ब्रॉड ने 500 विकेट लेकर अपनी बात को साबित किया : चैपल

ब्रॉड-ने-500-विकेट-लेकर-अपनी-बात-को-साबित-किया-:-चैपल

मैनचेस्टर 2 अगस्त (आईएएनएस)। इंग्लैंड के तेज गेंदबाज स्टुअर्ट ब्रॉड ने साउथैम्पटन में वेस्टइंडीज के खिलाफ खेले गए पहले टेस्ट मैच में से बाहर किए जाने के बाद जिस तरह से अपने आप को संभाला उससे आस्ट्रेलिया के पूर्व कप्तान इयान चैपल काफी प्रभावित हैं।

इंग्लैंड पहले टेस्ट मैच में हार गई थी लेकिन इसके बाद उसने सीरीज के बाकी दोनों मैच जीत सीरीज अपने नाम की। इन दोनों मैचों में जीत में अहम रोल निभाने वाले ब्रॉड को प्लेयर ऑफ द सीरीज चुना गया था।

चैपल ने ईएसपीएनक्रिकइंफो में अपने कॉलम में लिखा है, मीडिया ट्रेनिंग के इस युग में ब्रॉड ने इंटरव्यू में वेस्टइंडीज के खिलाफ खेले गए पहले टेस्ट मैच से बाहर किए जाने पर ईमानदारी से अपनी बात रखी। वह चयनकर्ताओं पर नहीं बरसे उन्होंने सिर्फ अपनी निराशा जाहिर की और फिर अगले दो मैचों में बताया कि वो लोग गलत क्यों थे।

उन्होंने लिखा, बाहर जाने के बाद इस तरह की सकारात्मक प्रतिक्रिया से कोई भी चयनकर्ता खुश होगा।

मैनचेस्टर में खेले गए तीसरे मैच में ब्रॉड ने खेल के सबसे लंबे प्रारूप में 500 विकेट पूरे किए और वह ऐसा करने वाले इंग्लैंड के दूसरे और दुनिया के सातवें गेंदबाज हैं।

चैपल ने लिखा, 500वां विकेट लेना ब्रॉड के लिए अपने आप को साबित करने के लिहाज से काफी संतोषजनक रहा होगा। हैरानी वाली बात यह है कि उनका 500वां शिकार क्रैग ब्रैथवेट बने थे जो उनके जोड़ीदार जेम्स एंडरसन के भी 500वें शिकार थे।

उन्होंने लिखा, टेस्ट में 500 विकेट क्लब के सात सदस्य शानदार हैं। इसमें दो लेग स्पिनर, एक ऑफ स्पिनर, एक स्विंग गेंदबाज और तीन सीमर हैं। एक शख्स की कमी है और वो है एक तूफानी गेंदबाज। उसका न होना बताता है कि ऐसा होना शरीर के लिए कितना मुश्किल है।

–आईएएनएस