)। कांग्रेस ने गुरुवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से गलवान घाटी की स्थिति को लेकर सवाल किए। पार्टी ने प्रधानमंत्री...

आस्ट्रेलियन ओपन : मुगुरुजा, बेंकिक और प्लिसकोवा तीसरे दौर में

मेलबर्न, 23 जनवरी (आईएएनएस)। स्पेन की गार्बिने मुगुरुजा, स्विटजरलैंड की बेलिंडा बेंकिक और चेक गणराज्य की कैरोलीना प्लिसकोवा यहां जारी साल के पहले ग्रैंड...
Vishal Rohiwal
Vishal Rohiwal
विशाल रोहिवाल पिछले दस वर्ष से कंटेट राईटिंग व स्वतंत्र पत्रकार के रुप में काम कर रहें है। वर्तमान में हैलो राजस्थान की वेब टीम में सीनियर कंटेंट एडिटर के रुप में अपनी सेवांए दे रहें है।
- Advertisement -

मुंबई, 30 जून (आईएएनएस)। महाराष्ट्र में महा विकास अघाडी सरकार की अग्रणी सस्ता भोजन योजना के तहत शिव भोजन थाली अब तक एक करोड़ से अधिक बिक चुकी है। यह योजना 26 जनवरी को शुरू की गई थी। एक अधिकारी ने यह जानकारी मंगलवार को दी।

इस थाली की मूल कीमत यूं तो 10 रुपये है, लेकिन लॉकडाउन के दौरान इसकी कीम आधी कम कर दी गई। इस अवधि में भूखे प्रवासियों, गरीब, बेघर और छात्रों ने पांच रुपये की शिव भोजन थाली से अपनी भूख मिटाई। किसी को अंदाजा नहीं था कि यह थाली एक करोड़ से ज्यादा बिकेगी।

- Advertisement -

मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे इससे खुश हैं। उन्होंने मंगलवार को कहा, 26 जनवरी से 30 जून के बीच पूरे राज्य में 848 केंद्रों पर 1,00,00,870 शिव भोजन थालियां बांटी गईं।

यह भोजन थाली पहले दिन से ही लोकप्रिय हो गई और धीरे-धीरे इसकी बिक्री बढ़ती चली गई। जनवरी में 79,918, फरवरी में 467,869, मार्च में 578,031, अप्रैल में 24,99,257, मई में 3,384,040, आधी जून तक 2,991,755 और आज की तारीख तक 1,00,00,870 थालियां बिक चुकी हैं।

शिव भोजन थाली में दो रोटियां, एक सब्जी, थोड़ा चावल और दाल परोसी जाती है।

राज्य के खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति मंत्रालय ने मंत्री छगन भुजबल की अगुवाई में यह योजना शुरू की थी। शुरुआत में मात्र 50 दुकानों पर ये थालियां बेची गईं, और अब तो राज्यभर में 848 दुकानों पर ये थालियां बिक रही हैं।

- Advertisement -

मंत्रालय के एक अधिकारी के मुताबिक, सरकार को इस थाली पर लागत शहरी क्षेत्र में 50 रुपये और ग्रामीण क्षेत्र में 35 रुपये आती है। सरकार प्रति थाली 45 रुपये सब्सिडी देती है और ठेकेदार को हर थाली के लिए 30 रुपये देती है।

–आईएएनएस

- Advertisement -

Latest article

उप्र में कोरोना के 1248 नए मामले, अब तक 862 मौतें

लखनऊ, 9 जुलाई (आईएएनएस)। उत्तर प्रदेश में कोरोना संक्रमण लगातार बढ़ता जा रहा है। गुरुवार को राज्य के बीते 24 घंटे में प्रदेश में...

दुबई में फंसे 500 भारतीयों के लिए संकटमोचक बने बीजेपी सांसद अनिल बलूनी (एक्सक्लूसिव)

नई दिल्ली, 9 जुलाई (आईएएनएस)। पिछले चार महीने से दुबई में फंसे उत्तराखंड के पांच सौ लोगों के लिए भाजपा के राज्यसभा सांसद अनिल...

उज्जैन में पकड़े गए विकास को यूपी पुलिस को सौंपा

उज्जैन 9 जुलाई (आईएएनएस)। उत्तर प्रदेश के कानपुर में आठ पुलिस जवानों की हत्या के आरोपी विकास दुबे को गिरफ्तार करने के बाद...

राजकुमार राव ने अपनी मन:स्थिति साझा की

मुंबई, 9 जुलाई (आईएएनएस)। बॉलीवुड अभिनेता राजकुमार राव ने अपने नए प्रोजेक्ट को लेकर अपनी मन की स्थिति साझा की है।राजकुमार ने इंस्टाग्राम पर...

मध्य प्रदेश में गद्दार बनाम देशभक्त का नैरेटिव सेट करने में जुटे ज्योतिरादित्य सिंधिया

नई दिल्ली, 9 जुलाई (आईएएनएस)। मध्य प्रदेश में 24 सीटों के उपचुनाव के पहले भाजपा के राज्यसभा सदस्य ज्योतिरादित्य सिंधिया ने आक्रामक कैंपेनिंग शुरू...