Thursday, July 9, 2020

झारखंड के मुख्यमंत्री ने सब्जी बेचने वाली एथलीट की मदद की

Must read

निराशाजनक विदेशी संकेतों से 1942 अंटे टूटा सेंसेक्स, निफ्टी 10541 पर ठहरा (राउंडअप)

मुंबई, 9 मार्च (आईएएनएस)। निराशाजनक विदेशी संकेतों से भारतीय शेयर बाजार में सोमवार को फिर कोहराम का आलम बना रहा और बिकवाली के भारी...

बीकानेर: नेाखा में आग से झुलसे युवक की मौत

बीकानेर। बीकानेर जिले के नोखा (Nokha, Bikaner District) में आपसी रंजिश के चलते जीप पर पैट्रेाल से लगी आग से 2 जने गंभीर रुप...

बीकानेर : सींथल में धारा 144 तक निषेधाज्ञा लागू

बीकानेर(Bikaner News)। उप खण्ड मजिस्ट्रेट बीकानेर रिया केजरीवाल ने कोरोनावायरस संक्रमण (Corona Virus) के प्रसार को रोकने के लिए थाना नापासर (Napasar Police Station)...

शामली में है मोहम्मद साद का आलीशान फार्महाउस

शामली (उप्र), 5 अप्रैल (आईएएनएस)। तबलीगी जमात के प्रमुख मोहम्मद साद का शामली जिले में स्थित कांधला में 24 बीघा में फैला एक बड़ा...
Vishal Rohiwal
Vishal Rohiwal
विशाल रोहिवाल पिछले दस वर्ष से कंटेट राईटिंग व स्वतंत्र पत्रकार के रुप में काम कर रहें है। वर्तमान में हैलो राजस्थान की वेब टीम में सीनियर कंटेंट एडिटर के रुप में अपनी सेवांए दे रहें है।
- Advertisement -

नई दिल्ली, 1 जुलाई (आईएएनएस)। झारखंड में एक महिला एथलीट गीता कुमारी को आर्थिक परेशानियों के कारण रामगढ़ जिले की गलियों में सब्जी बेचने के लिए मजबूर होना पड़ा। राज्य स्तरीय प्रतियोगिताओं में आठ स्वर्ण पदक जीतने वाली गीता लॉकडाउन के बाद आर्थिक परेशानियों के कारण सब्जी बेच रही हैं।

सामाजिक कार्यकर्ता भयाना ने अपनी ट्विटर अकाउंट पर एक वीडियो साझा किया और इसी वीडियो ने झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन का ध्यान अपनी ओर खींचा।

- Advertisement -

इस वीडियो में गीता कहती हैं, मैंने 2011 से लेकर 2019 तक सभी राज्य स्तरीय चैंपियनशिप में स्वर्ण पदक जीते हैं। इसके अलावा मैंने ईस्ट जोन में छह पदक और जूनियर राष्ट्रीय चैंपियनशिप में दो पदक जीते हैं।

उन्होंने कहा, शुरू से ही मेरी आर्थिक स्थिति खराब रही है और लॉकडाउन के बाद यह मेरे और मेरे परिवार के लिए और ज्यादा बढ़ गई है। इसलिए मुझे अपने माता पिता की दुकान पर सब्जी बेचना पड़ा है ताकि परिवार की जरूरतों को पूरा किया जा सके।

गीता ने कहा, झारखंड सरकार ने अब तक मेरी मदद नहीं की और लॉकडाउन के बाद हमारी स्थिति और बुरी होती गई।

मुख्यमंत्री सोरेन ने बाद में रामगढ़ के उपायुक्त संदीप सिंह को गीता की आर्थिक रूप से सहायता करने का निर्देश दिया ताकि वह अपने एथलेटिक्स करियर को आगे बढ़ा सके।

- Advertisement -

मीडिया में जारी खबरों के मुताबिक, एक आधिकारिक विज्ञप्ति में कहा गया है कि गीता को रामगढ़ जिला प्रशासन से 50,000 रुपये और एथलेटिक्स करियर को आगे बढ़ाने के लिए 3,000 रुपये का मासिक वजीफा पाने में मदद मिली।

– -आईएएनएस

- Advertisement -

Latest article

रियल बेतिस ने मैनुएल पेलेग्रीनी को कोच नियुक्त करने की पुष्टि की

मेड्रिड, 9 जुलाई (आईएएनएस)। स्पेनिश लीग ला लीगा क्लब रियल बेतिस ने मैनुएल पेलेग्रीनी को अपना नया कोच नियुक्त करने की गुरुवार को पुष्टि...

रकुल प्रीत सिंह ने पिता संग बैडमिंटन खेला

नई दिल्ली, 9 जुलाई (आईएएनएस)। अभिनेत्री रकुल प्रीत सिंह इस समय अपने परिवार के साथ दिल्ली में समय बिता रही हैं। इस दौरान उन्होंने...

एलएसी से सैनिकों को हटाने पर भारत, चीन सैन्य वार्ता अगले सप्ताह

नई दिल्ली, 9 जुलाई (आईएएनएस)। शीर्ष भारतीय और चीनी सैन्य अधिकारी पूर्वी लद्दाख में पैंगोंग झील और डेपसांग क्षेत्रों में तनाव कम करने के...

यस बैंक मामला : ईडी ने राणा कपूर की 2203 करोड़ रुपये की संपत्ति कुर्क की (लीड-1)

नई दिल्ली, 9 जुलाई (आईएएनएस)। प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने धनशोधन रोकथाम अधिनियम (पीएमएलए) के तहत यस बैंक के संस्थापक राणा कपूर, उनके परिवार, दीवान...

कोविड: दिल्ली में 563 कंटेनमेंट जोन, 24 घंटे में 105 इलाके सील, 45 की मौत

नई दिल्ली, 9 जुलाई (आईएएनएस)। बीते 24 घंटे के अंदर ही दिल्ली में 105 से अधिक नए कोरोना कंटेनमेंट जोन बनाए गए हैं। दिल्ली...