वापसी करने को लेकर प्रतिबद्ध था : चिंग्लेसाना

Must read

बीकानेर में कोरोना पॉजिटिव के 2 केस सामने आए, फड़ बाजार और रानीसर क्षेत्रों में कर्फ्यू

बीकानेर। कोरोना संक्रमण के चलते चल रहे लाॅकडाउन के दौरान की जा रही स्क्रीनिंग के चलते हुई जांच की शुक्रवार को आई रिर्पोट में...

बीकानेर : केन्द्रीय राज्यमंत्री अर्जुन राम मेघवाल के प्रयासों से पीबीएम हाॅस्पीटल को मिले 23.60 लाख रुपये

बीकानेर। कोरोना वायरस (Corona Virus) के संक्रमण की रोकथाम के लिए बीकानेर क्षेत्र में संसाधनों व हेल्थ एक्विपमेंट्स की कमी न हो इसके लिए स्थानीय सांसद...

अनंतनाग में आतंकियों ने की नागरिक की हत्या

श्रीनगर, 3 अप्रैल । कश्मीर के अनंतनाग जिले में आतंकवादियों ने एक नागरिक की गोली मारकर हत्या कर दी। पुलिस ने बुधवार को हुई...

भाजपा (BJP) नेता ने कहा- कालाधन से चल रहा तबलीगी जमात, मुखिया की संपत्ति जब्त करे सरकार

नई दिल्ली, 2 अप्रैल । दिल्ली के निजामुद्दीन में तबलीगी जमात के आयोजन में शामिल हुए कई सदस्यों के कोरोना का शिकार होने के बाद...
- Advertisement -

भुवनेश्वर, 19 फरवरी । भारतीय पुरुष हॉकी टीम का एफआईएच प्रो लीग में बीते चार मैचों में मिडफील्ड का प्रदर्शन शानदार रहा है। टीम इस समय आठ अंकों के साथ अंकतालिका में तीसरे स्थान पर है और इसमें काफी बड़ा योगदान टीम के मिडफील्ड का भी है जो चिंग्लेसाना सिंह के आने के बाद से मजबूत हुआ है।

चिंग्लेसाना सिंह ने दिसंबर 2018 में एफआईएच हॉकी पुरुष विश्व कप में भारत का प्रतिनिधित्व किया था, जहां क्वार्टर फाइनल में नीदरलैंड्स से उसे हार का सामना करना पड़ा था। अर्जुन अवार्ड जीतने वाले चिग्लेसाना सिंह इसके बाद दाएं टखने में चोट के कारण लंबे समय से बाहर हो गए थे।

- Advertisement -

एक बयान में इस मिडफील्डर ने कहा, हॉकी इंडिया सीनियर नेशनल चैम्पियनशिप 2019 में हिस्सा लेने के बाद से मुझे अपने दाएं टखने में हल्का दर्द हो रहा था, लेकिन जब मैं कुछ स्कैन से गुजरा तो पता चला कि फ्रैक्चर है। शुरुआत के कुछ सप्ताह मेरे लिए काफी मुश्किल थे, क्योंकि मेरे दिमाग में विचार चल रहा था कि मैं दोबारा भारत के लिए नहीं खेल पाऊंगा, लेकिन मेरे परिवार, टीम के साथी और प्रशिक्षकों से जो समर्थन मुझे मिला, वो शानदार रहा।

उन्होंने कहा, मैं रिहैब में था और अपनी टीम के साथियों को मैदान पर खेलते हुए देख रहा था, मुझे बहुत बुरा लग रहा था, क्योंकि हॉकी खेलना मुझे अपनी पूरी जिंदगी तक पसंद है। मैं धीरे-धीरे चोट से निकला, और मेरा शुरुआती लक्ष्य नवंबर-2019 में एफआईएच ओलम्पिक क्वालीफायर्स में खेलना था, लेकिन फिर भी कुछ समस्याएं आ गईं।

उन्होंने फिर प्रो लीग में टीम में वापसी की और टीम के प्रदर्शन में बेहतरीन योगदान निभाया।

उन्होंने कहा, अब टीम में वापसी करने के बाद मैं बेहद खुश हूं क्योंकि मैं टीम में रहते हुए टीम की मदद कर सकता हूं और साथ ही युवा खिलाड़ियों को भी मार्गदर्शन दे सकता हूं।

- Advertisement -

–आईएएनएस

- Advertisement -

Latest article

कोविड-19 : नोएडा के 4 होटलों में बनेंगे आइसोलेशन वार्ड

नोएडा, 3 अप्रैल । कोरोना वायरस (Corona Virus) के नोएडा में लगातार बढ़ते मामलों को देखते हुए जिला प्रशासन ने संक्रमित मरीजों को आइसोलेट करने के...

वुहान कोविड-19 का स्रोत नहीं है : अमेरिकी वैज्ञानिक

बीजिंग, 3 अप्रैल । अमेरिकी वैज्ञानिकों द्वारा हाल ही में जारी एक अध्ययन पेपर से जाहिर हुआ है कि कोविड-19 वायरस प्राकृतिक रूप से...

कोरोना के कहर से उबर नहीं पाया बाजार, 2 फीसदी टूटे सेंसेक्स, निफ्टी (राउंडअप)

मुंबई, 3 अप्रैल । कोरोना के कहर सेशेयर बाजार सप्ताह के आखिरी सत्र में भी नहीं उबर पाया और प्रमुख संवेदी सूचकांक सेंसक्स और...

एकजुट होकर कोरोना वायरस (Corona Virus) का मुकाबला सबसे महत्वपूर्ण : यूरोपीय संघ के अधिकारी

बीजिंग, 3 अप्रैल । हाल में चीन ने विदेशों को महामारी की रोकथाम के लिए चिकित्सा सामग्री दान में दी। कुछ पश्चिमी लोगों ने...

चीन ने 54 अफ्रीकी देशों के साथ तकनीकी सहयोग किया

बीजिंग, 3 अप्रैल । चीन ने 54 अफ्रीकी देशों के साथ तकनीकी सहयोग किया और उन्हें तकनीकी सहायता दी। दूसरी तरफ अफ्रीकी देशों में...