Top

बीसीबी ने एफआईसीए रिपोर्ट को बताया गलत

बीसीबी ने एफआईसीए रिपोर्ट को बताया गलत

ढाका, 4 अगस्त (आईएएनएस)। बांग्लादेश क्रिकेट बोर्ड (बीसीबी) ने फ्रेंचाइजी टूर्नामेंट के अनुबंध और आईसीसी टूर्नामेंट में खिलाड़ियों के वेतन संबंधित एफआईसीए के दावों को गलत बताया है।

एफआईसीए ने अपनी रिपोर्ट में बताया था कि पूरे विश्व की क्रिकेट लीगों में वित्तीय गड़बड़ियां हैं और कई खिलाड़ियों को वेतन भी नहीं मिला। इन लीगों में बांग्लादेश प्रीमियर लीग (बीपीएल) भी एक है।

बीसीबी ने एक बयान में कहा, बीसीबी ने नोटिस किया है कि फेडरेशन आफ इंटरनेशनल क्रिकेटर्स एसोसिएशन (एफआईसीए) ने आईसीसी के इवेंट में खिलाड़ियों के वेतन संबंधित और फ्रेंचाइजी टूर्नामेंट के आयोजन के बारे में जो दावे किए हैं वो गलत और भ्रामक हैं।

बयान के मुताबिक, एफआईसीए ने अपनी प्रेस विज्ञप्ति में पुरुष वैश्विक रोजगार रिपोर्ट-2020 में बांग्लादेश प्रीमियर लीग को आईसीसी से मान्यता प्राप्त उन लीगों में रखा है जहां देर से भुगतान और भुगतान न करने की समस्या है।

बीसीबी ने हालांकि इस दावे को गलत बताया है और कहा है कि 170 अनुबंधित खिलाड़ियों में सिर्फ चार खिलाड़ियों के साथ भुगतान संबंधी मुद्दा रहा है।

बयान में लिखा है, इस मामले में बीसीबी साफ कर देना चाहती है कि भुगतान संबंधी मुद्दे सिर्फ चार लोगों के साथ हैं.. जिसमें तीन विदेशी खिलाड़ी और एक कोच, एक ही टीम के जिन्होंने 2018 में हुए लीग के छठे संस्करण में हिस्सा लिया था।

बयान में कहा गया है, यह उस टूर्नामेंट में इकलौता मामला है जिसमें 170 स्थानीय और विदेशी खिलाड़ी और सपोर्ट स्टाफ अनुबंधित हैं।

बीसीबी इस बात को सिरे से खारिज करती है कि आईसीसी टूर्नामेंट में खेलने वाले खिलाड़ियों को भुगतान नहीं किया गया है। बीसीबी ने इसे तथ्यों को गलत तरीके से पेश करना बताया है। बीसीबी ने अपने इनसेंटिव सिस्टम का हवाला दिया है जिसमें खिलाड़ियों को आईसीसी टूर्नामेंट में उनके अच्छे प्रदर्शन के लिए वेतन के अलावा अलग से अवार्ड दिया जाता है।

बयान के मुताबिक, एफआईसीए ने अपने बयान में बीसीबी को उन पूर्ण सदस्यों में से एक बताया है जिसने अपने खिलाड़ियों को आईसीसी टूर्नामेंट्स की ईनामी राशि नहीं दी है। यह तथ्यों को गलत तरीके से पेश करना है। बीसीबी ने आईसीसी के सभी टूर्नामेंट्स का भुगतान अपने सभी खिलाड़ियों को किया है जिसमें आईसीसी का आखिरी टूर्नार्मेंट विश्व कप-2019 शामिल है।

बयान में कहा गया है, यह बताया जा सकता था कि बीसीबी ने कई मौकों पर आईसीसी टूर्नामेंट्स में खिलाड़ियों को उनके योगदान के लिए इनामी राशि के अलावा भी अतिरिक्त इनसेंटिव दिए हैं।

--आईएएनएस

Next Story
Share it