बाबा रामदेव मेला 2019: रामदेवरा में अब वीआईपी पास बंद, कतार में लगकर ही करने होंगे दर्शन

Baba Ramdev Temple Ramdevra, Baba Ramdev Bhajan, Ramdevra Latest News, Baba Ramdevra Mela 2019, Runecha Baba ramdev mela, Jaisalmer Hindi News, VIP Pass will not made in Baba Ramdevra Mela, Baba Ramdev History, Baba Ramdev Family , Ramdev baba ke photo, Ramdev baba ke video, LATEST NEWS, India latest news, ताजा खबर, मुख्य समाचार, बड़ी खबरें, आज की ताजा खबरें, How to reach Ramdevra, Ramdevra Trains, baba Ramdev Mela Special Trains,

रामदेवरा/जैसलमेर। बाबा रामदेवरा के भक्तेां के लिए बड़ी खुशखबरी है कि अब वे बाबा के दर्शनार्थ रामदेवरा आएंगे तो उन्हे दर्शन करने में कोई परेशानी नही होगी, अब यंहा पर वीआईपी कल्चर समाप्त कर दिया गया है। यंहा आने वाले सभी वीआईपी को भी लाइन में लगकर बाबा के दर्शन करने होंगे।

इससे तक रामदेवरा में मेलाधिकारी एक पास जारी करते थे, जिससे बाबा के जेा भक्त पहले से लाइन में लगे होते थे उनके बीच छोटी लाइन लगाकर दर्शन कराए जाते थे और विशेष वीआईपी को भी प्रशासन इसकी विशेष व्यस्था कराते थे। अब जिला कलैक्टर ने निर्देश देकर वीआईपी पास को बंद कर दिया है। इससे मेला परिसर में व्यवस्थाएं और अधिक अच्छी होंगी।
यंहा पर स्थानीय विक्रेता वीआईपी कल्चर की शिकायत कई बार जिला प्रशासन को कर चुके थे और प्रशासन ने अब बेरीकेट्स लगा दि, है, जिससे अब इन लाइनों के बीच नही जा सकेंगे। प्रसाद विक्रेता भी प्रसाद के नाम पर कुछ श्रृद्वालुअेंा केा लाइन के बीच में लगा देते थे। जिसका भी अक्सर यंहा पर विरोध देखा जाता रहा है।

इससे पहले मेलाधिकारी विकास राजपुरोहित ने अधिकारियों के साथ मेला परिसर का निरीक्षण कर जानकारी ली थी, जिसके बाद यह निर्णय लिया गया है।

रामदेवरा आने वाले श्रृद्वालुओं के लिए राहत भरी खबर
अब रामदेवरा में बाबा रामदेव के दर्शन के लिए भादवा माह में लगने वाले मेले में पैदल सहित अन्य वाहनों से आने वालों भक्तेंा को लाइन में लगकर दर्शन करने में आसानी होगी। अब पूरी तरह से वीआईपी पास को बंद कर दिया गया है। यह सेवा बंद होने से कुछ वीआइपी को इससे निर्देश से परेशानी होने वाली है।

गौरतलब है कि इससे पहले देशभर से वीआईपी बाबा रामदेव के दर्शनार्थ यंहा आते थे और इस पास से लबें समय तक अन्य लाइनेां को बंद कर दिया जाता था, जिससे अन्य भक्तेंा को परेशानी के दौर से गुजरना पड़ता था।

 

www.hellorajasthan.com की ख़बरेंफेसबुकट्वीटर और सोशल मीडिया पर पाने के लिए हमें Follow करें.