राजुवास देश के विश्वविद्यालयों की शीर्ष रैंकिंग में हुआ शामिल

राजुवास देश के विश्वविद्यालयों की शीर्ष रैंकिंग में हुआ शामिल 1बीकानेर। राजस्थान वेटरनरी विश्वविद्यालय ने अपनी स्थापना के अल्पकाल में ही देश के विश्वविद्यालयों की सौ शीर्ष शैक्षिक संस्थानों की सूची में अपना स्थान बनाने में कामयाबी हासिल की हैं। भारत सरकार के केन्द्रीय मानव संसाधन विकास मंत्रालय द्वारा करवाई गई रैंकिंग में राजस्थान वेटरनरी विश्वविद्यालय को यह गौरव प्राप्त हुआ है। विश्वविद्यालय अनुदान आयोग से देश में कुल 744 मान्य विश्वविद्यालय हैं। जिनमें वेटरनरी विश्वविद्यालय 97 वें स्थान पर है। राजस्थान राज्य के सभी 26 विश्वविद्यालयों की रैंकिंग में यह वेटरनरी विश्वविद्यालय दूसरे स्थान पर रहा है। वेटरनरी विश्वविद्याल के कुलपति प्रो. ए.के. गहलोत ने बताया कि पहली बार भारत सरकार के केन्द्रीय मानव संसाधन विकास मंत्रालय द्वारा यह सर्वे एक स्वतंत्र एजेन्सी नेशनल ब्यूरो ऑफ एक्रीडिएशन द्वारा करवाया गया। इस सर्वे के अनुसार देश के पशुचिकित्सा एवं पशु विज्ञान विश्वविद्यालयों की रैंकिंग में राजस्थान वेटरनरी विश्वविद्यालय तीसरे स्थान पर रहा है। रैंकिंग पैरामीटर में टीचिंग, लर्निंग और रिर्सोसेज केटेगेरी में राजस्थान वेटरनरी विश्वविद्यालय पूरे देश में छठे स्थान पर रहा। भारत सरकार के तत्वावधान में किया गया सर्वे तथा विभिन्न शैक्षणिक संस्थाओं से एकत्रित किये आंकडों का सम्पूर्ण दायित्व एवं जिम्मेदारी भारत सरकार की थी। कुलपति प्रो. गहलोत ने टीम राजुवास की मेहनत, लगन और निष्ठा के कारण मिली इस उपलब्धि के लिए उन्हें बधाई दी है।