Top

करौली जिले में पुजारी की हत्या का मामला : पीडि़त परिवार को मुआवजे, सरकारी नौकरी की मांग पर अड़े परिजन, अंतिम संस्कार करने से इंकार, धरना जारी

करौली जिले में पुजारी की हत्या का मामला : पीडि़त परिवार को मुआवजे, सरकारी नौकरी की मांग पर अड़े परिजन, अंतिम संस्कार करने से इंकार, धरना जारी

करौली। जिले के सपोटरा इलाके के बूकना गांव में भूमि विवाद में दबंगों ने (karauli temple priest burned)पुजारी बाबूलाल वैष्णव की जलाकर हत्या कर दी थी। परिवार ने अंतिम संस्कार करने से इनकार कर दिया है। परिवार ने 50 लाख रुपए का मुआवजे और एक सदस्य को सरकारी नौकरी सहित अन्य मांग रखी है। मौके पर भारतीय जनता पार्टी के पदाधिकारियेां ने पीडि़त परिवार की मांग को प्रशासन के सामने रखा। जिनमें से दो महिलाअेां को सपोटरा के अस्पताल ले जाया गया जबकि दो का घर पर ही इलाज जारी है। अभी सांसद किरोड़ी लाल मीणा परिजनेां के साथ धरने पर बैठ गए है। इस दौरान भारतीय जनता पार्टी के जितेंद्र मीणा, संासद रामचरण वोहरा, सांसद किरोड़ी लाल मीणा सहित अनेक नेता मौके पर जुटे रहे।

सांसद किरोड़ी लाल मीणा ने कहा कि इस मामले में शीघ्र कार्रवाई नही होने पर आंदोलन की चेतावनी दी है।

राज्य के डीजीपी ने कहा कि इस मामले में अगर कोई गलती होगी और कोई दोषी होगा तो उनके खिलाफ कार्रवाई की जायेगी। परिवार को सुरक्षा की गारंटी हमारी है।

कांग्रेस के मुख्य सचेतक महेश जोशी ने कहा कि लाश पर राजनीति नही करनी चाहिए। इस पर गिद्व राजनीति करने वालों को बाज आना चाहिए।

परिवार ने कहा

पुजारी के परिवार की और से इस मामले में पटवारी और पुलिसकर्मियों सतिह सभी आरोपियों को शीघ्र गिरफतार करने, परिवार को मुआवजा, सरकारी नौकरी सहित अन्य मांग को नही माने जाने तक अंतिम संस्कार नही करने की चेतावनी दी गई है।

Next Story
Share it