चित्रों में दिखती है विकास की झलक-पूनम

जिला कल€टर ने किया विकास प्रदर्शनी का उद्घाटन
बीकानेर। राजस्थान दिवस के अवसर पर जिला प्रशासन तथा सूचना एवं जनसंपर्क कार्यालय की ओर से सूचना केन्द्र सभागार में आयोजित तीन दिवसीय विकास प्रदर्शनी का उद्घाटन मंगलवार को जिला कल€टर पूनम ने किया।
इस अवसर पर उन्होंने कहा कि प्रचित्रों में दिखती है विकास की झलक-पूनम 1दर्शनी के माध्यम से राजस्थान में हुए विकास कार्यों की झलक देखने को मिलती है, वहीं बीकानेर के ऐतिहासिक और पर्यटन स्थलों से संबंधित चित्र यहां की बेजोड़ स्थापत्य कला का विहंगम दृश्य प्रस्तुत करते हैं। उन्होंने प्रदर्शनी में लोक कलाकार कृष्ण चंद्र पुरोहित की पगडिय़ों के संकलन की सराहना की तथा कहा कि राजस्थान दिवस के अवसर पर जिला प्रशासन द्वारा अलग-अलग विभागों के सहयोग से विभिन्न कार्यक्रम आयोजित किए जा रहे हैं। इनमें पारम्परिक खेलकूद प्रतियोगिताएं, मंदिरों में विशेष पूजा-अर्चना, सार्वजनिक स्थलों की साज-सज्जा, सांस्कृतिक कार्यक्रम आदि प्रमुख हैं। इसी श्रृंखला में जनसंपर्क विभाग के सहयोग से विकास प्रदर्शनी लगाई गई है।
चित्रों के माध्यम से दर्शाया विकास 29 rajh rajedner3प्रदर्शनी में राजस्थान में हुए विभिन्न विकास कार्य, मुख्यमंत्री जल स्वावलम्बन अभियान से संबंधित जल संरक्षण के कार्य, राज्य स्तरीय गणतंत्र दिवस समारोह तथा जिले को खुले में शौच से मु€ित के लिए प्राप्त विशेष पुरस्कार सहित विभिन्न चित्र प्रदर्शनी में लगाए गए हैं। वहीं बीकानेर के गढ़ गणेश, शिवबाड़ी मंदिर, रतन बिहारी मंदिर, कोलायत के पंच मंदिर, रामपुरिया हवेली, देवीकुंड सागर, गजनेर पैलेस, लालगढ़ पैलेस तथा लंक्ष्मीनाथ मंदिर आदि के चित्रों को प्रदर्शित किया गया है। प्रदर्शनी में सम्पूर्ण स्वच्छता, टीकाकरण, भामाशाह स्वास्थ्य बीमा योजना सहित केन्द्र एवं राज्य सरकार की विभिन्न योजनाओं से संबंधित साहित्य आमजन के अवलोकनार्थ और वितरण के लिए रखा गया है।
साफों और पगडिय़ों से साकार हुई राजस्थानी संस्कृतिचित्रों में दिखती है विकास की झलक-पूनम 2
प्रदर्शनी में कृष्ण चंद्र पुरोहित के राजस्थानी साफों और पगडिय़ों का संकलन विशेष आकर्षण का केन्द्र था। इनमें खिड़किया पाग (विष्णु रूपी दूल्हा और कथावाचक), पाली जिले की गोल पगड़ी, उदयपुर की उमराव पाग, राठौड़ी साफा, चारावाही पगड़ी, गंगाशाही साफा, मेवाती गोल साफा, केसरिया उमराव पगड़ी, डूंगरपुर के आदिवासी क्षेत्र की सांकळ पाग, शेखावाटी का गोल चुनरी साफा, जोधपुरी शाही साफा, चुनरी अंग्रेजी साफे ने आमजन को आकर्षित किया। वहीं माहेश्वरी, सुथार, राजपूत, राजपुरोहित तथा मुस्लिम सहित विभिन्न समाजों की पगडिय़ां भी आमजन के अवलोकनार्थ रखी गईं।
गुरूवार तक खुली रहेगी प्रदर्शनी
सूचना एवं जनसंपर्क अधिकारी हरि शंकर आचार्य ने बताया कि प्रदर्शनी 30 और 31 मार्च को भी आमजन के अवलोकनार्थ खुली रहेगी। इस अवसर पर जिला परिषद के मुख्य कार्यकारी अधिकारी बी. एल. मेहरड़ा, मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. देवेन्द्र चौधरी, अधीक्षण अभियंता सुख लाल मीणा, सूचना एवं जनसंपर्क विभाग के सेवानिवृत संयु€त निदेशक दिनेश चंद्र स€सेना, सेवानिवृत सहायक निदेशक मोहम्मद सलीम, पुस्तकालयाध्यक्ष राजेन्द्र भार्गव, सहायक जनसंपर्क अधिकारी शरद केवलिया सहित पत्रकार, सूचना केन्द्र के पाठक एवं आमजन मौजूद थे।