Top

श्रीगंगानगर में 2 घंटे में नई ट्राई -साइकिल पाकर खुशी का ठिकाना नही रहा जसविंदर सिंह का

श्रीगंगानगर में 2 घंटे में नई ट्राई -साइकिल पाकर खुशी का ठिकाना नही रहा जसविंदर सिंह का

श्रीगंगानगर जिले में गांव 1 सी बड़ी तहसील के रहने वाले प्रार्थी जसविंदर सिंह पुत्र गुरुदीप सिंह ग्राम पंचायत -4 सी बड़ी ओड़की निवासी है जो 60 प्रतिशत विकलांग है।

प्रार्थी चलने फिरने में पूरी तरह असमर्थ है और अपने दोनों हाथों के बल नीचे घसीट कर चलते हैं। नीचे जमीन पर घसीट कर चलने से प्रार्थी के शरीर के अंगों में घिसावट होती है जिससे आने वाले समय में और भी परेशानियां खड़ी हो सकती हैं तथा अभी उसको चलने में बेहद परेशानी का सामना करना पड़ता है। प्रार्थी को पूर्व में 60 प्रतिशत विकलांगता का मेडिकल प्रमाण पत्र जारी हुआ है।

प्रार्थी ने बुधवार सुबह ही जिला कलेक्टर महावीर प्रसाद वर्मा को प्रार्थना पत्र देते हुए स्वयं के लिए ट्राई साइकिल उपलब्ध कराए जाने का निवेदन किया था।

जिला कलेक्टर श्री वर्मा ने संज्ञान लेते हुए सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता विभाग में सहायक निदेशक श्री विक्रम सिंह को पत्र लिखते हुए तुरंत ट्राई साइकिल उपलब्ध कराए जाने के निर्देश दिए। इस हेतु प्रार्थना पत्र दिए जाने के 2 घंटे के भीतर ही उन्होंने ट्राई साइकिल उपलब्ध कराई जिसको जिला कलेक्टर महावीर प्रसाद वर्मा ने प्रार्थी को जिला कलक्ट्रेट परिसर में भेंट किया।

ट्राई साइकिल पाकर मानो जसविंदर सिंह को पंख लग गए, वह बेहद ही प्रसन्न हुआ क्योंकि उसकी मुश्किल बेहद आसान हो गई। जसविंदर आसानी से अब कहीं भी जा सकता है और उसकी आने वाली जिंदगी की कठिनाइयां कम हो जाएंगी। वो किसी पर बोझ नहीं बनेगा।

बुधवार सुबह एक अपंग बच्चा बड़ी उम्मीदों के साथ जिला कलेक्ट्रेट परिसर में दाखिल हुआ था और जिला कलेक्टर ने उसकी सभी मुश्किलें आसान कर उसे आज जीवन के नए सफर पर भेजा।

जिला कलेक्टर की इस संवेदनशीलता ने ना सिर्फ उसका जीवन आसान किया बल्कि एक विकलांग बच्चे को जीवन जीने का नया हौंसला भी दिया।

Next Story
Share it