Top

राजसमन्द : पंडित दीनदयाल उपाध्याय के जन्म दिवस के अवसर पर कार्यकर्ताओं को दिया वर्चुअल सन्देश

राजसमन्द : पंडित दीनदयाल उपाध्याय के जन्म दिवस के अवसर पर कार्यकर्ताओं को दिया वर्चुअल सन्देश

राजसमन्द। सांसद दीयाकुमारी ने कहा कि एकात्म मानव वाद के प्रणेता रहे (Pandit Deendayal Upadhyay)पंडित दीनदयाल उपाध्याय सही मायने में राष्ट्रवादी थे, जिन्होंने अपना सम्पूर्ण जीवन इस राष्ट्र की सेवा में समर्पित कर दिया। राष्ट्रीयता उनके संस्कार में रची बसी थी।

सांसद दीयाकुमारी ने कहा कि पंडित जी ने जिस भारत की कल्पना की थी और जिस भारत के लिए अपना सर्वस्व समर्पण किया था, आज उसी भारत की आवाज प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के जादुई नेतृत्व में पूरा विश्व सुन रहा है। आज पंडित जी हमारे बीच में नहीं है लेकिन उनकी स्वर्गस्थ आत्मा प्रसन्न हो रही होगी।

लोकसभा क्षेत्र के भाजपा कार्यकर्ताओं को वर्चुअल सन्देश देते हुए प्रदेश महामंत्री सांसद दीयाकुमारी ने कहा कि हमारा अहोभाग्य है कि हम उस राजनीतिक पार्टी से सम्बन्ध रखते हैं जिसको सींचने में पंडित दीनदयाल उपाध्याय, डा. श्यामाप्रसाद मुखर्जी और अटल बिहारी वाजपेयी जैसे महापुरुषों ने अपना खून पसीना बहाया था भारतीय जनसंघ के अध्यक्ष रहे पंडितजी सही मायने में एक चिन्तक और कुशल संगठनकर्ता थे। जिन्होंने सनातनी विचारों को राष्ट्र के अनुकूल बुनते हुए एकात्म मानववाद के विचारों में प्रस्तुत कर, राष्ट्र ही नहीं पूरे विश्व को एक धागे में पिरोने का प्रयास किया है। पार्टी के कार्यकर्ताओं से अपेक्षा है कि वो भी राष्ट्रवाद के मार्ग पर चलकर पंडित के विचारों को आगे बढ़ाएंगे।

Next Story
Share it