Top

राजस्थान में 15 सितंबर से मानसून होगा सक्रिय, बीकानेर जोधपुर सहित अधिकतर जिलों में होगी बारिश

राजस्थान में 15 सितंबर से मानसून होगा सक्रिय, बीकानेर जोधपुर सहित अधिकतर जिलों में होगी बारिश

जयपुर (Rajasthan News)। प्रदेश में मानसून (Monsoon) की बरसात (Heavy Rain)का कहर एक बार फिर से आने वाला है। सावन माह बीत जाने के बाद आई बरसात किसानों के लिए वरदान साबित हुई। मौसम विभाग ने 15 सितंबर 2020 से एक बार फिर बारिश होने की संभावना है। यह बारिश बीकानेर, जोधपुर, जयपुर, उदयपुर, कोटा, अजमेर एंव भरतपुर संभाग में भारी बारिश की संभावना है।

राजस्थान के इन जिलों में 15 सितंबर से सक्रिय होगा मानसून

मौसम केंद्र जयपुर के निदेशक आरएस शर्मा के बतातें है कि बीकानेर, गंगानगर, हनुमानगढ़ जिलों से मानसून के लौटने की प्रक्रिया की शुरुआत हेा रही है। इसी माह 17 सितंबर से एक और कम दबाव का क्षेत्र बंगाल की खाड़ी और लगने वाले आंध्रप्रदेश के तट पर बन गया है। इसके प्रभाव से राज्य के ऊपर मानसून ट्रफ और पूर्वी हवाएं प्रभावी होंगी। इससे 15-18 सितंबर को बीकानेर जोधपुर संभाग के जिलों में मेघगर्जन के साथ कहीं-कहीं हल्की से मध्यम दर्जे की बारिश की गतिविधियों मे बढ़ोतरी हो सकती है।

उन्होने बताया कि अगले 10 दिनों तक मानसून रहेगा। इसके साथ ही आगामी एक सप्ताह के दौरान पूर्वी राजस्थान के उदयपुर, कोटा, अजमेर, जयपुर सम्भाग के जिलों में भी कहीं-कहीं हल्के से मध्यम बारिश होने की सम्भावना बनी रहेगी।

तपने लगी धरती और बढ़ गया तापमान

राजस्थान में पिछले कई दिनों से मानसून के कम पड़ने का असर साफ देखने को मिला है। प्रदेश के रेगिस्तानी जिलों में गर्मी का कहर एक बार फिर शुरु हो गया। इससे रात का तापमान भी बढ़ने लगा है। बीकानेर, जोधपुर, बाड़मेर, श्रीगंगानगर इत्यादि जिलों में गर्मी और उमस परेशान करने लगी

किसानों को भी है इंतजार

प्रदेश के किसानों को भी बरसात का इंतजार है, बारानी खेतों में अब पानी की जरुरत है। इन दिनों में बरसात होती है तो किसानों को फायदा होगा। राजस्थान के किसान त्रिलोका राम बतातें है कि बरसात से फसलों को जीवनदान मिलेगा।

Next Story
Share it