Top

जोधपुर के जेठू सिंह सिसोदिया ने डिजिटल ज्ञान से बनाई पहचान

जोधपुर के जेठू सिंह सिसोदिया ने डिजिटल ज्ञान से बनाई पहचान

जोधपुरकिसी ने सच ही कहा है कि '' मेहनत और हुनर'' किसी परिचय के मोहताज नही होते। ऐसा ही नाम है राजस्थान के जोधपुर शहर के जेठू सिंह सिसोदिया का, जिन्होने डिटिटल की दुनियंा मे अपना मुकाम हासिल किया है। इनका नाम
राजस्थान के टॉप 10 डिजिटल मार्केटर में आता है नाम, कई सारे आर्टिस्ट के सोशल मीडिया हैंडल्स को कर चुके हैं वेरीफाई।
17 वर्षीय , बेवटा जोधपुर निवासी जेठू सिंह सिसोदिया कहते है कि ''सारी दुनियादारी को इग्नोर करके पूरी लगन व मेहनत के साथ काम पर फोकस करो '' आपकी कामयाबी को कोई नही रोक सकता। जेठू सिंह ने बताया कि करियर की शुरुआत सन 2015 में ग्राफिक डिजाइनिंग से की इसके बाद 2016 में आर्टिस्ट मैनेजमेंट और 2017 में डिजिटल मार्केटिंग के क्षेत्र में काम करना शुरू किया।

इसके बाद तो बस इसी डिजिटल दुनियां से ही नाता जुड़ गया। खास पसंद बन गया कंप्यूटर कोडिंग। इसके साथ ही वेब डिजाइनिंग, वीएफएक्स, ग्राफिक डिजाइनिंग, डिजिटल मार्केटिंग की स्पेशल क्वालिटी है। कंप्यूटर कोडिंग एवं विकिपीडिया एडिटिंग में उनका काफी इंटरेस्ट है।

संगीत में भी रखते है रुचि

जेठू ने अपना डेब्यू हिंदी सांग्स कसूर व तुझे कैसे पता ना चला से किया था। जेठू अपनी इंस्पिरेशन अर्शदीप ढिल्लों तथा मोटिव कमल चैधरी को मानते हैं। संगीत में भी अपनी रूचि रखते हैं और एक सक्सेसफुल म्यूजिकल आर्टिस्ट बनना जेठू का फ्यूचर प्लान है।

जेठू के अचीवमेंट की बात करें तो उनका नाम राजस्थान के टॉप 10 डिजिटल मार्केटिंग में शुमार होता है। वेब ग्राफिक डिजाइनिंग के लिए गूगल ने जेठू को ऐप्रीसिएट भी किया है।

जेठू सिंह ने आगे बताया कि वह अब तक 70 से ज्यादा वेब पेजेस व वेब साइट्स को डिजाईन करवा चुके हैं। 120 से ज्यादा आर्टिस्ट के सोशल मीडिया हैंडल्स को वेरीफाई करवा चुके हैं। इसके साथ ही सॉन्ग प्रमोशन, डिजिटल मार्केटिंग व ग्राफिक डिजाइनिंग को मिलाकर 3500 से ज्यादा प्रोजेक्ट्स को मैनेज कर चुके हैं और उन पर वर्क आउट कर चुके हैं।

उन्होने बताया कि उनके काफी सारे प्रोजेक्ट्स लाइनअप में है जो जल्द ही आने वाले हैं।

Next Story
Share it