Thursday, July 9, 2020

श्रीगंगानगर: जूनियर सेल टैक्स ऑफिसर पवन कुमार 10 हजार रुपये की रिश्वत लेते रंगे हाथों गिरफतार, वाणिज्य कर अधिकारी हिमांशु पारीक फरार

Must read

केंद्रीय अनुबंध से ख्वाजा को हटाने की बात पर विश्वास करना मुश्किल : क्लार्क

सिडनी, 1 मई (आईएएनएस)। आस्ट्रेलियाई टीम के पूर्व कप्तान माइकल क्लार्क ने क्रिकेट आस्ट्रेलिया द्वारा उस्मान ख्वाजा को केंद्रीय अनुबंध में जगह न देने...

लाॅकडाउन : Airtel थैंक्स से करें बिल पेमेंट व रिचार्ज और रहें कनेक्टेड

एयरटेल ऐप (Airtel App) से बनें सुपरहीरो और पायें 4 प्रतिशत कैशबैक किसी भी रिचार्ज पर जयपुर। कोरोना संकट के चलते जो लाॅक डाउन की...

टेक्नो ने लॉकडाउन के कारण स्मार्टफोन की वारंटी अवधि 2 महीने बढ़ाई

नई दिल्ली, 31 मार्च (आईएएनएस)। कोरोना वायरस के कारण भारत में लॉकडाउन होने के बाद टेक्नो इंडिया ने अपने ग्राहकों को वारंटी अवधि बढ़ाकर...

कोविड 19: गौतमबुद्धनगर में मरीजों के स्पेशल ट्रीटमेंट के लिए शुरू हुई उबर सर्विस

गौतमबुद्धनगर, 27 अप्रैल (आईएएनएस)। उत्तर प्रदेश के गौतमबुद्धनगर जिले में लगातार कोरोना से संक्रमित मामलों की संख्या बढ़ती जा रही है वहीं जिला प्रशासन...
Jagseer Dhillon
Jagseer Dhillon
जगसीर ढ़िल्लो 1990 से सक्रिय रुप से पत्रकारिता कर रहे है। वे सीमा संदेश, दैनिक नवज्योति, दैनिक लेाकमत, दैनिक युगपक्ष, नैशनल राजस्थान, पंजाब केसरी सहित विभिन्न पत्र -पत्रिकाओं से जुड़े रहे है।
- Advertisement -

श्रीगंगानगर/अनूपगढ़(Anupgarh News)। जिले के अनूपगढ़ (Anupgarh) में भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरेा (ACB) की टीम ने सेामवार को जीएसटी रिटर्न (GST Return) नही भरने पर एक व्यापारी को जुर्माने का डर दिखाकर व्यापारी से 10 हजार रुपये की रिश्वत लेते हुए जूनियर सेल टैक्स ऑफिसर (जेसीटीओ) पवन कुमार को रंगे हाथों पकड़ा है, जबकि वाणिज्य कर अधिकारी हिमांशु पारीक फरार है। वाणिज्य कर अधिकारी की एसीबी की टीम इसकी तलाश कर रही है। हिमांशु पारीक के पास अनूपगढ वाणिज्य कर कार्यालय का अतिरिक्त प्रभार है।

भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो के अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक राजेंद्र ढिढ़ारिया ने बताया कि टीम को परिवादी प्रेम कुमार पुत्र बलूराम, जाति कुम्हार, निवासी नई मंडी घड़साना, जिला श्रीगंगानगर रिपोर्ट दी थी कि वह फर्नीचर का काम करता है। जेसीटीओ पवन कुमार द्वारा वितीय वर्ष का जीएसटी रिटर्न नही भरने पर जुमार्न का भय दिखाते हुए 25 हजार रुपये की रिश्वत मांगी थी।

- Advertisement -

भीलवाड़ा में नियम विरुद्व शादी करने पर लगा छह लाख रुपये से अधिक का जुर्माना

उन्होने बताया कि जिस पर परिवादी ने 15 हजार रुपये पहले दे दिए व शेष राशि 10 हजार रुपये आज देने की बात तय की थी। परिवादी की शिकायत का सत्यापन कराया गया। जिसके बाद आरोपी जेसीटीओ पवन कुमार को अनूपगढ़ स्थित जेसीटीओ कार्यालय में दस हजार रुपये की रिश्वत लेते हुए रंगे हाथों गिरफतार किया है। इस मामले में श्रीविजयनगर कार्यालय के वाणिज्य कर अधिकारी हिमांशु पारीक की भी संलिप्तता है। पारीक मौके से फरार चल रहा है, उसकी तलाश एसीबी की टीम कर रही है।

बीकानेर में विज्ञान पार्क के लिए भूमि आवंटित, मुख्यमंत्री ने दी मंजूरी

सीआई आंनद कुमार ने बताया कि श्रीबिजयनगर कार्यालय में डीवाईएसपी वेद प्रकाश लखोटिया के नेतृत्व में की गई।
उन्होने बताया कि जेसीटीओ से इस बारे में विस्तृत पूछताछ की जा रही है।

- Advertisement -

जयपुर: होटल रामबाग पैलेस ने दिया 87 लाख का यूडी टैक्स

अब घर के नजदीक मिलेगा रोजगार: लघु उद्योग भारती के पोर्टल पर करा सकेंगे पंजीयन

सोशल मीडिया पर लाइव दिखेगी राम मंदिर की आरती

www.hellorajasthan.com की ख़बरें फेसबुकट्वीटर और सोशल मीडिया पर पाने के लिए हमें Follow करें.

- Advertisement -

Latest article

बिहार में बाढ़ की आशंका को लेकर अलर्ट, बचाव के लिए होगा ड्रोन का उपयोग

पटना, 8 जुलाई (आईएएनएस)। बिहार में बाढ़ की आशंका को देखते हुए मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने आपदा प्रबंधन विभाग को पूरी तरह अलर्ट रहने...

रीवा के सौर ऊर्जा संयंत्र से दिल्ली मेट्रो को मिलेगी बिजली

भोपाल, 8 जुलाई (आईएएनएस)। मध्य प्रदेश के रीवा जिले में स्थापित एशिया के सबसे बड़े सौर ऊर्जा संयंत्र रीवा अल्ट्रा मेगा सोलर प्रोजेक्ट की...

कानपुर मुठभेड़ पर बोले एडीजी प्रशांत, पुलिस की कार्रवाई बनेगी नज़ीर

लखनऊ 8 जुलाई (आईएएनएस)। कानपुर के चौबेपुर के बिकरू गांव मे उत्तर प्रदेश पुलिस के सीओ सहित आठ पुलिसकर्मियों की हत्या के बाद...

कभी कभी कड़वा घूंट पीकर करनी पड़ती है समाज सेवा : विजयवर्गीय

भोपाल/इंदौर 8 जुलाई (आईएएनएस)। भाजपा के राष्ट्रीय महासचिव कैलाश विजयवर्गीय ने कांग्रेस छोड़कर भाजपा में आए नेताओं के साथ काम करने का जिक्र करते...

पहले एलएसी तक पहुंचने में 14 दिन लगते थे, अब महज 1 दिन : लद्दाख स्काउट्स (आईएएनएस एक्सक्लूसिव)

लेह, 8 जुलाई (आईएएनएस)। वर्ष 1962 में जहां भारतीय सेना को वास्तविक नियंत्रण रेखा (एलएसी) तक पहुंचने में 16 से 18 दिन का समय...