Monday, July 6, 2020

दिल्ली की टैक्सियों में नहीं बैठ सकेंगे चीनी नागरिक

Must read

पूर्व मंत्री देवीसिंह भाटी की तबीयत बिगड़ी

बीकानेर। भारतीय जनता पार्टी के पूर्व मंत्री देवीसिंह भाटी के अचानक सीने में दर्द हो रहा था जिसके कारण उन्हे सांस लेने में तकलीफ...

Irfan Khan Dies: क्रिकेटर युवराज बोले “इस सफर और दर्द को जानता हूं”

मुंबई, 29 अप्रैल (आईएएनएस)। बॉलीवुड अभिनेता इरफान खान (Bollywood Actor Irfan Khan)का बुधवार को निधन हो गया। इस पर भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व...

मोदी चीन का नाम लेने से क्यों डर रहे : कांग्रेस

नई दिल्ली, 28 जून (आईएएनएस)। कांग्रेस ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा अपने रेडियो कार्यक्रम मन की बात में चीन का नाम न लेने पर...

दिल्ली हिंसा में मरने वालों की संख्या बढ़कर 17 हुई

नई दिल्ली, 26 फरवरी (आईएएनएस)। राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में नागरिकता संशोधन अधिनियम (सीएए) के समर्थकों और विरोधियों में हिंसा में अब तक दिल्ली पुलिस...
Vishal Rohiwal
Vishal Rohiwal
विशाल रोहिवाल पिछले दस वर्ष से कंटेट राईटिंग व स्वतंत्र पत्रकार के रुप में काम कर रहें है। वर्तमान में हैलो राजस्थान की वेब टीम में सीनियर कंटेंट एडिटर के रुप में अपनी सेवांए दे रहें है।
- Advertisement -

नई दिल्ली, 30 जून (आईएएनएस)। गलवान घाटी में भारतीय और चीनी सैनिकों के बीच हुई हिंसक झड़प के बाद देश के नागरिकों में काफी आक्रोश देखने को मिला है। इसी क्रम में दिल्ली टैक्सी टूरिस्ट ट्रांसपोर्टर एसोसिएशन ने मंगलवार को एक निर्णय के तहत चीन के नागरिकों के लिए अपनी सेवा बंद कर दी है। यानी अब इस एसोसिएशन के अंदर आने वाली सभी टैक्सियों में चीन के नागरिकों को बैठने की इजाजत नहीं होगी।

दिल्ली टैक्सी टूरिस्ट ट्रांसपोर्टर एसोसिएशन के अंदर 400 टैक्सी कंपनियां और लगभग 50,000 टैक्सियां आती हैं।

- Advertisement -

दिल्ली टैक्सी टूरिस्ट ट्रांसपोर्टर एसोसिएशन के अध्यक्ष संजय सम्राट ने आईएएनएस को बताया, हमारे सैनिकों के साथ जो व्यवहार किया गया है, उसके बाद हमने यह फैसला लिया है कि हम किसी भी चीन के नागरिक को अपनी टैक्सी की सेवा नही देंगे। हम केंद्र सरकार से यह गुजारिश करते हैं कि चीन के सभी सामानों का देश में बहिष्कार किया जाए।

इससे पहले दिल्ली होटल रेस्टोरेंट एंड ओनर्स एसोसिएशन ने भी यह फैसला लिया था कि दिल्ली के होटल और गेस्ट हाउस में अब किसी भी चीनी व्यक्ति को ठहराया नहीं जाएगा। दिल्ली में लगभग 3,000 बजट होटल और गेस्ट हाउस हैं, जिनमें लगभग 75 हजार कमरे हैं।

हालांकि देश में चीन के खिलाफ गुस्सा देख कल भारत सरकार ने टिकटॉक, यूसी ब्राउजर समेत 59 चीनी एप पर बैन लगा दिया है। इनमें हेलो, वीचैट, यूसी न्यूज जैसे प्रमुख एप भी शामिल हैं।

— आईएएनएस

- Advertisement -

Latest article

वाणी कपूर ने महामारी से मिले सबसे बड़े सबक को साझा किया

मुंबई, 6 जुलाई (आईएएनएस) अभिनेत्री वाणी कपूर का कहना है कि उन्होंने कोविड महामारी से सबसे बड़ा सबक यही सीखा है कि हर परिस्थिति...

शिवराज मंत्रिमंडल विस्तार के बाद विभाग वितरण पर किच-किच

भोपाल 5 जुलाई (आईएएसएस)। मध्य प्रदेश में लंबी जद्दोजहद के बाद शिवराज सिंह चौहान सरकार के मंत्रिमंडल का दूसरा विस्तार आखिरकार हो ही गया,...

उप्र : पुलिसकर्मियों का हत्यारा और विकास दुबे का साथी गिरफ्तार (लीड-1)

कानपुर, 5 जुलाई (आईएएनएस)। कानपुर पुलिस ने रविवार की सुबह एक संक्षिप्त मुठभेड़ के बाद विकास दुबे गिरोह के एक सदस्य को गिरफ्तार कर...

कोहली पर हितों के टकराव का मामला, गुप्ता ने बीसीसीआई लोकपाल को लिखा

नई दिल्ली, 5 जुलाई (आईएएनएस)। लोढा समिति ने भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) के संविधान को फिर से लागू करते हुए स्पष्ट रूप से...

कार दुर्घटना मामले में श्रीलंकाई क्रिकेटर मेंडिस गिरफ्तार : रिपोर्ट

कोलंबो, 5 जुलाई (आईएएनएस)। श्रीलंका के विकेटकीपर बल्लेबाज कुसल मेंडिस को कार दुर्घटना मामले में रविवार को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया। क्रिकइंफो की...