Thursday, July 9, 2020

बीकानेर : धार्मिक स्थल खुलने पर कोविड-19 की एडवाजरी की होगी पालना

Must read

बिहार के विकास के लिए पप्पू यादव का प्रशांत किशोर को साथ आने का निमंत्रण

पटना, 19 फरवरी (आईएएनएस)। जन अधिकार पार्टी (जाप) के प्रमुख और पूर्व सांसद पप्पू यादव ने चुनावी रणनीतिकार प्रशांत किशोर को बिहार के विकास...

वर्कआउट पर कोई छूट नहीं : अनिल कपूर

मुंबई, 24 मार्च (आईएएनएस)। दुनियाभर में कोरोनावायरस के प्रकोप के बीच लोगों की आम जिंदगी बहुत बड़े पैमाने पर प्रभावित हुई है, लेकिन बॉलीवुड...

कोरोना से अमेरिका में भारतीय मूल के पत्रकार ब्रह्मा कांचीबोटला का निधन, मोदी ने जताया दुख

नई दिल्ली, 8 अप्रैल (आईएएनएस)। अमेरिका में कोरोना वायरस का कोहराम जारी है। अकेले अमेरिका में कोरोना ने अब तक 12 हजार से ज्यादा...

यू.पी.ए. की तुलना में अर्थव्यवस्था आज बेहतर स्थिति में: अरविन्द पनगड़िया

जयपुर। प्रख्यात अर्थषास्त्री तथा नीति आयोग के उपाध्यक्ष प्रो. अरविन्द पनगड़िया ने कहा है कि किसी भी सरकार का आकंलन इस बात पर आधारित...
- Advertisement -

जिला कलक्टर कुमार पाल गौतम के साथ हुई धार्मिक गुरूओं की बैठक

बीकानेर(Bikaner News)। जिले के धर्मगुरूओं ने कहा है कि जब भी राज्य सरकार(Rajasthan Government) द्वारा धार्मिक स्थल खोलने का निर्णय लिया जाएगा तब कोविड-19 की एडवाइजरी (Covid-19 advisory) की पूर्ण अनुपालना करवाई जाएगी। मंगलवार को कलेक्ट्रेट सभागार में जिले के सभी धर्म गुरुओं ने जिला कलक्टर कुमार पाल गौतम, पुलिस अधीक्षक प्रदीप मोहन शर्मा के साथ हुई बैठक में एक स्वर में इस सम्बंध में सहमति व्यक्त की।

- Advertisement -

किसानों के लिए खुशखबरी ! देशभर में 31 जुलाई से पहले रजिस्ट्रेशन कराने वालों को इस स्कीम का मिलेगा लाभ

धर्मगुरूओं ने कहा कि कोरोना चुनौती का सामना करने के लिए सभी धार्मिक संस्थाएं सरकार के साथ खड़ी और अब तक भी सरकार द्वारा लिए गए निर्णय को पूर्ण समर्थन दिया गया है। यदि अब 30 जून के बाद धार्मिक स्थल खुलते हैं तो सभी नियमों की पालना होगी। जिला कलक्टर कुमार पाल गौतम ने धर्मगुरूओं को राज्य सरकार को उनके मत से अवगत करवाने का विश्वास दिलाया। बैठक में सभी धर्मगुरू इस सम्बंध में पूर्ण आश्वस्त नजर आए कि अब जल्द ही मंदिरों में आरती, मस्जिद में अजान और गुरुद्वारे और चर्च में पूजा अर्चना होगी।

बाबा रामदेव ने लॉन्च की कोरोना की आयुर्वेदिक दवा Coronil

बैठक में जिला कलक्टर ने कहा कि कोरोना के प्रारंभ में जब धार्मिक स्थल बंद करने की बात आप लोगों के साथ की गई, उसी का परिणाम रहा कि सभी समुदाय से हमें सहयोग मिला। उसी विश्वास के साथ मैं आप सब से यह कहना चाहूंगा कि अगर 30 जून के बाद धार्मिक स्थल खोलते हैं तो वहां दर्शनार्थियों को समझाने के लिए सभी स्थलों के मुख्य स्थानों पर आईईसी मैटेरियल लगाया जाए, जिसमें यह लिखा हो कि दर्शनार्थी मास्क का उपयोग करेंगे, हाथों को सैनिटाइजर का प्रयोग करेंगे। सोशल डिस्टेंसिंग रखेंगे तथा किसी भी स्थिति में धार्मिक स्थल परिसर में गंदगी नहीं फैलाएंगे।

- Advertisement -

बीकानेर : बीछवाल और करणी इंडस्ट्री में ट्रीटमेंट प्लांट के लिए 24-24 करोड़ स्वीकृत

बैठक में पुलिस अधीक्षक प्रदीप मोहन शर्मा ने कहा कि सभी धर्म स्थल खुले,  इसमें आप सभी का सकारात्मक सहयोग सबसे अहम बात है। अगर आप दर्शनार्थियों को समझाइस  करेंगे तो कोविड-19 की एडवाइजरी की पालना और बेहतर होगी। सामान्यतः यह रहता है की सरकार के आदेश और निर्देशों की पालना तो होती ही है। मगर धर्म गुरुओं की अपील का एक अलग से अपना प्रभाव रखता है। ऐसे में धर्मगुरू भी आस्था केन्द्रों में आने वालों को यह बताएंगे कि सोशल डिस्टेंसिंग रखनी है। धार्मिक स्थल खोलने का निर्णय तो राज्य सरकार स्तर पर होगा, परन्तु एडवाइजरी के मुताबिक ही उसकी पालना सुनिश्चित करना आपका और हमारा सब का नैतिक दायित्व रहेगा।

बैठक में स्वामी विमर्शानन्द गिरि ने कहा कि धार्मिक स्थल खुल जाने चाहिए। देव उपासना से लोगों में कॉन्फिडेंस आएगा और कॉविड से पूर्ण आत्मविश्वास से लड़कर जीतेंगे। शहर काजी हाजी मुश्ताक अहमद ने कहा कि सरकार और प्रशासन का हुक्म माना है।  मस्जिदों में नमाज नहीं पढ़ी गई।  अब अगर जिस दिन भी सरकार इजाजत देगी इबादत शुरू करेंगे। मस्जिद में पानी का उपयोग कम से कम किया जाएगा, इसके लिए भी लोगों को समझाएंगे। दवा से तो ठीक होंगे ही दुआएं भी अपना असर बताएगी।

अब घर के नजदीक मिलेगा रोजगार: लघु उद्योग भारती के पोर्टल पर करा सकेंगे पंजीयन

- Advertisement -

शहर काजी ने कहा कि मस्जिदों में कालीन का उपयोग नहीं करेंगे और पानी की टंकी को खाली ही करवा देंगे, ताकि पानी एकत्रित ना हो। साथ ही सभी को बताया जाएगा कि जब भी सरकार का आदेश होगा, तब मास्क लगाकर मस्जिदों में नमाज पढ़ने आए तथा नमाज अदा करते वक्त सोशल डिस्टेंसिंग का भी ध्यान रखें।

कोविड-19 संक्रमण के मद्देनजर धार्मिक स्थलों को सावधानीपूर्वक खोले जाने के संबंध में प्रस्ताव लेने के लिए विभिन्न धार्मिक संगठनों के पदाधिकारियों के साथ आयोजित बैठक में मुकाम पीठाधीश्वर स्वामी रामानंद आचार्य ने कहा कि अगर सरकार धार्मिक स्थल खोलने की अनुमति प्रदान करती है तो ऐसी स्थिति में मुकाम में सेवादार द्वारा कोविड-19 एडवाइजरी की पालना करवाई जाएगी। साथ ही पुलिसकर्मी अतिरिक्त लगा दिए जाएं तो व्यवस्था और बेहतर तरीके से संपादित हो पाएगी।

सोशल मीडिया पर लाइव दिखेगी राम मंदिर की आरती

लक्ष्मीनाथ मंदिर के शिवचंद भोजक ने कहा कि जिस दिन भी सरकार के आदेश हो उसके बाद मुख्य मंदिर में दर्शनार्थियों में सोशल डिस्टेंसिंग रखने के लिए आवश्यक व्यवस्था की जाएगी। मंदिर में बेरीकेटिंग इस प्रकार से लगाई जायेगी कि दूर से श्रद्धालु दर्शन कर सके। मुख्य द्वार पर ही स्वचालित सैनेटाइजेशन की मशीन लगा दी जाएगी।
बैठक में फादर एल्विन कैथोलिक चर्च के प्रतिनिधि तथा क्रिस्टीना डेनियल ने कहा कि चर्च में  सभी बंदोबस्त किए जाएंगे जो दिशा निर्देश सरकार द्वारा जारी किए गए हैं।

गुरुद्वारा कमेटी से जुड़े तारा सिंह और गुरविंदर सिंह ने विश्वास दिलाया कि जब भी सरकार धार्मिक स्थल खोलने का कहेगी तब सभी नियमों की पालना की जाएगी साथ ही उन्होंने कहा कि गुरुद्वारे में चल रहे अस्पताल को खोलने की इजाजत दे दी जाए तो उन लोगों का इलाज बेहतर हो सके। जिला कलेक्टर ने कहा कि परिसर स्थित अस्पताल को खोला जा सकता है मगर एडवाइजरी की पालना होनी चाहिए।

राजस्थान का एकांतवास केंद्र बना मिसाल, संगीत व योग के साथ लोगों को मिल रहा उनकी पसंद का खाना

दिल पर लगी है मोहब्बत की मोहर
डीएम साब हम सभी के दिल पर आपकी मोहब्बत की मोहर लगी है।  यह बात जब शहर काजी हाजी मुस्ताक अहमद ने कही तो मीटिंग हॉल में बैठे धार्मिक प्रतिनिधियों ने उनके समर्थन में हामी भरते हुए  सभी ने एक ही स्वर में कहा कि कलेक्टर साहब के आदेश की पालना सभी धार्मिक स्थलों पर करवाई जायेगी। डीएम साहब आप बेमिसाल हैं । आपकी बात को बीकानेर शहर पूरी शिद्दत के साथ मानता है। आप जब भी सरकार के आदेश के बारे में बताएंगे उसी दिन धार्मिक स्थल खुलेंगे और एडवाइजरी की पालना सभी आस्था केन्द्र पर होगी।

प्रचार साहित्य किया भेट
धार्मिक थलों को सावधानीपूर्वक खोले जाने के संबंध में आयोजित बैठक में जिला कलेक्टर कुमार पाल गौतम में सभी धर्म गुरुओं को सूचना जनसंपर्क कार्यालय की ओर से आई सी के लिए जारी पोस्टर, स्टिकर, सनपैक और बैनर भेंट किए । साथ ही सभी से आग्रह किया कि इनका बेहतर तरीके से प्रचार प्रसार करने के लिए धार्मिक स्थल के मुख्य द्वार सहित अन्य प्रमुख स्थानों पर चस्पा किया जाए।

बैठक में अतिरिक्त जिला कलक्टर (शहर) सुनीता चैधरी, मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डाॅ. बी.एल.मीणा, चर्च के रेन्हरेन क्रिस्टीना डेनियल, निरीक्षक देवस्थान श्वेता चैधरी, सेवा पूजा समिति के अध्यक्ष शिचन्द भोजक, लक्ष्मीनाथ मन्दिर के जेठमल सेवग, सादुल काॅलोनी गुरूद्वारा के तारा सिंह, रानीबाजार गुरूद्वारा के गुरूविन्द्र सिंह, शहर काजी हाजी मुरताज अहमद, बड़ी इदगाह सदर के शहर नवाज आदि उपस्थित थे।

Surya Grahan 2020: श्रीगंगानगर जिले के घड़साना क्षेत्र में वलयाकार सूर्यग्रहण के दौरान दिन में दिखे तारे

www.hellorajasthan.com की ख़बरें फेसबुकट्वीटर और सोशल मीडिया पर पाने के लिए हमें Follow करें.

- Advertisement -

Latest article

बिहार में बाढ़ की आशंका को लेकर अलर्ट, बचाव के लिए होगा ड्रोन का उपयोग

पटना, 8 जुलाई (आईएएनएस)। बिहार में बाढ़ की आशंका को देखते हुए मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने आपदा प्रबंधन विभाग को पूरी तरह अलर्ट रहने...

रीवा के सौर ऊर्जा संयंत्र से दिल्ली मेट्रो को मिलेगी बिजली

भोपाल, 8 जुलाई (आईएएनएस)। मध्य प्रदेश के रीवा जिले में स्थापित एशिया के सबसे बड़े सौर ऊर्जा संयंत्र रीवा अल्ट्रा मेगा सोलर प्रोजेक्ट की...

कानपुर मुठभेड़ पर बोले एडीजी प्रशांत, पुलिस की कार्रवाई बनेगी नज़ीर

लखनऊ 8 जुलाई (आईएएनएस)। कानपुर के चौबेपुर के बिकरू गांव मे उत्तर प्रदेश पुलिस के सीओ सहित आठ पुलिसकर्मियों की हत्या के बाद...

कभी कभी कड़वा घूंट पीकर करनी पड़ती है समाज सेवा : विजयवर्गीय

भोपाल/इंदौर 8 जुलाई (आईएएनएस)। भाजपा के राष्ट्रीय महासचिव कैलाश विजयवर्गीय ने कांग्रेस छोड़कर भाजपा में आए नेताओं के साथ काम करने का जिक्र करते...

पहले एलएसी तक पहुंचने में 14 दिन लगते थे, अब महज 1 दिन : लद्दाख स्काउट्स (आईएएनएस एक्सक्लूसिव)

लेह, 8 जुलाई (आईएएनएस)। वर्ष 1962 में जहां भारतीय सेना को वास्तविक नियंत्रण रेखा (एलएसी) तक पहुंचने में 16 से 18 दिन का समय...